UP Top Ten News: प्रधानमंत्री रोजगार योजना के नाम पर ठगी, खाते से निकले लाखों रुपये

किसान आंदोलन को लेकर उत्तर प्रदेश पुलिस हाई अलर्ट पर है। प्रदेश के डीजीपी एचसी अवस्थी ने हरियाणा सीमा से लगे जिलों की पुलिस को विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश दिए हैं।

By: Karishma Lalwani

Published: 27 Nov 2020, 02:31 PM IST

प्रधानमंत्री रोजगार योजना के नाम पर ठगी

लखनऊ. लखनऊ में प्रधानमंत्री रोजगार योजना के तहत एयरपोर्ट पर नौकरी का झांसा देकर लालकुआं निवासी अजय कुमार से साबइर ठगों ने ढाई लाख रुपये हड़प लिए। पीड़ित अजय ने बताया कि वह एक निजी कंपनी में नौकरी करता था लेकिन लॉकडाउन के चलते काम छिन गया। अगस्त में उसने प्रधानमंत्री रोजगार योजना के विज्ञापन का लिंक देखकर अपने मोबाइल फोन पर ही फार्म भरा। फार्म भरते ही आरोही नाम की एक युवती ने उसके नंबर पर कॉल करके खुद को प्रधानमंत्री रोजगार योजना के कार्यालय की कर्मचारी बताया। ठग ने कहा कि योजना में उसका चयन हो गया है लेकिन पंजीकरण के लिए 2500 रुपये शुल्क जमा करना होगा। इसके लिए ठग युवती ने उसे गूगल का एक खाता संख्या दी। ठगों ने पीड़ित से पंजीकरण शुल्क, वेशभूषा, चरित्र सत्यापन और करोना जांच के बहाने गूगल खाते में रुपया जमा कराया और फिर फोन बंद करके गायब हो गए। आरोप है कि पीड़ित अजय से ठगों ने ढाई लाख रुपये जमा कराया और फिर फोन बंद कर गायब हो गए।

अगले साल सम्मानित किए जाएंगे माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के मेधावी

लखनऊ. माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की हाई स्कूल और इंटरमीडिएट परीक्षा 2020 के मेधावियों को अब अगले साल ही सम्मानित किया जाएगा। बेसिक, माध्यमिक और उच्च शिक्षा विभाग में शिक्षण के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले शिक्षकों को भी 2021 में ही सम्मानित किया जा सकेगा। माध्यमिक शिक्षा विभाग हाई स्कूल और इंटर में प्रदेश और जिले में प्रथम दस स्थान प्राप्त करने वाले मेधावियों को सम्मानित किया जाता है। वहीं, बेसिक और माध्यमिक शिक्षा विभाग की ओर से शिक्षक दिवस पर हर जिले में एक-एक शिक्षक को राज्य अध्यापक व राज्य शिक्षक पुरस्कार से सम्मानित किया जाता है। माध्यमिक शिक्षा निदेशक विनय कुमार पांडेय ने बताया कि शासन से सम्मान समारोह आयोजन की मंजूरी नहीं मिली है। कोरोना संक्रमण बढ़ने के कारण इस साल समारोह नहीं हो सकेगा। अगले साल ही उत्कृष्ट शिक्षकों और मेधावी विद्यार्थियों को सम्मानित किया जाएगा।

पशुपालन विभाग घोटाले मामले में अगली सुनवाई तीन को

लखनऊ. पशुपालन विभाग में हुए करोड़ों रुपये के फर्जीवाड़े में फंसे निलम्बित डीआईजी अरविन्द सेन की अग्रिम जमानत याचिका पर हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच में सुनवाई हुई। राज्य सरकार की ओर से याची की अग्रिम जमानत के विरोध में जवाबी हलफनामा दाखिल किया गया। न्यायालय ने याची पक्ष को तीन दिनों में प्रत्युत्तर दाखिल करने का निर्देश दिया है। मामले की अग्रिम सुनवाई के लिए तीन दिसम्बर की तिथि नियत की गई है। यह आदेश न्यायमूर्ति विवेक चौधरी की एकल सदस्यीय पीठ ने अरविन्द सेन की याचिका पर दिया। इस मामले पर बहस के दौरान सरकारी वकील ने बताया कि जवाबी हलफनामा तैयार है और आज ही याची को उसकी प्रति दे दी जाएगी।

कानपुर से लखनऊ जा रही बस हादसे का शिकार

लखनऊ. कानपुर शहर के सीमवार्ती जिला उन्नाव में शुक्रवार की सुूबह दर्दनाक हादसा हाे गया। जिसमें प्रतापगढ़ डिपो की रोडवेज बस टोल प्लाजा के पास एक खड़े ट्रक से भिड़ गई। हादसे में बस में बैठी 14 सवारियां मामूली रूप से घायल हो गईं। प्रतापगढ़ डिपो की बस शुक्रवार की भोर पहर नबाबगंज टोल प्लाजा के आगे सड़क पर खड़े ट्रक से भिड़ गई। बस कानपुर से लखनऊ जा रही थी। हादसा होते ही यात्रियों में चीख-पुकार मच गई। घटना होते ही मौके पर मौजूद लोगों ने राहत कार्य शुरू कर दिया। सभी घायलों को एंबुलेंस से सीएचसी लाया गया। जहां से प्राथमिक उपचार के बाद सभी अन्य वाहनों से चले गए जबकि, चालक गोपी, प्रतापगढ़ निवासी धीरज और लखनऊ निवासी शाहबाज को गंभीर हालत में जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया।

31 दिसंबर तक चलेंगी सभी पूजा स्पेशल ट्रेनें

गोरखपुर. यात्रियों की सुविधा के लिए 30 नवम्बर तक सभी पूजा स्पेशल ट्रेनों का संचलन रेलवे बोर्ड ने 31 दिसम्बर बढ़ा दिया है। वाणिज्य विभाग ने पिछले सप्ताह सभी ट्रेनों को चार महीने तक बढ़ाने का प्रस्ताव दिया था। इसके एक महीने बढ़ जाने से यात्रियों को काफी सहूलियत होगी। दशहरा के समय पहले से ही दीपावली और छठ में होने वाली यात्रियों की भीड़ को देखते हुए रेल बोर्ड की सहमति पर रेल प्रशासन ने मुम्बई, दिल्ली, हटिया, कोलकाता, बंगलूरू के लिए 30 नवम्बर तक पूजा स्पेशल ट्रेनें चलाने की घोषणा की थी। सभी ट्रेनें रूटीन, पूजा स्पेशल नाम से चलाई जा रही है। कोरोना के चलते रेलवे रूटीन ट्रेनों को कोविड और पूजा स्पेशल नाम से चला रहा है। प्रस्ताव पर मुहर लग जाने से दिल्ली, मुम्बई, कोलकाता, त्रिवेंद्रम, शालीमार जैसे शहरों में जाने के लिए सुविधा हो जाएगी।

पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति के खिलाफ एक और एफआईआर

लखनऊ. पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति के खिलाफ राजधानी पुलिस ने एक और आरोप पत्र न्यायालय में दाखिल किया है। इस बार गोमती नगर विस्तार थाने में दर्ज जालसाजी समेत अन्य धाराओं में एफआइआर पर कार्यवाही की गई है। गोमती नगर के खरगापुर में रहने वाले ब्रिज भवन चौबे पूर्व मंत्री की निजी कंपनी में निदेशक थे। ब्रिज भवन पूर्व मंत्री के बेहद करीबी थे। ब्रिज भवन ने गोमती नगर विस्तार थाने में पूर्व मंत्री के खिलाफ दुष्कर्म की रिपोर्ट दर्ज कराने वाली चित्रकूट निवासी महिला, गायत्री प्रजापति व उनके बेटे अनिल के खिलाफ 16 सितंबर को एफआइआर दर्ज कराई थी। ब्रिज भवन का आरोप था कि अनिल प्रजापति ने उनसे कह कर मुकेश नाम के व्यक्ति की संपत्ति पूर्व मंत्री पर दुष्कर्म का आरोप लगाने वाली महिला के नाम दर्ज करवाई थी। खास बात यह है कि ब्रिज भवन ने पूर्व मंत्री पर अलग-अलग लोगों के नाम से बेनामी संपत्ति खरीदने का आरोप लगाया था।

फोटो खिंचवाकर 13 लाख से ठगे गए बाबा

कानपुर. तिलक समारोह के दौरान वर के साथ फोटो खिंचाना वधु के बाबा को काफी महंगा पड़ गया। दरअसल, विजय नगर निवासी नरेंद्र कुमार द्विवेदी की बेटी मधुलिका का तिलकोत्सव गुरुवार की शाम जूही कलां स्थित पुष्पांजलि गेस्ट हाउस में आयोजित किया गया था। नरेंद्र के मुताबिक रुपये व जेवरात से भरा बैग उन्होंने अपने पिता जगत प्रकाश द्विवेदी को पकड़ा रखा था। तिलकोत्सव के दौरान वर के साथ फोटो खिंचवाने के लिए उनके पिता को स्टेज पर बुलाया गया तो उन्होंने बैग काे सोफा पर रख दिया और स्टेज पर आ गए। महज दो मिनट बाद जब वह नीचे उतरे दो सोफा पर से बैग गायब था। आरोप है कि इस दौरान दो अज्ञात वहां देखे गए थे। आशंका यही जताई जा रही है कि उन्हीं दोनों किशोरों ने इस घटना को अंजाम दिया।

केजीएमयू में 50 से अधिक इंटर्न डाक्टर्स पर एफआइआर

लखनऊ. केजीएमयू में इंटर्न डॉक्टर्स अपनी स्टायफंड बढ़ाने के लिए धरना दिया है। इटर्न ने चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेशा खन्ना, चिकित्सा शिक्षा राज्य मंत्री संदीप सिंह व कानून मंत्री बृजेश पाठक का घेराव किया। इसके बाद कोविड प्रोटोकॉल उल्लंघन के मामले में 50 से अधिक अज्ञात पर पुलिस ने एफआइआर दर्ज कर ली है। केजीएमयू में 300 से अधिक इंटर्न हैं। इनमें 250 एमबीबीएस व 70 बीडीएस इंटर्न हैं। इंटर्न डॉक्टरों ने कई बार संस्थान प्रशासन और शासन को भत्ता बढ़ोतरी को लेकर पत्र लिखा था। इंटर्न को प्रतिमाह 7500 रुपये स्टायफंड मिल रहा है, वे इससे खुश नहीं हैं। उनका दावा है कि केंद्रीय संस्थानों में 23,500 रुपये इंटर्न को स्टायफंड दिया जा रहा है। ऐसे में वह लगातार अपनी मांग पर अड़े हुए हैं।

रेल कर्मियों को राहत, निजी अस्पताल में करा सकेंगे इलाज

गोरखपुर. गंभीर बीमारी होने पर अब रेल कर्मी व उनके परिजनों का इलाज रेलवे प्रशासन के पैनल में शामिल निजी अस्पतालों में भी हो सकेगा। रेलवे बोर्ड ने अपने आदेश को वापस लेते हुए पैनल में शामिल अस्पतालों में भी इलाज की अनुमति दे दी है। खर्चों में कटौती के लिए रेलवे बोर्ड ने दो नवंबर को भारतीय रेलवे स्तर के चिकित्सा निदेशकों के हुई बैठक में निजी अस्पतालों की जगह सरकारी और प्रधानमंत्री आयुष्मान योजना से जुड़े निजी अस्पतालों में कर्मचारियों और उनके परिजनों का इलाज कराने के लिए जोर दिया था। बैठक के क्रम में बोर्ड ने 23 नवंबर को रेलवे बोर्ड ने आदेश भी जारी कर दिया था। बोर्ड ने कर्मचारियों के रेफर केस और आने वाले खर्चों की ऑडिट और समीक्षा कराने के लिए भी जोनल कार्यालयों को निर्देशित किया था।

तिलक समारोह में भोजन करना पड़ा भारी

बाराबंकी. मांगलिक कार्यक्रम उस वक्त मातम कार्यक्रम में बदल गया जब कार्यक्रम में भोजन करने वाले लोग बीमार हो गए। फ़ूड प्वाइजनिंग से हुई इस बीमारी से एक नौ वर्षीय ब बच्ची की दुखद मृत्यु हो गयी। अचानक बीमार लोगों का इलाज करने पहुंची मेडिकल की टीम ने भोजन के शिकार दो दर्जन से अधिक लोगों का उपचार किया। बाराबंकी के थाना रामनगर इलाके के सेमराय गाँव में हुए एक तिलक समारोह में भोजन करना लोगों को उस समय भारी पड़ गया जब एक- एक कर लोग बीमार होने लगे। उल्टी दस्त से परेशान हो रहे लोगों का इलाज कराने पहुँची मेडिकल टीम ने दो दर्जन से अधिक लोगों का उपचार कर उन्हें खतरे से बाहर निकाला। इलाज के दौरान एक नौ वर्षीय बच्ची की दुखद मृत्यु हो गयी लेकिन शेष लोगों को स्वास्थ्य लाभ मेडिकल टीम ने प्रदान किया।

ये भी पढ़ें: पीलीभीत के टाइगर रिजर्व के बाद दुधवा में बढ़ गया हाथियों का कुनबा, तीन साल में दोगुना से ज्यादा हुई तादाद

Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned