वॉट्सएप में थे कुछ एेसे राज दुल्हन रहती थी हमेशा busy, बारात लाने से पहले दूल्हे ने कर दिया रिजेक्ट

वॉट्सएप में थे कुछ एेसे राज दुल्हन रहती थी हमेशा busy

By: Ruchi Sharma

Published: 08 Sep 2018, 06:04 PM IST

लखनऊ. आज स्मार्ट फोन का जमाना है और इस तरफ तेजी से बढ़ती दिलचस्पी का मुख्य कारण वॉट्सएप है। इसके बहुत से फायदें हैं, लेकिन गौरतलब है कि हर सिक्के के दो पहलू होते हैं। इसके साथ भी कुछ एेसा ही है। एक अच्छी खासी शुरू होने वाली जिंदगी जो सिर्फ वॉट्सएप की वजह से बर्बाद हो गई। ये एक फिल्म की कहानी नहीं ये हकीकत है अमरोहा के नौगावां सादात कस्बे में होने वाली शादी का, जो होने से पहले ही टूट गई। कारण था सिर्फ वॉट्सएप। दूल्हे ने निकाह के दिन बारात लाने से माना कर दिया क्योंकि उसका कहना था कि दुल्हन ज्यादातर समय व्हाट्सएप का प्रयोग करती थी। इस खबर से आहात युवती के पिता ने दूल्हे और उसके पिता के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है।

वॉट्सएप बना शादी टूटने का कारण

कहते हैं कि सामाजिक संरचना में शादी जैसे पवित्र रिश्तों का महत्वपूर्ण स्थान है। प्रेम के महीन रेशों से बुने ये रिश्ता अत्यंत नाजुक होते हैं। पर एक मामूली से गलती ये सारे रिश्तों को खराब कर देती है। नौगावां सादात कस्बे के मोहल्ला शाहफरीद में रहने वाले उरूज मेहंदी की बेटी का निकाह फकरपुरा के कमर हैदर से तय हुआ था। पांच सितंबर की शाम को बारात आनी थी। घर में इसके पूरे इंतजामात हो चुके थे। मेहमानों का आना जाना, गाना- बजाना चल रहा था। सभी बेसब्री से बारात का इंतजार कर रहे थे। जब काफी देर तक बारात नहीं पहुंची तो दुल्हन के पिता उरूज ने दूल्हे के पिता कमर हैदर को फोन किया। उनका जवाब सुनकर उरूज अवाक रह गए। दूल्हे के पिता ने साफ कह दिया कि आपकी बेटी हमेशा व्हाट्सएप चलाती रहती है। यह अच्छी आदत नहीं है लिहाजा बारात नहीं ला सकते।

दुल्हन पक्ष ने लगाया दहेज का आरोप

उधर दुल्हन पक्ष का आरोप है कि दूल्हे के परिजनों ने मामले को निपटाने के बदले दहेज के रूप में 65 लाख की डिमांड की और ने दे पाने पर बारात लाने से मना कर दिया। ऐन निकाह के दिन बारात न आने से लड़की वाले बेहद मायूस है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

दूल्हे पक्ष ने कही ये बात

दूल्हे का पिता कमर हैदर ने बताया कि हमने अच्छा परिवार समझकर बिना दहेज के रिश्ता तय किया था। लेकिन मेरे बेटे को होने वाली दुल्हन द्वारा व्हाट्सएप चलाने और लोगों को मैसेज भेजने का पता लगा। इस पर उसे कड़ा ऐतराज है। इसके कारण रिश्ता तोड़ना पड़ा। शादी की तारीख तय नहीं हुई थी। मेरे और मेरे बेटे के खिलाफ गलत मुकदमा दर्ज कराया गया है।

नौगावां सादात के पुलिस चौकी प्रभारी व कस्बा इंचार्ज आरके त्रिपाठी ने बताया कि युवती के पिता ने जो तहरीर दी है, उसे दो लोगों के खिलाफ दर्ज कर लिया गया है। तहरीर में युवती के व्हाट्सएप चलाने पर नाराजगी जताकरक शादी टूटना लिखा गया है। रिपोर्ट में दहेज मांगने की भी बात कही गई है। पुलिस सबूतों के आधार पर जांच कर रही है।

Ruchi Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned