मौसम का असर हवा की सेहत पर, पड़ा कोहरा तो बढ़ा प्रदूषण, मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट

सामान्य गति से आगे बढ़ने वाली सर्दी ने देर से ही सही लेकिन अपना असर दिखाना शुरू कर दिया है

By: Karishma Lalwani

Published: 27 Nov 2019, 12:20 PM IST

लखनऊ. सामान्य गति से आगे बढ़ने वाली सर्दी ने देर से ही सही लेकिन अपना असर दिखाना शुरू कर दिया है। सोमवार रात न्यूनतम तापमान 13.9 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया। इसके बाद मंगलवार सुबह राजधानी लखनऊ घने कोहरे की चादर में लिपटा रहा। मंगलवार को न्यूनतम पारा 19 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया। वहीं बुधवार सुबह भी लोगों को ठंड बढ़ने का एहसास हुआ। सर्दी के मौसम में बदलाव का होने का सीधा असर हवा की सेहत पर पड़ा है। नजीजतन मंगलवार को 377 पॉइंट एक्यूआई के साथ लखनऊ देश का चौथा सबसे प्रदूषित शहर रहा। वहीं बुधवार को शहर का एक्यूआई 341 दर्ज किया गया।

दिल्ली में वायु प्रदूषण के भयावह असर को देखने के बाद भी अफसर बेफिक्र हैं। लखनऊ के हालात प्रदूषण के मामले में दिल्ली से भी खराब हैं। सेंट्रल पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड की रिपोर्ट के अनुसार लखनऊ देश का चौथा सबसे प्रदूषित शहर है। मंगलवार की ही बात करें तो शहर का एक्यूआई 377 प्वाइंट रहा। यह दिल्ली के मुकाबले काफी ज्यादा था। दिल्ली का एक्यूआई 270 था। इसके बाद पटना व मुजफ्फरपुर दूसरे स्थान पर रहा। बढ़ते प्रदूषण से आमजन पूरी तरह से हताश है।

मौसम रहेगा साफ

मंगलवार को प्रदूषण के असर के बाद बुधवार सुबह कोहरे के बाद दिन में धूप खिली। इससे बढ़ती ठंड से लोगों को हल्कि राहत मिली। इस बीच दिन का तापमान 25 डिग्री से बढ़कर 29 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया। मौसम विभाग के निदेशक जेपी गुप्ती ने बताया कि 28 नवंबर तक मौसम साफ रहेगा। सुबह कोहरा रहेगा तो दिन में धूप खिली रहेगी। रात में तापमान गिरेगा। इस बीच कुछ राज्यों में बारिश का भी संभावना है। पश्चिमी उत्तर प्रदेश में हल्कि बारिश के कारण बादलों की आवाजाही भी हो सकती है।

हवा की सुस्त रफ्तार प्रदूषण के कारण

मौसम विज्ञानियों के अनुसार, हवा की सुस्त रफतार का कारण प्रदूषण है। दोपहर से शाम तक हवा की रफ्तार 7 किमी प्रति घंटे रही। जेपी गुप्ता ने बताया कि आद्रता ज्यादा होने से हवा में प्रदूषण तत्व बढ़ गए हैं।

पड़ेगी कड़ाके की ठंड

जेपी गुप्ता ने बताया कि पहाडों पर लगातार हो रही बारिश और बर्फबारी का असर उत्तर प्रदेश के मौसम में पर पड़ेगा। आने वाले दिनों में पारा और गिरेगा। दिसंबर माह की शुरूआत से पारा 10 डिग्री और इससे कम होने लगेगा।

Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned