मंत्रिमंडल विस्तार से पहले सीएम योगी ने आज कैबिनेट बैठक में किया ये बड़ा ऐलान, 18 प्रस्तावों को दी मंजूरी

मंत्रिमंडल विस्तार से पहले सीएम योगी ने आज कैबिनेट बैठक में किया ये बड़ा ऐलान, 18 प्रस्तावों को दी मंजूरी

Ruchi Sharma | Publish: Aug, 20 2019 01:16:58 PM (IST) | Updated: Aug, 20 2019 01:23:51 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

-यूपी कैबिनेट बैठक
-कुल 18 प्रस्तावों को मंजूरी
-किशोर न्याय अधिनियम में संशोधन
-भूगर्भ जल विभाग में रिक्त पदों पर रिटायर्ड लोगों की भर्ती होगी एक साल के लिए

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) की अध्यक्षता में आज मंगलवार को कैबिनेट की बैठक (Yogi Cabinet Decision) संपन्न हुई। लोकभवन में होने वाली इस बैठक में 18 महत्वपूर्ण प्रस्तावों पर मुहर लगी है। बैठक में भूगर्भ जल विभाग उप्र में समूह ख और ग (तकनीकी अधिष्ठान) के अन्तर्गत सीधी भर्ती के रिक्त चल रहे पदों को सेवानिवृत्त कार्मिकों के जरिये संविदा के आधार पर भरा जाना है। इस प्रस्ताव को कैबिनेट की मंजूरी मिली है।

कैबिनेट में किशोर न्याय (बालकों की देख रेख और संरक्षण) नियम-2019 के सृजन के संबंध में भी प्रस्ताव पास हुआ। वेतन समिति (2016) के सातवें प्रतिवेदन (भत्ते एवं सुविधाएं) में विभिन्न विभागों के दिव्यांगजन कर्मचारियों को वाहन भत्ते के संबंध में की गई संस्तुति और वेतन समिति (2016) के सातवें प्रतिवेदन (भत्ते एवं सुविधाएं) में की गई संस्तुतियों के आधार पर कुछ भत्तों को समाप्त किये जाने का भी प्रस्ताव पास हुआ।

यह भी पढ़ें- भाजपा से आई बड़ी खबर, मंत्रिमंडल विस्तार से पहले इस बड़े मंत्री ने सीएम योगी को दिया इस्तीफा, मचा हड़कंप

इन प्रस्तावों पर लगी मुहर

1:- किशोर न्याय 2019 के सृजन के सम्बंध में। प्रस्तावित किशोर न्याय नियम 2019 पर लगी मुहर।

2:- भूगर्भ जल विभाग समूह ख व ग के खाली पड़े पदों पर सेवानिवृत्त लोगों को संविदा पर एक साल लिए भर्ती करने का निर्णय।

3:- विश्व बैंक के ऋण से प्रस्तावित यूपी कोर रोड नेटवर्क परियोजना के रोड सेफ्टी घटक लगाए जाने वाले के सम्बंध में।

4:- कुशीनगर हवाई अड्डे के विस्तारीकरण के संबंध में।

5:- बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे के आईपीसी पद्धति पर क्रियान्वयन हेतु परियोजना के विभिन्न पदों के निर्माण कर्ताओं के चयन संबंधी तैयार किए गए संशोधित एवं बीट पर मंत्रिपरिषद का अनुमोदन।

6- गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस वे की लागत बढ़ी, 5876 करोड़ रुपए हुई लागत, कैबिनेट की लगी मुहर।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned