आरटीई के तहत अब तक 1868 आवेदन जमा, दो दिन बाद बंद हो जाएगा ऑनलाइन पोर्टल

शिक्षा के अधिकार (आरटीई) के तहत निजी स्कूलों में प्रवेश के लिए अब तक 1868 ऑनलाइन आवेदन जमा हो चुके हैं।

By: Deepak Sahu

Updated: 29 Mar 2019, 02:40 PM IST

महासमुंद. शिक्षा के अधिकार (आरटीई) के तहत निजी स्कूलों में प्रवेश के लिए अब तक 1868 ऑनलाइन आवेदन जमा हो चुके हैं। एक मार्च से शुरू हुई ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया 30 मार्च चलेगी। इसके बाद ऑनलाइन पोर्टल बंद हो जाएगा।

जानकारी के अनुसार जिले के 203 निजी स्कूलों में 2052 बच्चों को आरटीई के तहत प्रवेश मिलेगा। ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया एक मार्च से शुरू हुई है। आवेदन प्रक्रिया समाप्त होने के बाद स्क्रूटनी का कार्य प्रारंभ होगा। आरटीई धारा 12 के तहत प्राइवेट स्कूलों में 25 प्रतिशत सीटें आरक्षित हैं। इस वर्ष शिक्षा विभाग नए सत्र शुरू होने के पहले भर्ती प्रक्रिया शुरू कर रहा है, क्योंकि अधिकतर प्राइवेट स्कूलों में अप्रैल महीने से पढ़ाई शुरू हो जाती है।

30 मार्च तक ही अभिभावक ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। पोर्टल में उम्र का आकलन 31 मार्च 2019 को आधार मानकर किया जा रहा है। नर्सरी में प्रवेश के लिए बच्चे की उम्र न्यूनतम तीन साल और अधिकतम ४ चाल होनी चाहिए। केजी-1 में चार वर्ष से अधिक और 5 वर्ष होना चाहिए। पहली में 5 वर्ष से अधिक व साढ़े ६ साल से कम होना चाहिए।

203 में एंट्री क्लासेस
जिले में 203 निजी स्कूल हैं। इनमें 203 स्कूल में एंट्री क्लासेस हैं। 2019-20 सत्र के लिए 2052 सीट है। नर्सरी, केजी 1 एंट्री हैं। गौरतलब है 2018 में 2252 विद्यार्थियों ने आवेदन दिया था और 1520 विद्यार्थियों को ही लाभ मिला। जानकारी के अनुसार स्कूलों में प्रवेश के लिए आवेदक अभिभावक का राशन कार्ड या आधार कार्ड होना अनिवार्य है। राशन कार्ड में बच्चे का नाम होना जरूरी है। स्क्रूटनी के दौरान राशन कार्ड में बच्चे का नाम नहीं मिला या अभिभावक द्वारा दी गई जानकारी मेल नहीं खाती है तो आवेदन निरस्त हो सकता है।

30 मार्च तक समय
महासमुंद,डीईओ, बीएल कुर्रे आरटीई के तहत ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया चल रही है। 30 मार्च तक अभिभावक पोर्टल में ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

Deepak Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned