सलेज से मजाक पर बहनोई को जूतों की माला पहना कर घुमाया

(Bihar News ) रिश्ते-नातों में (Family realtions ) हंसी-मजाक और चुहलबाजी अच्छी है, पर इसकी भी एक सोशल डिस्टेंसिंग (Social distanceing ) है। भारतीय संस्कृति (Indian culture ) में साली और सलेज से हंसी-ठिठोली करना आम बात है, किन्तु यदि यह लक्ष्मण रेखा (Laxman rekha ) पार कर जाए बात इस हद तक बिगड़ सकती है कि पिटने की नौबत भी आ सकती है। सलेज से मजाक करने वाले बहनोई से मारपीट कर जूते की माला पहना कर गांव में घुमाया गया।

By: Yogendra Yogi

Published: 05 Sep 2020, 05:45 PM IST

मधुबनी(बिहार): (Bihar News ) रिश्ते-नातों में (Family realtions ) हंसी-मजाक और चुहलबाजी अच्छी है, पर इसकी भी एक सोशल डिस्टेंसिंग (Social distanceing ) है। भारतीय संस्कृति (Indian culture ) में साली और सलेज से हंसी-ठिठोली करना आम बात है, किन्तु यदि यह लक्ष्मण रेखा (Laxman rekha ) पार कर जाए बात इस हद तक बिगड़ सकती है कि पिटने की नौबत भी आ सकती है।

दिल्लगी में टांग अड़ाई

कुछ ऐसा ही हुआ मधुबनी के बाबू बरही थाना इलाके के गांव बसहा में। इसमें सलेज से मजाक करना कुछ लोगों को रास नहीं आया, हालत यह हो गई कि न सिर्फ मारपीट ही की बल्कि मजाक करने वाले बहनोई को जूते की माला पहना कर गांव में घुमाया गया। अब हालात उन लोगों की खराब है जिन्होंने सलेज और बहनोई की दिल्लगी में टांग अड़ाई। पुलिस ने उन लोगों के खिलाफ मामला दर्ज करके गिरफ्तारी के प्रयास शुरु कर दिए हैं।

जूते की माला पहना कर घुमाया
बाबू बरही थाना क्षेत्र के बसहा गांव निवासी मो. शरीफ हैदराबाद में रहता है। उसका बहनोई मोहम्मद अब्दुल्ला गांव आया था। अब्दुल्ला अपनी सलेज भूली खातून के साथ दिन में हंसी-मजाक कर रहा था। आस-पड़ोसियों को यह बात नागवार गुजरी। इस मुद्दे पर रात में मस्जिद के निकट इस बात को लेकर ग्रामीण स्तर पर पंचायत बैठी। पंचायत में अब्दुल्ला को डेढ़ लाख रुपये जुर्माना व जूते का माला पहनाना कर गांव में जुलूस निकालने का फरमान जारी हुआ। रात में भी महफिल में इन्हें जूता का माला पहनाते घुमाया गया।

मारपीट पर एफआईआर दर्ज
अब्दुल्ला के ममेरे भाई मोहम्मद रसूल और उनके पक्ष के अन्य लोगों ने जब इस कार्रवाई का विरोध किया तो नौबत मारपीट तक आ पहुंची। मारपीट में मो अब्दुल्ला, मो. रसूल, फिरोदा खातून, मिन्नत, मिन्हाज आदि घायल हो गए। इनका उपचार बाबू बरही सीएचसी में चल रहा है। इस मामले मो रसूल ने गांव के अवसर उर्फ मुसहरू, फैजूल, अनिस, अताउर समेत नौ लोगों के विरुद्व मारपीट करने का आरोप लगाते हुए थाने में एफआईआर दर्ज कराई है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

Show More
Yogendra Yogi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned