वर्क फ्रॉम होम और ऑनलाइन पढ़ाई से कंप्यूटर-लैपटॉप की बढ़ी मांग, बाजारों में खूब हो रही बिक्री

ऑनलाइन क्लासेस की प्रक्रिया शुरू होने के बाद टैबलेट, मोबाइल लैपटॉप, प्रिंटर, कंप्यूटर की सबसे ज्यादा मांग बढ़ गई है।

By: Neeraj Patel

Updated: 15 Jun 2020, 07:45 PM IST

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में कोरोना के कारण ऑनलाइन क्लासेस की प्रक्रिया शुरू होने के बाद टैबलेट, मोबाइल लैपटॉप, प्रिंटर, कंप्यूटर की बिक्री बढ़ जाने से कंप्यूटर मार्केट में इन दिनों रौनक बनी हुई है। इसके साथ ही दफ्तरों का काम घरों से (वर्क फ्रोम होम) हो रहा है और पढ़ाई ऑनलाइन होने की वजह से लोगों को बच्चों की पढ़ाई के लिए टैबलेट, मोबाइल लैपटॉप, प्रिंटर, कंप्यूटर खरीदने पड़ रहे हैं।

लॉकडाउन खत्म होने के बाद अनलॉक 1.0 में सबसे ज्यादा चमकने वालों में यह कारोबार शामिल है। एक रिपोर्ट के अनुसार मार्केट से रोजाना एक स्टोर से 30 से 40 टैबलेट बेचे जा रहे हैं। कई स्टोर तो ऐसे हैं जहां से 100 से ज्यादा लैपटॉप की बिक्री हो रही है।

8 इंच के टेबलेट की ज्यादा मांग

इस पर विक्रेताओं का कहना है कि 8 इंच के टेबलेट को लोग अधिक पसंद कर रहे हैं। इसकी स्क्रीन मोबाइल की तुलना में बड़ी होती है। जिससे पढ़ने में सहूलियत होती है। कीमत लगभग 12 हजार है। लॉकडाउन से पहले की बात करें तो टेबलेट की मांग इक्का-दुक्का थी। ऑनलाइन पढ़ाई का सेटअप बनाने के लिए को लोग लैपटॉप और प्रिंटर की खरीदारी कर रहे हैं। शहर में रोजाना औसतन 125 लैपटॉप और इससे दोगुने प्रिंटर बिक रहे हैं। महामारी के दौर में स्कूल कॉलेज, कोचिंग बंद हैं।

इतनी कीमत वाले लैपटॉप और प्रिंटर मांग ज्यादा

कारोबारियों ने बताया कि बाजार में 30 हजार रुपये का लैपटॉप और 10 हजार रुपये के प्रिंटर की सबसे अधिक मांग है। इन दिनों कंप्यूटर मार्केट में लैपटॉप और प्रिंटर की सबसे ज्यादा बिक्री हो रही है। ऑनलाइन क्लासेज के कारण डिमांड आ रही है। इस समय स्कूल, कॉलेज बंद हैं। पढ़ाई घर से ही चल रही है। इसके लिए लैपटॉप की आवश्यकता ज्यादा है।

Neeraj Patel
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned