scriptWhere is Black Taj Mahal History Controversy in India | शाहजहां ने Taj Mahal में काले संगमरमर का ही क्यों किया था प्रयोग, ताजमहल की अनकही कहानी | Patrika News

शाहजहां ने Taj Mahal में काले संगमरमर का ही क्यों किया था प्रयोग, ताजमहल की अनकही कहानी

Tajmahal Controversy: देशभर में ताजमहल का किस्सा चर्चा में है। ताजमहल के 22 कमरों के राज से लेकर काले ताजमहल तक, इस खबर में जानिये ताजमहल के इतिहास और क्या है इसके पीछे की कहानी।

लखनऊ

Updated: May 21, 2022 01:14:03 pm

Taj Mahal: ज्ञानवापी सर्वे के बाद भारत में ताजमहल को लेकर कंट्रोवर्सी भी तेज हो गई है। यूपी में ताजमहल के सर्वे को लेकर लेकर चर्चाएं तेज हो गई हैं। ताजमहल के तहखानों में बंद 22 कमरों पर इन दिनों घमासान मचा हुआ है। ताजमहल के बंद पड़े 22 कमरों को खुलवाने के लिए याचिकाकर्ता की तरफ से एसआई और संस्कृति मंत्रालय को चिट्ठी भेजी गई है, जिसमें पांच लोगों के दल को ताजमहल में बंद पड़े 22 कमरों में जाने की इजाजत देने की मांग की गई है। इस बीच 'पत्रिका' आपको बता रही है कि ताजमहल में काले संगमरमर का प्रयोग क्यों किया गया था और क्या है काले ताजमहल की कहानी।
tajmahal.jpg
Tajmahal File Photo
Black Marble and Taj Mahal: काले ताज के मिथक के अनुसार, शाहजहां ने मुमताज के लिए बनाए गए ताजमहल की दर्पण छवि बनाने की योजना बनाई थी, भले ही वह काले रंग में हो, नदी के दूसरी तरफ और दोनों को एक पुल से जोड़ता है। यह काला ताज खुद शाहजहाँ को समर्पित होना था। लेखक और इतिहासकार राणा सफ़्वी अपनी एक इंस्टाग्राम पोस्ट में इसका हवाला देती हैं। उन्होंने बताया कि सबसे पहले काले ताजमहल का जिक्र फ्रांसीसी यात्री जीन बापतीस्त टेवरनियर Jean-Baptiste Tavernier ने किया था। वो 1665 में आगरा गए थे और उस दौरान उन्होंने अपने लेखन में इसकी बात लिखी। शाहजहां ने नदी की दूसरी तरफ अपने लिए मकबरा बनाना शुरू किया था लेकिन उसके बेटे औरंगजेब ने उसको कैद कर लिया। आगे चलकर ये कहानी काफी पॉपुलर हो गई। हालांकि मॉर्डन आर्केलॉजिस्ट इस कहानी को सच नहीं मानते।
यह भी पढ़ें

God in Court : श्रीकृष्ण जन्मभूमि और आगरा से जुड़े मामलों की सुनवाई टली, ज्ञानवापी में बहस जारी

black_tajmahal.jpgताजमहल के पीछे की कहानी क्या है?

Story Behind Taj Mahal: ताजमहल को उनके पति, मुगल सम्राट शाहजहां (शासनकाल 1628-58) द्वारा मुमताज महल ("महल में से एक चुना गया") के लिए एक मकबरे के रूप में बनाया गया था। 1612 में उनकी शादी के बाद से सम्राट के अविभाज्य साथी होने के बाद, 1631 में प्रसव के दौरान उनकी मृत्यु हो गई। ताजमहल भारतीय शहर आगरा में यमुना नदी के दक्षिणी तट पर एक हाथीदांत-सफेद संगमरमर का मकबरा है। इसे 1632 में मुगल सम्राट शाहजहां (1628 से 1658 तक शासन किया) द्वारा अपनी पसंदीदा पत्नी मुमताज महल की कब्र के लिए कमीशन किया गया था।
क्या ताजमहल मस्जिद है?

Seven Wonders of World: द न्यू सेवन वंडर्स ऑफ द वर्ल्ड सूची में ताजमहल, भारतीय शहर आगरा में स्थित एक मस्जिद-मकबरा, एक बहुत ही महत्वपूर्ण स्थान माना गया है। अपने मुस्लिम मूल के बावजूद यह सफेद संगमरमर का क़ब्रिस्तान भारत का एक वास्तविक प्रतीक बन गया।
यह भी पढ़ें

ताजमहल के बंद 22 कमरों का खुल गया सीक्रेट, ASI ने फोटो जारी करते हुए बताई गंभीर बातें

भारत का दूसरा ताजमहल कौन सा है?

Second Taj Mahal of India: 'बीबी का मकबरा' की पहचान देश के दूसरे ताजमहल के रूप में होती है। यह मकबरा महाराष्ट्र के औरंगाबाद में स्थित है। शाहजहां ने अपनी बेगम मुमताज के लिए आगरा में ताजमहल बनवाया था, जिसे देखा देखी औरंगजेब के बेटे और शाहजहां के पोते आजम शाह ने ताजमहल से प्रेरित होकर अपनी मां दिलरास बानो बेगम की याद में बीबी का मकबरा बनवाया।
कौन है ताजमहल बनाने वाले कारीगर का वंशज?

Descendent of Artisan of Taj Mahal Workers: ताजमहल कंट्रोवर्सी के बीच आगरा के रहने वाले कुछ लोगों ने ताजमहल बनाने वाले कारीगरों का वंशज बताते हुए ताजमहल पर कई टिप्पणियां की हैं। ताजमहल बनाने वाले कारीगर ताहिरउद्दीन खुद को वंशज बताते हैं। इन्होंने कहा है कि ताजमहल की कारीगरी इनके पुरखों द्वारा की गई थी। बता दें कि ताजमहल में हिंदू मान्यताओं के कुछ चिन्ह मौजूद हैं जिसमें कई सारे दावे किए गए हैं।
कब्र के नीचे 20 कमरे

Twenty Rooms Built Just Below The Grave: ताजमहल बनाने वाले कारीगरों के वंशज ने ताजमहल के वहां के कमरों को लेकर कहा कि 20 कमरे कब्र के ठीक नीचे बने हैं। इन कमरों का इस्तेमाल ताजमहल देखने आने वाले दर्शकों के जूते चप्पल रखने के लिए किया जाता था। वंशज ने दावा किया है कि ताजमहल में स्थित 22 कमरों को कभी खोला ही नहीं गया। इन्हीं कमरों को इन दिनों खोले जाने की मांग हो रही है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon : राजस्थान में 3 अगस्त से बारिश का नया सिस्टम, पूरे प्रदेश में होगी झमाझमNSA डोभाल की मौजूदगी में बोले मुस्लिम धर्मगुरु- 'सर तन से जुदा' हमारा नारा नहीं, PFI पर प्रतिबंध की बनी सहमतिकीमत 4.63 लाख रुपये से शुरू और देती हैं 26Km का माइलेज! बड़ी फैमिली के परफेक्ट हैं ये सस्ती 7-सीटर MPV कारेंराजस्थान में भारी बारिश का दौर जारी, स्कूलों की तीन दिन की छुट्टी, आज इन जिलों में झमाझम की चेतावनीWeather Update: राजस्थान में झमाझम बारिश को लेकर अब आई ये खबरराजस्थान में आज यहां होगी बारिश, एक सप्ताह तक के लिए बदलेगा मौसमएमपी में 220 करोड़ से बनेगा 62 किमी लंबा बायपास, कम हो जाएगी कई शहरों की दूरी, जारी हो गए टेंडरसरकारी नौकरी लगवा देंगे कहकर 10 युवाओं को लगाई 75 लाख रुपए की चपत, 2 गिरफ्तार

बड़ी खबरें

अमित शाह ने कांग्रेस के प्रदर्शन की टाईमिंग को लेकर कही बड़ी बात, कहा - 'काले कपड़े पहन कर राममंदिर का किया विरोध'PM मोदी से मिलीं बंगाल CM ममता बनर्जी, विकास योजनाओं के 1 लाख करोड़ के बकाए फंड की मांग कीWest Bengal SSC Scam: TMC नेता पार्थ चटर्जी और अर्पिता मुखर्जी की न्यायिक हिरासत बढ़ी, 18 अगस्त तक रहेंगे जेल मेंMaharashtra Panchayat Election Results 2022: महाराष्ट्र पंचायत चुनाव में शिंदे खेमे ने दिखाया दम, बीजेपी-उद्धव गुट समेत अन्य दलों के ऐसे रहें नतीजेफिल्मी स्टाइल में लुटेरों से भिड़ा एसएचओ, एक हाथ से बदमाश की पिस्टल पकड़ी, दूसरे से मुक्के मार किया बेहालBCCI के कोषाध्यक्ष ने विराट कोहली की कप्तानी और उनकी मौजूदा फॉर्म पर दिया बयानCongress Protest: काले कपड़ों में संसद तक पहुंचे कांग्रेस सांसद, विजय चौक पहुंचने से पहले हिरासत में राहुल गांधीगहलोत ने हिटलर-जर्मनी का इतिहास बताकर मोदी पर साधा निशाना
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.