Prayagraj: 16 सौ किलोमीटर विंग कमांडर ने क्यों चलाई साइकिल, जानिए खास वजह

असम के जोरहाट से साइकिल चलाकर प्रयागराज पहुंचे विंग कमांडर ने संतोष कुमार ने कहा कि रोड सेफ्टी, सेफ ड्राइविंग और हेल्थ फिटनेस का मैसेज देने के लिए लगभग 16 सौ किलोमीटर साइकिल चलाकर लोगों को जागरूक करने का काम किया है। विंग कमांडर ने कहा कि साइकिल चलाने से हेल्थ फिट रहता है इसीलिए साइकिल के माध्यम से हेल्थ फिटनेस का मैसेज दिया।

By: Vivek Srivastava

Published: 11 Oct 2021, 10:03 AM IST

प्रयागराज. हेल्थ फिटनेस और रोड सेफ्टी का मैसेज देते हुए विंग कमांडर संतोष कुमार ने 16 सौ किलोमीटर साइकिल चलाई। असम के जोरहाट से साइकिल चलाकर प्रयागराज पहुंचे विंग कमांडर ने पत्रिका न्यूज नेटवर्क से खास बातचीत किया। संतोष कुमार ने कहा कि रोड सेफ्टी, सेफ ड्राइविंग और हेल्थ फिटनेस का मैसेज देने के लिए लगभग 16 सौ किलोमीटर साइकिल चलाकर लोगों को जागरूक करने का काम किया है।

प्रयागराज में हुआ स्वागत

विंग कमांडर संतोष कुमार ने कहा कि प्रयागराज में स्वागत करना मेरे लिए हर्ष की बात है। विंग कमांडर के तौर पर यह सोचा की रोड एक्सीडेंट से लोगों कैसे बचाया जाए। लोग सेफ्टी से ड्राइविंग करेंगे तभी सड़क दुर्घटना में कमी आएगी। इसीलिए मैंने 16 सौ किलोमीटर साइकिल चलाकर रोड दुर्घटना न हो इसके लिए लोगों जागरूक किया है। सफर तय करते समय ही अलग-अलग जगहों पर लोगों को जागरूक करने का काम किया है।

हेल्थ फिटनेस का दिया मैसेज

विंग कमांडर संतोष कुमार ने कहा कि साइकिल चलाने से हेल्थ फिट रहता है इसीलिए साइकिल के माध्यम से हेल्थ फिटनेस का मैसेज दिया। साइकिल सबसे बेहतर और कारगर माध्यम है फिटनेस के लिए। सभी को जागरूक होकर अपने हेल्थ के लिए 24 घंटे में से एक घंटे फिटनेस के लिए देना चाहिए।

रहेंगे निरोग

विंग कमांडर संतोष कुमार ने कहा कि सेफ ड्राइविंग, रोड सेफ्टी और हेल्थ फिटनेस के लिए साइकिल चलाकर यह मैसेज दिया है। इसके साथ साइकिल चलाने से हेल्थ फिट रहता है और अन्य रोगों से बचते हैं।

Show More
Vivek Srivastava
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned