scriptWife forced her husband to relieving mother-in-law in oldage home | पत्नी ने कहा ‘मां को छोड़ आओ वृद्धाश्रम, तब रहूंगी तुम्हारे साथ’, जानिए पूरा मामला | Patrika News

पत्नी ने कहा ‘मां को छोड़ आओ वृद्धाश्रम, तब रहूंगी तुम्हारे साथ’, जानिए पूरा मामला

Family: अब थानों में महिलाओं के ही नहीं बल्कि पुरुष प्रताड़ना के मामले आने लगे। इसकी पीछे आर्थिक समस्याएं और माता-पिता बड़ी वजह बन रहे। पढ़िए प्रदेश के कानपुर जिले के परिवार परामर्श (family Court)से सामने आए आजीब मामले।

लखनऊ

Updated: March 27, 2022 12:19:00 pm

‘मैं तुम्हारे साथ नहीं रह सकती। अगर तुमको मेरे साथ रहना है तो तुम अपनी मां को वृद्धाश्रम छोड़ आओ या मेरे लिए दूसरा घर लो।‘ अक्सर ऐसी बातें फिल्म या टीवी सीरियल में ही सुनने को मिलती है। लेकिन यहां ये लाइन असल जिंदगी की बोली गई लाइन है। जहां एक पत्नी अपने पति से रिश्ता रखने के लिए ये शर्त रखी है। ऐसे में जब पति को कुछ समझ नहीं आया को पति ने परिवार परामर्श का सहारा लिया। ये इकलौता ऐसा मामला नहीं है बल्कि महीने में कई ऐसे मामले सामने आ रहे जो पुरुषों के लिए नए दौर की एक चुनौती बनी हुई है। हाल ये है कि परिवार परामर्श में पिछले छ: महीने में ऐसे ही करीब 40 मामले आए है। हालांकि कुछ मामले सुलझ गए और कुछ मामले परामर्श में चल रहे।
oldage.jpg
केस-1: परिवार परामर्श में किदवई नगर थाना क्षेत्र का मामला सुनवाई के लिए सामने आया। पति ने पत्नी की शिकायत करते हुए कहा कि उसकी मां के साथ नहीं रहना चाहती है। ऐसे में अकेली बूढ़ी मां को कहां छोड़ दे। लेकिन पत्नी कुछ भी सुनने को नहीं तैयार है। शादी के दो साल हो गए। रिश्ता बरकरार रखने के लिए पत्नी ने शर्त रखी है कि दूसरा घर ले या तो मां को छोड़ दे। पुलिस लाइन में दोनों को काउंसलिंग के लिए बुलाया जा रहा है। पत्नी फिलहाल मायके में रह रही है।
केस- 2: परिवार परामर्श में महाराजपुर थाना से स्थानांतरित होकर एक ऐसा ही मामला सामने आया है। मामले में डोमनपुर निवासी पति पप्पू ने अपनी पत्नी के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई। इन्होंने बताया कि पत्नी बेटी को लेकर मायके चली गई। अब न तो खुद आ रही और न ही बेटी को भेज रही। आरोप है कि पत्नी आत्महत्या कर ससुरालियों को फसाने की धमकी भी देती है। जब पत्नी को मायके लेने गए तो वहां लोगों ने पति यानि पप्पू को ही घर में बंद कर लिया।
केस-3: सुनवाई के दौरान चकेरी थाना क्षेत्र का एक मामले सामने आया। इसमें पति ने अपनी पत्नी पर मारपीट का आरोप लगाते हुए पुलिस से मदद की गुहार लगाई। पति का कहना है कि शादी के 10-12 साल बाद अब पत्नी छोटी छोटी बातों में झगड़ा करती है। इतना ही नहीं बल्कि कभी कभी घर से बाहर रहने को भी बोली देती है। हालांकि मामले की कार्यवाही महिला थानाध्यक्ष को सौंपी गई है।
इनकी भी सुनिए

ऐसे मामलों की वजह ये है कि लड़कियों की जल्दी शादी तो हो गई। लेकिन जब जिम्मेदारी और पारिवारिक रोक-टोक होती है तो झगड़ा शुरू होता है। उनमें समझ की भी कमी होती है। वह स्वतंत्र रहना चाहती है, जिसकी वजह से पति से लड़ाई होती है। - मनीषा बाजपेयी, काउंसलर
अब के समय में सिर्फ महिलाएं ही नहीं बल्कि पुरुष भी प्रताड़ित हो रहे है। आर्थिक स्थितियां समझते हुए भी पत्नियों की मांग लम्बी रहती है। मांग नहीं पूरी होने से झगड़े शुरू होते है जो धीरे-धीरे बड़ी रूप ले लेता है। महिलाएं शिक्षित और स्वावलंबी होंगी तो झगड़े नहीं होंगे। - अंकिता वर्मा, महिला थानाध्यक्ष

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

राजस्थान में इंटरनेट कर्फ्यू खत्म, 12 जिलों में नेट चालू, पांच जिलों में सुबह खत्म होगी नेटबंदीनूपुर शर्मा पर डबल बेंच की टिप्पणियों को वापस लिया जाए, सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस के समक्ष दाखिल की गई Letter PettitionENG vs IND Edgbaston Test Day 1 Live: ऋषभ पंत के शतक की बदौलत भारतीय टीम मजबूत स्थिति मेंMaharashtra Politics: महाराष्ट्र बीजेपी अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने देवेंद्र फडणवीस के डिप्टी सीएम बनने की बताई असली वजह, कही यह बातजंगल में सर्चिंग कर रहे जवानों पर नक्सलियों ने की फायरिंगपंचायत चुनाव: दो पुलिस थानों ने की कार्रवाई, प्रत्याशी का चुनाव चिन्ह छाता तो उसने ट्राली भर छाता बंटवाने भेजे, पुलिस ने किए जब्तMonsoon/ शहर में साढ़े आठ इंच बारिश से सडक़ों पर सैलाब जैसा नजारा, जन जीवन प्रभावित2 जुलाई को छ.ग. बंद: उदयपुर की घटना का असर छत्तीसगढ़ में, कई दलों ने खोला मोर्चा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.