लखनऊ. हिम्मत-ए-मर्दो तो मदद-ए-खुदा...ऐसी ही कहानी है ओडिशा के सरोज और एसिड अटैक फाइटर प्रमोदिनी एक दूजे के हो गए। दोनों ने कठिन वक्त में एक दूसरे का साथ नहीं छोड़ा। वैलेंटाइंस डे के दिन लखनऊ स्थित शिरोज कैफे में दोनों ने सगाई कर ली। इस दौरान एसिड अटैक फाइटर्स ने दोनों के लिए डांस परफॉर्मेंस डेडिकेट किया। दोनों ने भी एक दूसरे के लिए गाने गाए। वहीं सरोज का परिवार भी इस कार्यक्रम में शरीक हुआ। इंगेजमेंट से पहले सरोज और प्रमोदिनी ने सबके साथ अपनी लव स्टोरी साझा की। कार्यक्रम का संचालन मशहूर कवि पंकज प्रसून ने किया। इस दौरान सपा एमएलसी सुनील सिंह साजन समेत, कवि सर्वेश अस्थाना के कई अतिथि भी शामिल हुए।

अस्पताल में हुई थी पहली मुलाकात

सरोज-प्रमोदनी की पहली मुलाकात कटक के एक अस्पताल में हुई थी। दरअसल उस अस्पताल में एसिड अटैक फाइटर प्रमोदिनी का इलाज चल रहा था। सरोज मेडिकल रेप्रेजेंटेटिव के तौर पर वहां गए थे। एक नर्स ने उन्हें प्रमोदिनी से मिलवाया। उसी वक्त सरोज ने प्रमोदिनी का साथ देने का निर्णय ले लिया। दोनों में दोस्ती हो गई। कई लोगों के मना करने के बावजूद सरोज प्रमोदिनी से रोजाना मिलने आने लगे। उन्होंने डॉक्टर को भी चैलेंज कर दिया कि वह प्रमोदिनी की हालत कुछ दिनों में सुधार देंगे। प्रमोदिनी उन दिनों बेड पर थीं। वह बिना किसी के सहारे के खुद से चल भी नहीं पाती थीं। ऐसे में सरोज ने उनका पूरा ख्याल रखा। उनके इलाज से लेकर हर चीज का ख्याल रखा। चार महीने के भीतर उन्हें ठीक कर दिया।

पड़ोसी ने किया था हमला

साल 2009 में ओडिसा के जगतसिंह पुर जिले में प्रमोदिनी उर्फ रानी पर उनके पड़ोसी ने एसिड अटैक किया था। वह उनसे एकतरफा प्यार करता था। प्रमोदिनी उस वक्त महज 16 साल की थीं। वह बारहवीं की छात्रा थीं। अटैक के बाद प्रमोदनी कई महीने कोमा में रहीं। कई साल प्रमोदिनी द्वारा इंसाफ की लड़ाई लड़ने बाद आरोपी को पुलिस ने पकड़ा था।

 

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned