यूपी के इस शहर में पांच लाख लोगों को झेलना पड़ेगा पानी का संकट

जलकल विभाग भी परेशान, लिखा पत्र...

By: Hariom Dwivedi

Updated: 03 Mar 2019, 03:59 PM IST

लखनऊ. जलकल विभाग 14 अप्रैल से 18 मई तक शारदा सहायक नहर को बंद कर देगा, जिसके चलते तेज गर्मी में राजधानी के इंदिरानगर और गोमतीनगर की करीब पांच लाख आबादी को पानी की किल्लत का सामना करना पड़ेगा। जलकल विभाग ने सिंचाई विभाग को पत्र लिखकर नहर बंद करने का समय बदलने को कहा है, लेकिन सिंचाई विभाग तैयार नहीं है। सामान्य तौर पर जब नहर चालू होती है तो तीसरे जलकल से इंदिरानगर और गोमतीनगर को 14-16 घंटे पानी की आपूर्ति की जाती है। गोमतीनगर स्थित तीसरा जलकल पूरी तरह से शारदा सहायक नहर पर निर्भर है।

जलकल विभाग ने सिंचाई विभाग को लिखा पत्र
जलकल विभाग के महाप्रबंधक एसके वर्मा ने कहा कि सिंचाई विभाग की ओर से 14 अप्रैल से 18 मई तक शारदा सहायक नहर को बंद करने का समय बढ़ाने के लिए पत्र भेजा गया है। इसी बीच लोकसभा चुनाव की संभावना होने के साथ ही तेज गर्मी पड़ेगी। ऐसे में जनहित को देखते हुए इस दौरान पेयजल की कटौती किया जाना संभव नहीं हो सकेगा। इसे देखते हुए सिंचाई विभाग को जून में नहर बंद करने के लिए पत्र लिखा गया है, ताकि समस्या न हो।

नहर को बंद करना आवश्यक : सिंचाई विभाग
सिंचाई विभाग के अधिशासी अभियंता अविनाश मिश्रा ने कहा कि नहर को बंद करने का समय पहले ही तय होता है। इसी अवधि में यह बंद की जाती है। अगर नहर बंद नहीं करेंगे तो इसकी मरम्मत कैसे होगी? मरम्मत के लिए नहर को बंद करना आवश्यक है।

Hariom Dwivedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned