रात के अंधेरे में उड़ा ले गए लाखों के जेवरात, सोता रहा परिवार

घर से ढाई लाख के जेवरात पार

महासमुंद. जिले के तुमगांव थानांतर्गत ग्राम मालीडीह में रविवार-सोमवार की रात अज्ञात चोर शिक्षाकर्मी के घर से पेटी उठाकर बाड़ी की ओर ले गए और उसमें रखे ढाई लाख रुपए के जेवरात उड़ा ले गए| पुलिस ने घटना स्थल का जायजा लिया तो उनके सामने चौंकाने वाले तथ्य सामने आए। रात में हुई घटना की किसी को भनक तक नहीं लगी, जबकि जिस मकान में चोरी हुई हैं, वहां दो परिवार निवास करते हैं। हालांकि, पुलिस ने अज्ञात चोरों के खिलाफ धारा 457380 के तहत अपराध दर्ज कर जांच में लिया है। तुमगांव थाना प्रभारी एमएल शुक्ला ने बताया कि सोमवार की सुबह सूचना मिली कि ग्राम मालीडीह के हितेश चंद्राकर पिता देवकुमार (28) के यहां अज्ञात चोरों ने कमरे और पेटी का ताला तोडक़र लाखों रुपए के जेवरात की चोरी कर ली है।

किसी अपने की साजिश

सूचना मिलते ही थाना प्रभारी, क्राइम स्क्वॉड सहित डॉग स्क्वॉड मौके पर पहुंचा। पुलिस ने कमरे सहित घर के चारों ओर जायजा लिया, लेकिन कहीं से चोरी होने की पुष्टि नहीं हो रही थी। प्रार्थी ने ताला तोडक़र चोरी करना बताया, लेकिन कमरे के गेट एवं संदूक पर ताला तोडऩे के कोई निशान नहीं हैं। पुलिस बारीकी से चोरी की घटना की छानबीन कर रही है। थाना प्रभारी का कहना है कि मालीडीह के शिक्षाकर्मी के घर में चार कमरे हैं और बीच में आंगन है। एक कमरे में माता-पिता, दूसरे में बड़े भाई, तीसरे में प्रार्थी और चौथे में किचन है। दो-तीन महीने से प्रार्थी वहां से निकलकर तुमगांव में एक किराए के मकान में निवास करता है। आशंका व्यक्त की जा रही है कि जाना-पहचाना व्यक्ति ही इस चोरी को अंजाम दिया होगा।

घर में ही घुस रहा डॉग

पेटी को कमरे से बाहर ले जाकर बाड़ी में फेंक दिया गया था। पुलिस ने पेटी के पास से एक कुदाल भी बरामद की है। प्रार्थी का कहना है कि कुदाल से कमरे व पेटी का ताला तोड़ा गया है। चोरी का पता लगाने के लिए पुलिस ने डॉग स्क्वॉड की मदद ली। डॉग स्क्वॉड पेटी, कुदाल व ताला को सूंघने के बाद इधर-उधर न जाकर वह घर में ही घुस रहा है।

खाली डिब्बे पत्नी के पास

पुलिस ने प्रार्थी के तुमगांव स्थित किराए के मकान का भी जायजा लिया। यहां पता चला कि शिक्षाकर्मी की पत्नी कीमती साडिय़ों को पुराने घर से यहां ले आई है। वहीं जेवरात के खाली डिब्बे भी उसकी पत्नी के पास मिले। पुलिस पूछताछ कर रही है। प्रथम दृष्टि में पुलिस इसे चोरी की घटना मान रही है। लेकिन इस मामले को लेकर तरह-तरह की चर्चा है।

चंदू निर्मलकर Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned