रेलवे सुरक्षा नियमों की अवहेलना की कीमत 3 लोगों को जान देकर चुकानी पड़ी

( Railway News ) यात्रियों की सुरक्षा-संरक्षा करना रेलवे की ( Railway saftey rules violation ) जिम्मेदारी है, किन्तु चलती हुई ट्रेन के सामने आने पर रेलवे कुछ नहीं कर सकता। ऐसा ही हुआ लुधियाना में, जहां यात्रियों की सुरक्षा के नियमों की उपेक्षा करने से तीन लोगों की ( 3 trespassers died ) ट्रेन की चपेट में आने से मौत हो गई।

By: Yogendra Yogi

Published: 01 Mar 2020, 07:32 PM IST

लुधियाना(संजीव शर्मा): ( Railway News ) यात्रियों की सुरक्षा-संरक्षा करना रेलवे की ( Railway saftey rules violation ) जिम्मेदारी है, किन्तु चलती हुई ट्रेन के सामने आने पर रेलवे कुछ नहीं कर सकता। हादसा होने के बाद सिर्फ अफसोस ही जता सकता है। ऐसा ही हुआ लुधियाना में, जहां यात्रियों की सुरक्षा के नियमों की उपेक्षा करने से तीन लोगों की ( 3 trespassers died ) ट्रेन की चपेट में आने से मौत हो गई। इस हादसे में तीन अन्य लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। लापरवाही का यह हादसा लुधियाना ग्यासपुरा इलाके के रेलवे फाटक पर हुआ।

बंद फाटक से निकलने में हुआ हादसा
प्राप्त जानकारी के मुताबिक दिल्ली से अमृतसर शताब्दी के आने से पहले रेलवे फाटक बंद था इसके बावजूद कई लोग फाटक के नीचे से जबरदस्ती अपने वाहन लेकर गुजरने में लगे हुए थे। इसी दौरान तेजी से आती दिल्ली अमृतसर शताब्दी की चपेट में करीब छह लोग आ गए। ट्रेन उन्हें घसीटते हुए ले गई। मौके पर चीख पुकार अफरा तफरी मच गई। चालक ने तुरंत ब्रेक लगाकर ट्रेन को रोका लेकिन तब तक तीन लोगों की मौत हो चुकी थी। मृतकों में लोहरा निवासी रतनलाल गर्ग और गुरप्रीत कौर शामिल है। तीसरे मृतक की शिनाख्त नहीं हो सकी है।

तीन लोग की मौत, 3 अन्य घायल
पुलिस प्रशासन का कहना है कि महिला सहित दो लोगों की मौत हो गई, जबकि प्रत्यक्षदशिज़्यों के अनुसार तीन लोगों की मौत हुई है। हादसे के बाद एक बार ट्रेन को वहां रोका गया। सूचना मिलने के बाद कई थानों की पुलिस, जीआरपी की टीम और आरपीएफ की टीम मौके पर पहुंची। मौके पर खड़े लोगों ने गिरे लोगों को साइड पर किया। घायलों को तुरंत सिविल अस्पताल पहुंचाया गया जहां डाक्टरों ने गुरप्रीत कौर और रतन लाल को मृत घोषित कर दिया, जबकि तीसरे युवक की मौत इलाज के दौरान हो गई।

ट्रेन देख कर हो गया बेहोश
तेज रफ्तार शताब्दी को देख बाइक सवार गोविंदा बेहोश हो गया और ट्रेन से टकराने के पहले ही साइड पर गिर गया। लोगों ने उसे पास के निजी अस्पताल में पहुंचाया। हादसे के बाद ट्रेन जैसे ही वहां रुकी तो सूचना मिलने के कुछ समय बाद ही बड़ी संख्या में पुलिस फोर्स मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने घायलों को अस्पताल पहुंचाया और साथ ही पूरी ट्रेन को घेर लिया। जीआरपी के थाना प्रभारी सब इंस्पेक्टर बलवीर सिंह ने बताया कि महिला सहित दो लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि तीसरे का अभी पता नहीं है। इस हादसे में तीन लोग घायल हुए हैं। जांच के बाद ही कुछ कहा जा सकेगा। सूचना मिलते ही डीसी प्रदीप अग्रवाल और पुलिस कमिश्नर राकेश अग्रवाल भी घटनास्थल पर पहुंच गए थे।

Show More
Yogendra Yogi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned