अब कोई छोटा कोई बड़ा नहीं, सीएम योगी और पूर्व सीएम अखिलेश के ट्विटर फॉलोअर्स हुए बराबर

Yogi Adityanath Akhilesh Yadav twitter followers: योगी आदित्यनाथ, अखिलेश यादव के अलावा मायावती, प्रियंका गांधी, केशव प्रसाद मौर्य, डॉ. दिनेश सिंह और संजय सिंह भी ट्विटर पर एक्टिव हैं।

पत्रिका न्यूज नेटवर्क


लखनऊ. Yogi Adityanath Akhilesh Yadav twitter followers: साल 2022 में उत्तर प्रदेश के अंदर 2022 में विधानसभा चुनाव (UP Assembly election 2022) हैं, ऐसे में चुनाव से पहले प्रदेश में सियासी सरगर्मियां बढ़ गई हैं। इस बीच सीएम योगी आदित्यनाथ और पूर्व सीएम अखिलेश यादव के ट्विटर अकाउंट चर्चा का विषय बने हुए है। एम योगी और अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) दोनों के ही 14.1 मिलियन फॉलोअर हो गये हैं। अखिलेश यादव साल 2009 से ही ट्विटर पर हैं। जबकि सीएम योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) 2015 में ट्व‍िटर पर आए थे। इस लिहाज से देखें तो योगी आदित्यनाथ करीब 6 साल बाद ट्विटर पर आए। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि बतौर मुख्यमंत्री करीब साढ़े चार साल का कार्यकाल पूरा करने वाले सीएम योगी आदित्यनाथ की लोकप्रियता का ग्राफ लगातार बढ़ता जा रहा है। दोनों ही नेता ट्विटर पर खासे सक्रिय रहते हैं, चाहे वह अपनी सरकारों के काम की उपलब्धियां बतानी हों या विरोधी पर हमले करने हों। दोनों ही लगातार ट्वीट करते हैं।

बराबर हुए योगा और अखिलेश के फॉलोवर्स

लोगों के बीच बेहद लोकप्रिय हो चुके योगी आदित्यनाथ इंटरनेट मीडिया पर भी बेहद सराहे जा रहे हैं। दरअसल इंटरनेट मीडिया पर शुक्रवार को कुछ जानकारी सामने आई, जिसमें ट्विटर पर नेताओं के फॉलोअर्स की संख्या की जानकारी दी गई। इसमें सीएम योगी आदित्यनाथ ने अभी तक शीर्ष पर चल रहे उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री तथा समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव की बराबरी कर ली है। यानी सीएम योगी की लोकप्रियता का आलम यह है कि ट्विटर पर उनके और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के फॉओलर्स की संख्या बराबर हो गई है।

ये नेता भी ट्विटर पर एक्टिव

सीएम योगी, अखिलेश यादव के अलावा बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती (Mayawati) के 1.8 मिलियन फॉलोअर्स पर हैं। उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती अक्टूबर 2018 से ट्विटर पर सक्रिय हैं। कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव और उत्तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) भी ट्विटर पर बेहद एक्टिव हैं। उन्होंने फरवरी 2019 में अपना अकाउंट बनाया था और आज उनके फॉलोअर्स की संख्या 3.7 मिलियन पर पहुंच गई है। इसके अलावा यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या (Keshv Prasad Maurya) 2.8 मिलियन फॉलोवर और डॉ. दिनेश शर्मा (Dr Dinesh Sharma) भी 1.9 मिलियन फॉलोवर के साथ ट्विटर पर एक्टिव रहते हैं। आप के यूपी प्रभारी संजय सिंह (Sanjay Singh) भी ट्विटर पर काफी एक्टिव रहते हैं और उनके फॉलोवर्स की संख्या 1.5 मिलियन है।

ट्विटर पर वार-पलटवार

दरअसल डिजिटल दौर में अब नेता स्थलीय सक्रियता के साथ ही इंटरनेट मीडिया पर भी बेहद एक्टिव हो गए हैं। किसी भी घटना की जानकारी के साथ ही प्रतिक्रिया तथा बधाई देने के लिए अब नेता ट्विटर का काफी प्रयोग कर रहे हैं। बात अगर मायावती, प्रियंका गांधी और संजय सिंह की करें तो यह तीनों नेता सरकार की नीतियों और फैसलों को लेकर ट्विटर पर हमेशा आक्रामक मुद्दा में रहते हैं। यह तीनों नेता सरकार पर निशाना साधने का कोई मौका नहीं छोड़ते और जनता तक अपनी व अपनी पार्टी की राय पहुंचाने का काम करते हैं। जिसपर जनता भी इन नेताओं से सीधा संवाद करती है। कई बार तो इन्हें जनता का साथ मिलता है जबकि कई बार इन्हें खरी-खोटी भी सुननी पड़ती है है। वहीं प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य और डॉ. दिनेश शर्मा अक्सर विपक्षी नेताओं के ट्वीट का जवाब अपने ट्विटर अकाउंट से देते नजर आते हैं। दोनों ही नेता सरकार के फैसलों और नीतियों का समर्थन करते हुए विपक्षी नेताओं को आंड़े हाथों लेते हैं।

यह भी पढ़ें: UP Assembly election 2022: बुद्धालैंड या पूर्वांचल, आखिर फिर क्यों उठी यूपी के बंटवारे की बात

Uttar Pradesh Assembly elections 2022
नितिन श्रीवास्तव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned