65 फीसदी परिवारों का अब तक नहीं बना स्मार्ट कार्ड, नहीं मिल पा रहा लाभ

65 फीसदी परिवारों का अब तक नहीं बना स्मार्ट कार्ड, नहीं मिल पा रहा लाभ

Deepak Sahu | Publish: Jul, 13 2018 04:44:13 PM (IST) Mahasamund, Chhattisgarh, India

शहर के 5207 परिवार स्मार्ट कार्ड नहीं बनने से मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना का लाभ लेने से वंचित हो गए।

महासमुंद. छत्तीसगढ़ के महासमुंद जिले में स्वास्थ्य विभाग की लचर व्यवस्था और पुराने वार्डों के आधार पर बनी प्लानिंग से महासमुंद शहर के 5207 परिवार स्मार्ट कार्ड नहीं बनने से मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना का लाभ लेने से वंचित हो गए। अब स्मार्ट कार्ड कब बनेगा, इस पर संशय है।

स्मार्ट कार्ड बनने की प्रक्रिया की जांच-पड़ताल की गई, तो पता चला कि पुराने वार्ड क्रमांक के आधार पर वितरण के लिए बनाई गई पर्ची आवेदकों को नहीं मिली। लोग पार्षदों और मितानिनों से जानकारी लेने के लिए चक्कर लगाते रहे। पर्ची मिल भी गई, तो शिविर में मौजूद ऑनलाइन सूची में उनका नाम गायब था। इस तरह हजारों लोगों को मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना का लाभ नहीं मिल पाया।

 

cg news

कई लोगों के नाम ही नहीं है लिस्ट में
पहले चरण में जिला मुख्यालय में सभी 30 वार्डों में शिविर का आयोजन किया गया था। शिविर का आयोजन 1 से 7 जुलाई तक हुआ। स्वास्थ्य विभाग को करीब शहर से 8010 आवेदन प्राप्त हुए थे। इनमें से 35 फीसदी परिवार ही स्मार्ट कार्ड बनाने के लिए शिविर में पहुंचे। नागरिकों का कहना है कि शिविर को लेकर वे काफी भ्रमित थे। लोगों को लिस्ट में नाम ढूंढने में मशक्कत करनी पड़ी, तो कई लोगों का नाम इस लिस्ट में ही नहीं था। विभाग द्वारा स्मार्ट बनाने के लिए मितानिनों को सूची बांटने की जिम्मेदारी दी गई थी, लेकिन मितानिनों ने सूची नहीं बांटी। इस कारण लोगों को भारी परेशानी हुई। इनकी गलती का खामियाजा लोग भुगत रहे हैं। इसके बाद दूसरे चरण में कई वार्डों में शिविर लगा। जानकारी के अभाव में फिर लोग स्मार्ट बनाने से वंचित रह गए।

इन निकायों में भी लगेंगे शिविर
स्मार्ट कार्ड बनाने के लिए बागबाहरा में 9 से 13 जुलाई तक शिविर का आयोजन किया गया। इसके बाद सरायपाली में भी शिविर लगाए जाएंगे। वहीं बसना और पिथौरा में जल्द ही शिविर लगाने के लिए बैठक में प्लानिंग बनेगी। तिथि निर्धारण के बाद शिविरों का आयोजन किया जाएगा।

छूटे हुए को लाभ दिलाने शिविर की योजना

महासमुंद के स्मार्ट कार्ड प्रभारी,ओमप्रकाश धुरंधर ने बताया स्मार्ट कार्ड बनाने के लिए शिविर का आयोजन किया गया। इसके पूर्व वार्डों में मुनादी भी कराई गई थी। शहर में केवल 35 प्रतिशत लोगों का ही स्मार्ट कार्ड बन पाया है। जिनका नहीं बना है, उसके लिए बाद में फिर शिविर लगाने की योजना बनाएंगे।

यहां लगा दूसरे चरण में शिविर
स्मार्ट कार्ड बनाने का पहला चरण समाप्त होने के बाद दूसरे चरण के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा 9 जुलाई से वार्ड-1 में पुराना अस्पताल, वार्ड-2 सेन भवन, वार्ड-3 अंबेडकर स्कूल, वार्ड-4 ठेठवार भवन, वार्ड-5 अंबेडकर स्कूल, वार्ड-7 में शिव चौक, वार्ड-8 में लालदाड़ीपारा, वार्ड-9 श्रीराम मंदिर, वार्ड-10 मछली मार्केट, वार्ड-11 सिविल लाइन, वार्ड-12 पुराना रावण भाठा आंगनबाड़ी केंद्र, वार्ड-13 गोडपारा आंगनबाड़ी केंद्र, वार्ड-14 रंगमंच कुर्मीपारा, वार्ड-15 व 16 श्रीराम पाठशाला, वार्ड-17 -18 में कुम्हारपारा स्कूल, 11 जुलाई को वार्ड-19 क्लबपारा आंगनबाड़ी केंद्र, वार्ड-20 गुड़रूपारा स्कूल, वार्ड-21 आदर्श नगर आंगनबाड़ी केंद्र, वार्ड-23 इमलीभाठा स्कूल, राधाकृष्ण मंदिर के पास, वार्ड-24 में संत रविदास भवन में शिविर लगाया गया था।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned