सुबह ठंड तो दिन में धूप, मौसम विभाग का अलर्ट, 25 नवंबर के बाद बढ़ेगी ठिठुरन, यहां बारिश की संभावना

- सुबह ठंडी हवाओं ने दी दस्तक तो दिन में बढ़ा तापमान

- मौसम विभाग निदेशक ने कहा मौसम रहेगा साफ

- 25 नवंबर के बाद बदलेगा मौसम और पड़ेगी कड़ाके की ठंड

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में सर्दी (Winter Update) का मौसम सामान्य गति से आगे बढ़ रहा है। लेकिन धीरे-धीरे आगे बढ़ने वाली सर्दी के साथ ही प्रदूषण का स्तर भी बढ़ रहा है। बढ़ते प्रदूषण का स्तर मौसम पर दिखने लगा है। नवंबर का आधा महीना बीत गया और सर्दी सामान्य गति से आगे बढ़ रही है। ऋतुएं गड़बड़ा गई हैं। 1 से 22 नवंबर के बीच दिन का अधिकतम तापमान 25 से 30 डिग्री के बीच रहा, तो वहीं न्यूनतम तापमान 11 से 20 डिग्री के बीच रहा। पर्वतीय क्षेत्र में हुई बर्फबारी व बारिश के कारण 7 नवंबर व इसके आसपास के दिनों में अधिकतम तापमान 10 डिग्री लुढ़ककर 22 डिग्री पर आ पहुंचा लेकिन इसके बाद फिर तापमान बढ़ना शुरू हो गया।

25 नवंबर के बाद बदलाव के आसार

राजधानी में नवंबर का महीना सर्द गुजर रहा है। बीते 24 घंटे में मौसम सर्द रहा। अधिकांश जिलों में रात के तापमान में उतार-चढ़ाव रहा। लखनऊ में शुक्रवार सुबह हल्कि धुंध छाई रही। सुबह का न्यूनतम तापमान 14 डिग्री सेल्सियस रहा, जबकि अधिकतम तापमान 27 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। बहराइच में शुक्रवार को न्यूनतम तापमान 13 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया। वहीं अधिकतम तापमान 27 डिग्री सेल्सियस रहा। वहीं, बुधवार को फतेहपुर में न्यूनतम तापमान 8.8 डिग्री पहुंच गया।

मौसम विभाग के निदेशक जेपी गुप्ता ने पत्रिका से बातचीत में बताया कि अभी कुछ दिन मौसम साफ रहेगा। सुबह और शाम ठंड रहेगी तो वहीं दिन में धूप रहेगी जिससे कि हल्कि गर्मी का एहसास हो सकता है। हालांकि, 20 नवंबर के बाद सर्दी बढ़ी है लेकिन इसके बाद मौसम में बदलाव की संभावना 25 नवंबर के बाद है। वहीं, अगले 10 दिन बाद यानी कि दिसंबर में कड़ाके की ठंड पड़ेगी।

पड़ेगी कड़ाके की ठंड

जेपी गुप्ता ने बताया कि पहाडों पर लगातार हो रही बारिश और बर्फबारी का असर उत्तर प्रदेश के मौसम में पर पड़ेगा। पश्चिमी हवाओं के कारण तापमान में गिरवाट है। आने वाले दिनों में पारा और गिरेगा। दिसंबर माह की शुरूआत से पारा 10 डिग्री और इससे कम होने लगेगा। जेपी गुप्ता ने बताया कि इस बार कड़ाके की ठंड पड़ेगी। वहीं शीत और कोहरे का दौर भी देखने को मिल सकता है, जो कि फरवरी माह के मध्य तक जारी रहेगा।

प्रदूषण का भी खतरा

ठंड के साथ ही प्रदूषण (Pollution) के कारण होने वाली बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है। खासतौर से बच्चों पर इसका घातक असर होता है। बच्चों की इम्यूनिटी कमजोर होती है। ऐसे में प्रदूषण या धूप के कॉन्टैक्ट में आने के थोड़ी देर बाद ही उनमें सिरदर्द व उल्टी जैसी समस्या उत्पन्न होने लगती है।

सुबह ठंड तो दिन में धूप, मौसम विभाग का अलर्ट, 25 नवंबर के बाद बढ़ेगी ठिठुरन, यहां बारिश की संभावना

बढ़ता है अस्थमा का खतरा

केजीएमयू से डॉ. सूर्यकांत ने बताया कि ऐसे मौसम में बुजुर्गों में अस्थमा की बीमारी का खतरा भी बढ़ता है। यह समस्या बच्चों में भी देखने को मिलती है। ऐसे में इस मौसम में अपनी स्किन व हेल्थ की खास देखभाल की जरूरत होती है। धूल से बचने के लिए अस्थमा रोगी मुंह बांधकर सड़क पर निकलें। इसके अलावा डाइट में बदलाव भी जरूरी है। गुनगुना पानी पीएं। शरीर में ब्लॉकेज रोकने के लिए फल, पालक, एवोकाडो और टमाटर का सेवन करें क्योंकि इसमें प्रोटीन प्रचुर मात्रा में होता है।

इन राज्यों में बारिश की आशंका

मौसम विज्ञान ने कहा कि भारत के कुछ राज्यों में हल्कि से मध्य बारिश की संभावना है। इससे ठंड बढ़ेगी और ठिठुरन भी। आईएमडी ने पहाड़ों में बारिश को लेकर अलर्ट जारी किया है, उसके मुताबिक कश्मीर-हिमाचल-उत्तराखंड और लद्दाख में बारिश और बर्फबारी की आशंका है।

ये भी पढ़ें: बदला मौसम का रुख, दिन चढ़ने के साथ मिली राहत, 20 नवंबर के बाद पड़ेगी कड़ाके की ठंड

Show More
Karishma Lalwani
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned