UP Top Ten News: शिक्षकों की जांची जाएगी गुणवत्ता, कम अंक मिले तो शासन को भेजी जाएगी रिपोर्ट

परिषदीय विद्यालयों में पढ़ाई की गुणवत्ता को सुधारने के लिए अब प्रधानाध्यापकों और शिक्षकों के वार्षिक गोपनीय प्रविष्टी (एसीआर) का 100 नंबरों के आधार पर कड़ाई से मूल्यांकन किया जाएगा। 50 प्रतिशत के कम नंबर मिलने पर शिक्षकों की रिपोर्ट शासन को भेजी जाएगी।

By: Karishma Lalwani

Published: 28 Oct 2020, 03:04 PM IST

कम अंक मिले तो शासन को भेजी जाएगी रिपोर्ट

गोरखपुर. परिषदीय विद्यालयों में पढ़ाई की गुणवत्ता को सुधारने के लिए अब प्रधानाध्यापकों और शिक्षकों के वार्षिक गोपनीय प्रविष्टी (एसीआर) का 100 नंबरों के आधार पर कड़ाई से मूल्यांकन किया जाएगा। 50 प्रतिशत के कम नंबर मिलने पर शिक्षकों की रिपोर्ट शासन को भेजी जाएगी। अपर मुख्य सचिव रेणुका कुमार ने गोरखपुर के बेसिक शिक्षा विभाग को लेकर यह आदेश दिया है। आदेश के मुताबिक ऑपरेशन कायाकल्प, छात्र और शिक्षक उपस्थिति, लर्निंग आउटकम समेत नौ बिंदुओं पर शिक्षकों का मूल्यांकन होगा। पहले शिक्षक सेल्फ अप्रेजल भरेंगे। उसके बाद खंड शिक्षा अधिकारी इनकी समीक्षा कर बेसिक शिक्षा अधिकारी को अपनी रिपोर्ट देंगे।

किसान पथ पर दो ट्रकों में टक्कर, एक की मौत

लखनऊ. राजधानी में चिनहट थाना क्षेत्र में अनौरा गांव के पास किसान पथ पर बुधवार तड़के आलू लदा ट्रक अनियंत्रित होकर गेंहू लदे ट्रक से टकरा गया। घटना में ट्रक में बैठे युवक की मौत हो गई। जबकि ट्रक चालक व परिचालक ट्रक को छोड़कर भाग निकले। इससे कुछ देर के लिए किसान पथ पर जाम की स्थित बन गई। पुलिस ने क्रेन की मदद से ट्रक में फंसे युवक के शव को निकालने के साथ दुर्घटना ग्रस्त वाहनों को किनारे हटाया। इसके बाद जाम की स्थिति खत्म होने पर यातायात शुरू हो सका।

पीएम आवास निर्माण को लेकर घूसखोरी, संयुक्त सचिव करेगी जांच

लखनऊ. पीएम आवास योजना शारदानगर को लेकर मामला सामने आया है। करीब 2300 पीएम आवासों का निर्माण शारदानगर विस्‍तार में किया जा रहा है। घूसखोरी का आरोप निर्माण करने वाले ठेकेदार ने लगाया है। ठेकेदार का आरोप है कि काम करने के बावजूद एलडीए के अफसर पेमेंट रोक रहे हैं। घूस नहीं मिलने की वजह से पेमेंट रोकने का आरोप ठेकेदार लगा रहा है। उच्‍च स्‍तरीय जांच, कठोर कार्रवाई की मांग की है। निर्माण कंपनी प्रताप हाइट्स की की शिकायत के बाद जांच शुरू कर दी गई है। एलडीए सचिव पवन कुमार गंगवार ने जांच के आदेश दिए है। संयुक्‍त सचिव ऋतु सुहास को जांच सौंपी गई है। ऋतु सुहास ने बताया कि वे एलडीए की सतर्कता अधिकारी हैं इसलिए वे ही इस प्रकरण की जांच करेंगी। वे दोनों पक्ष से बात करेंगी।

विकास दुबे और उससे जुड़े लोगों पर कार्रवाई

कानपुर. विकास दुबे के भाई समेत बिकरू कांड से जुड़े आठ असलहा लाइसेंस को डीएम कोर्ट ने निरस्त कर दिया है। सभी असलहों को जब्त कर लिया गया है।चौबेपुर पुलिस ने विकास दुबे के भाई, परिवार समेत 29 के असलहा लाइसेंस निरस्त करने की संस्तुति की थी। सभी की सुनवाई डीएम कोर्ट में चल रही थी। पूर्व डीएम डॉ. ब्रह्मदेव राम तिवारी की कोर्ट ने 10 असलहा लाइसेंस को निरस्त किया था। जिलाधिकारी आलोक तिवारी की कोर्ट ने आठ असलहा लाइसेंस को निरस्त कर दिया।अब तक 18 असलहा लाइसेंस निरस्त हो चुके हैं। 11 असलहा लाइसेंसों पर डीएम कोर्ट में सुनवाई हो रही है।

औरैया में मिला लापता लड़की का शव

औरैया. उत्तर प्रदेश के औरैया में लापता नाबालिग लड़की का शव अर्धनग्न हालत मिलने से हड़कंप मच गया। पीड़ित के परिजनों ने रेप की आशंका जताई है। फिलहाल, मौके पर पहुंचे अधिकारियों ने मामले की तहकीकात शुरू कर दी है। इसके साथ ही शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। बता दें कि अजीतमल कोतवाली क्षेत्र के पुरवा झावर में एक 12 साल की छात्रा खेत में बकरी चराने गई थी। छात्रा दोपहर बाद बकरी चराने के लिए खेतों पर गई थी। जब देर शाम तक छात्रा नहीं लौटी तो परिजनों ने खोजबीन की। इसके बाद एक बाजरे खेत में उसका नग्न अवस्था में शव बरामद हुआ।

शादी से इंकार करने पर महिला को दफनाया

आगरा. शादी से इनकार करने पर एक विधवा की इस नृशंसता से हत्या की गई कि दिल दहल गया। महिला के 14 टुकड़े कर अलग-अलग जगह दफना दिए गए। हत्यारोपी गिरफ्तार किया गया। पूछताछ में वो साइको किलर निकला। उसने पहले भी तीन महिलाओं की हत्या की हैं, जिसमें उसकी मां भी शामिल है, जिसे उसने जिंदा जला दिया था। मेरठ जैसी दिल दहला देने वाली ये घटना मैनपुरी के किशनी में हुई। 11 अक्टूबर को किशनी के ग्राम बरुआ नदी में मिला नरमुंड इटावा के भरथना निवासी विधवा का था, जिसे रिश्ते के भतीजे सर्वेश ने आवास देने के नाम पर बुलाया। अपने मामा से शादी का दबाव बनाया। नहीं मानने पर 14 टुकड़े कर एक बंजर जमीन पर दबा दिए। पुलिस ने हत्यारोपी और उसके मामा को मुठभेड़ में गिरफ्तार कर इसका खुलासा किया।

लॉन्च हुई किडनी से स्टोन निकालने की दवा

लखनऊ. किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी (केजीएमयू) व उत्तरी पूर्वोत्तर रेलवे हॉस्पिटल ने नेशनल बोटैनिकल रिसर्च इंस्टीट्यूट संग मिलकर किडनी से स्टोन निकालने की दवा खोज निकाली है। इस दवा को लॉन्च भी कर दिया गया है। उत्तरी पुर्वोत्तर रेलवे हॉस्पिटल में यूरोलॉजी के विभागाध्यक्ष डॉक्टर सलिल टंडन न कि का कहना है कि केजीएमयू के 90 मरीजों पर दवा का क्लीनिकल ट्रायल पूरा कर लिया गया है। इनमें 59 पुरुष व 31 महिला मरीज शामिल थे। मरीजों का आयु वर्ग 18 वर्ष से ऊपर और 60 वर्ष से नीचे रखा गया था। दवा लॉन्च करने से पहले किए गए शोध में तीन माह तक दवा की डोज देने के बाद देखा गया कि 75 फीसदी स्टोन खत्म हो चुका है। 75 मरीज ऐसे थे जिनके दोनों किडनी में पथरी की समस्या थी। इनमें से 65 फीसद मरीजों ने लक्षणों में भी आराम होने की बात बताई।

पटरी दुकानदारों को 10-10 हजार का ऋण

अमेठी. सड़क फुटपाथ पर ठेला, गुमटी आदि छोटे-छोटे व्यवसाय करने वाले दुकानदार लॉकडाउन के दौरान बेरोजगार हो गए थे। ऐसे दुकानदारों को पुन: रोजगार स्थापित कराने के लिए सरकार ने प्रधानमंत्री स्ट्रीट वेंडर्स आत्मनिर्भर निधि योजना चलाई। योजना के तहत ठेला, गुमटी आदि दुकानदारों को 10 हजार रुपये का ऋण देने की व्यवस्था है। कलेक्ट्रेट सभागार में ऋण स्वीकृत दुकानदारों को प्रमाण पत्र देने के लिए कार्यक्रम का आयोजन किया गया। वर्चुअल संवाद के माध्यम से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लाभार्थियों को संबोधित किया। कार्यक्रम में शामिल जिलाधिकारी ने कहा कि इस योजना का लाभ सभी छोटे पथ विक्रेताओं, सड़क के किनारे रेहड़ी, पटरी दुकान वालों को प्रदान किया जा रहा है। जिसे ऋण के लाभार्थी एक वर्ष में मासिक किस्तों में चुका सकते हैं। ऋण का भुगतान करने वाले स्ट्रीट वेंडर्स को सात प्रतिशत का वार्षिक ब्याज सब्सिडी के तौर पर उनके अकाउंट में सरकार की ओर से ट्रांसफर किया जाएगा।

आग से चार घर जलकर राख

लखीमपुर खीरी. ईसानगर थाना क्षेत्र के गांव मुरौनपुरवा मजरा पकरिया में अज्ञात कारणों से आग लग गई जिसमें चार घर जलकर राख हो गए। पकरिया के मजरा मुरौनपुरवा में अचानक आग लग गई जिसमें मुरौनपुरवा निवासी रामनरेश, गोकरन, सुनील व सुभाष के घर जल गए। आग इतनी भीषण थी कि चंद मिनटों में चारों घरों की गृहस्थी समेत अन्य जरूरी कागजात भी जल गए। आग लगते ही भुक्तभोगी गृहस्वामी ने शोर मचाया। जिसपर इकट्ठा हुए ग्रामीण जब तक आग पर काबू पाते आग ने विकराल रूप ले लिया। पीड़ित ग्रामीणों ने बताया कि लगी भीषण आग में गृहस्थी का सारा सामान जलकर राख हो गया। ग्रामीण के घर में रखा पिपरमिंट का तेल, राशन सहित कपड़े भी जल गए। आग लगने का कारण पता नहीं चल सका।

बेटे ने लगाई फांसी, सदमे में चल बसी मां

कानपुर. बर्रा में रोज-रोज की कहासुनी ने एक परिवार को हमेशा के लिए मौत के आगोश में सुला दिया। 70 वर्षीय उमा मिश्रा अपने इकलौते बेटे उमेश (36) के साथ रहती थीं। उमेश एक फैक्ट्री में सिक्योरिटी गार्ड का काम करता था। स्थानीय लोगों के मुताबिक उमेश नशे का लती था और आए दिन मां से रुपए मांगता था। इसे लेकर कई बार उमा से झगड़ा भी कर चुका थ। रोज की तरह फिर दोनों में झगड़ा हुआ जिसके बाद उमेश ने कमरे में जाकर पंखे के कुंडे से लटक गया। थोड़ी देर बाद जब उमा उसके कमरे में पहुंचीं तो बेटे का शव फंदे से लटकता देख चीखना शुरू कर दिया। आवाज सुनकर आस-पड़ोस के लोग पहुंचे और कंट्रोल रूम पर सूचना दी। उमेश की मौत के बाद वह काफी देर तक रोती-बिलखती रहीं और अचानक उनकी तबीयत बिगड़ने लगी। लोगों ने उन्हें बेड पर लिटाया, देखते ही उनकी भी सांसें थम गईं।

ये भी पढ़ें: लॉन्च हुई किडनी से स्टोन निकालने की दवा, एनबीआरआई ने की दवा की खोज

pm modi
Show More
Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned