scriptyogi government new transfer policy for government employees | New transfer policy : योगी सरकार कर्मचारियों का करेगी मनचाहे जिलों में ट्रांसफर, जल्द लागू होने वाली है नई तबादला नीति | Patrika News

New transfer policy : योगी सरकार कर्मचारियों का करेगी मनचाहे जिलों में ट्रांसफर, जल्द लागू होने वाली है नई तबादला नीति

New transfer policy in up : योगी आदित्यनाथ सरकार जल्द ही उत्तर प्रदेश में नई तबादला नीति लागू करने जा रही है। अच्छा कार्य करने वालों को मेरिट के आधार पर मनचाहे जिलों में तैनात किया जाएगा। कार्मिक विभाग ने नई तबादला नीति का प्रारूप तैयार कर लिया है। अब सिर्फ कैबिनेट की मंजूरी का इंतजार है।

लखनऊ

Published: April 20, 2022 11:25:16 am

New transfer policy in uttar pradesh : उत्तर प्रदेश सरकार जल्द ही नई तबादला नीति लागू करने वाली हैै। नई नीति के तहत अधिकतर तबादले ऑनलाइन किए जाएंगे। अच्छा कार्य करने वालों को मेरिट के आधार पर मनचाहे जिलों में तैनात किया जाएगा। इसके लिए ऑनलाइन उनसे ऑप्शन लिया जाएगा। तीन वर्ष से एक ही जिले में तैनात कर्मचारी इस दायरे में आएंगे। बताया जा रहा है कि कार्मिक विभाग ने नई तबादला नीति का प्रारूप तैयार कर लिया है। कैबिनेट की मंजूरी मिलते ही इसे यूपी में लागू कर दिया जाएगा।
yogi-government-new-transfer-policy-for-government-employees.jpg
उल्लेखनीय है कि राज्य सरकार की तरफ से हर वर्ष नई तबादला नीति लाई जाती है। इसके लिए मानव संपदा पोर्टल पर अधिकारियों और कर्मचारियों का ब्यौरा सभी विभागों के माध्यम से ऑनलाइन कराया जा रहा है। नई तबादला नीति के प्रस्ताव के तहत समूह ‘क’ और ‘ख’ के ऐसे अधिकारी जो अपने सेवाकाल में तीन वर्ष से एक ही जिले और मंडल में सात वर्ष पूरे कर चुके हैं, वह इसके दायरे में होंगे। समूह ‘क’ के अधिकारियों को गृह मंडल और समूह ‘ख’ के अधिकारियों को गृह जिलो में तैनात नहीं करने का भी प्रस्ताव है। स्थानांतरित अधिकारियों और कर्मचारियों की संख्या 20 प्रतिशत तक ही रखने की योजना हैै।
यह भी पढ़ें- बीएचयू में मुफ्त मिलेगी IAS परीक्षा के लिए कोचिंग, 100 सीटों पर एडमिशन

पूर्व की तबादला नीति पर एक नजर

बता दें कि यूपी में नया स्थानांतरण सत्र शुरू हो चुका है, लेकिन अभी तक नई तबादला नीति लागू नहीं की जा सकी है। योगी सरकार ने पहले कार्यकाल में 29 मार्च 2018 को 2018-19 से 2021-22 के लिए तबादला नीति लागू की थी। उसके तहत 31 मई तक तबादले करने की व्यवस्था थी। इसके बाद विभागाध्यक्ष, शासन, मंत्री या फिर मुख्यमंत्री के आदेश पर तबादले की व्यवस्था की गई थी।
यह भी पढ़ें- जापान सरकार ने आईकेयर को दिए पौने दो करोड़ उपकरण, जरुरतमंदों का होगा मुफ्त इलाज

समय पर तबादले नहीं होने से परेेशानी

अब कर्मचारियों को तबादलों का इंतजार है। कर्मचारियों का कहना है कि समय पर तबादले नहीं होने के चलते सबसेे बड़ी परेशानी स्कूलों में बच्चों के दाखिलों को लेकर आती है। बच्चों को कई बार अच्छे स्कूल में प्रवेश नहीं मिल पाता है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

मौसम अलर्ट: जल्द दस्तक देगा मानसून, राजस्थान के 7 जिलों में होगी बारिशइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलस्कूलों में तीन दिन की छुट्टी, जानिये क्यों बंद रहेंगे स्कूल, जारी हो गया आदेश1 जुलाई से बदल जाएगा इंदौरी खान-पान का तरीका, जानिये क्यों हो रहा है ये बड़ा बदलावNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयमोदी सरकार ने एलपीजी गैस सिलेण्डर पर दिया चुपके से तगड़ा झटकाजयपुर में रात 8 बजते ही घर में आ जाते है 40-50 सांप, कमरे में दुबक जाता है परिवार

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: महाराष्ट्र का सियासी संकट जल्द खत्म होने के आसार कम! सदस्यता को लेकर बागी विधायक कर सकते है कोर्ट का रुखMaharashtra Political Crisis: संजय राउत ने बागी विधायकों पर फिर साधा निशाना, ट्वीट कर कही ये बड़ी बातMaharashtra Political Crisis: वडोदरा में आधी रात को देवेंद्र फडणवीस और एकनाथ शिंदे के बीच हुई थी मुलाकात, सुबह पहुंचे गुवाहाटीBy-Elections 2022: तीन लोकसभा और सात विधानसभा सीटों पर उपचुनाव के नतीजे आजमेरे पास ममता बनर्जी को मनाने की ताकत नहीं: अमित शाहMumbai News Live Updates: महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी अस्पताल से हुए डिस्चार्ज, कोविड के कारण थे एडमिटपंजाब: भ्रष्टाचार के आरोप में गिरफ्तार IAS के बेटे ने खुद को गोली मारी, अधिकारी की पत्नी ने विजिलेंस टीम पर लगाया हत्या का आरोपMann Ki Baat : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज 'मन की बात' कार्यक्रम को करेंगे संबोधित
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.