आधी रात बदमाशों ने सो रही मां बेटी को उतारा मौत के घाट, दो गंभीर

सूचना मिली कि गढफ़ुलझर डीपापारा वार्ड-1 में बुधवार की रात करीब 11-12 बजे बरिहा परिवार पर किसी ने फरसे से वार कर दिया है।

महासमुंद. गहरी नींद में सो रहे एक परिवार पर फरसा से ताबड़तोड़ वार कर दो लोगों की हत्या कर दी गई और दो लोगों को मौत के मुंहाने पहुंचा दिया गया। मृतकों को एक महिला और एक बच्चा है। वारदात में गंभीर रूप से घायल एक महिला और पुरुष को रायपुर रेफर किया गया है। इधर पुलिस अज्ञात हत्यारों की तफ्तीश में जुट गई है।
बसना थाना प्रभारी केके वाजपेयी ने बताया कि यह सूचना मिली कि गढफ़ुलझर डीपापारा वार्ड-1 में बुधवार की रात करीब 11-12 बजे बरिहा परिवार पर किसी ने फरसे से वार कर दिया है।

Read More News: छत्तीसगढ़ के इस गांव में नए कपड़े पहनकर दिवाली की तरह मनाते हैं गणतंत्र दिवस

सूचना मिलते ही पुलिस घटना स्थल पहुंची। जहां कैथेलोबाई पति कार्तिक बरिहा (70) मृत अवस्था में पड़ी थी। उसका नाती अभिषेक बरिहा पिता नंदकुमार (10), साधनी बाई एवं अनुज बरिहा खून से सने हुए पड़े थे। वहीं 10 साल की एक बच्ची सुरक्षित थी। पुलिस ने घायल साधनी बाई, अनुज बरिहा एवं अभिषेक बरिहा को उपचार के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बसना ले जा रहे थे कि रास्ते में बालक अभिषेक ने दम तोड़ दिया। वहीं घायल साधनी बाई एवं अनुज को प्राथमिक उपचार के बाद रायपुर रेफर कर दिया गया। इस हादसे के बाद गांव में सनसनी फैल गई है।

क्राइम ब्रांच एवं स्थानीय पुलिस मामले की छानबीन मेें जुट है। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक संजय ध्रुव ने बताया कि दो संदेही मृतका के पुत्र अविनाश बरिहा एवं भतीजा मुक्तेश्वर हैं। पुलिस ने मृतका के पुत्र अविनाश को हिरासत में ले लिया है और उससे पूछताछ की जा रही है। वहीं पुलिस भतीजे की सरगर्मी से तलाश कर रही है। ध्रुव ने बताया कि हत्या का कारण अब तक पता नहीं चल पाया है। घायलों की स्थिति में अब तक सुधार नहीं हो पाया है, इस कारण बयान नहीं लिया जा सका है।

चंदू निर्मलकर Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned