#World Sparrow Day देखिये गौरैया ने कैसे किया प्यार का इजहार

विश्व गौरैया दिवस के अवसर पर जहां पूरा देश विलुप्त हो रही गौरैया को बचाने के लिए अभियान चला रहा है।

लखनऊ. आप ने प्रेमी जोड़ों को तो प्यार का इजहार करते खूब देखा होगा। प्रेमियों के किस्से भी सुने होंगे। लेकिन अगर आप को पक्षियों के प्यार के बारे में अगर बताएं तो सुनने में अटपटा जरुर लगेगा। लेकिन यह सच है। विश्व गौरैया दिवस के अवसर पर जहां पूरा देश विलुप्त हो रही गौरैया को बचाने के लिए अभियान चला रहा है। वहीं, इस दिन की खुशी में गौरैया प्यार का इजहार करती दिखी।

देखें वीडियो-

आप को बता दें विश्व गौरैया दिवस पूरे देश में गौरैया पक्षी के संरक्षण के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए हर साल 20 मार्च को मनाया जाता है। इसे पहली बार वर्ष 2010 में मनाया गया था। गौरैया वर्तमान समय में विलुप्त होती जा रही है। हमें इसे बचाने की जरुरत है। लोग सुबह जब सो रहे होते हैं तो कानों में मीठी चहक गौरैया की आने लगती थी। लेकिन अब हमें गौरैया को देखने के लिए भी काफी मशक्कत करके ढूंढना पड़ता है।
Gauraya
वह कर रही थी प्यार का इजहार
सुबह सो कर उठा तो देखा घर की बालकनी में चहकने की आवाज आ रही है। पास जाकर देखा तो गौरैया अपने साथी से प्यार का इजहार कर रही थी। उसकी बातें तो समझ में नहीं आयीं लेकिन माहौल देख कर पता लग रहा था कि वह प्यार का इजहार कर रही है। हम सबको पता है पक्षी हैं तो क्या हुआ प्यार करना तो सबको आता है।

उचित खाना, रहने की व्यपस्था न होने से संकट में गौरैया
वर्तमान समय में भोजन और पानी की कमी, घोसलों के लिए उचित स्थानों की कमी तेजी के साथ हरे पेड़ों की कटाई गौरैया के विलुप्त होने का मुख्य कारण हैं। विशेषज्ञों का मानना है कि गौरैया के बच्चों का शुरुआती भोजन कीड़े - मकोड़े होता है। लेकिन इस समय हम लोग खेतों से लेकर घरों में लगे गमले में  पेड़-पौधों में भी रासायनिक पदार्थों का उपयोग करते है जिसके कारण कीड़े तो नहीं लगते लेकिन गौरैया के बच्चों का जीवन खतरे में रहता है। शायद यही बजह है कि गौरैया विलुप्त हो रही है। फिलहाल हम सभी को गौरैया को बचाने की जरुरत है।
Show More
Rakesh Mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned