फर्स्ट और सेकंड ईयर के छात्रों को भी देनी होगी परीक्षा, ई-मेल से मिलेगा प्रश्नपत्र, 25 सितंबर से शुरू होंगे Exam

एग्जाम फ्रॉम होम पद्धति से प्रथम, द्वितीय व अंतिम वर्ष की शेष परीक्षाओं का आयोजन किया जाएगा। इसके लिए छात्रों को उत्तर पुस्तिकाओं का वितरण 17 सितंबर से किया जाएगा।

By: Bhawna Chaudhary

Published: 15 Sep 2020, 08:00 AM IST

महासमुंद. पं.रविशंकर विश्वविद्यालय द्वारा एग्जाम फ्रॉम होम पद्धति से प्रथम, द्वितीय व अंतिम वर्ष की शेष परीक्षाओं का आयोजन किया जाएगा। इसके लिए छात्रों को उत्तर पुस्तिकाओं का वितरण 17 सितंबर से किया जाएगा। रविवि ने इसके लिए समय सारणी भी जारी कर दी है। इसके तहत तीन पालियों में परीक्षा आयोजित की जाएगी।

रविवि के इस फैसले से जनरल प्रमोशन की आस लगाकर बैठे छात्रों को झटका लगा है। गौरतलब है कि कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से रविवि की परीक्षाएं स्थगित कर दी गई थी। अब वार्षिक परीक्षा 2019-20 का आयोजन करने का फैसला लिया गया है। जानकारी के मुताबिक वार्षिक परीक्षा 2020 व सेमेस्टर परीक्षा मई जून में ओएमआर शीट युक्त उत्तरपुस्तिका का उपयोग किया जाना है। परीक्षार्थी प्रवेश पत्र दिखाकर उत्तर पुस्तिका 17 से 23 सितंबर तक परीक्षा केंद्र से प्राप्त कर सकते हैं। पं.रविशंकर शुक्ल विवि की परीक्षाएं 25 सितंबर से शुरू हो रही है, जो अक्टूबर माह तक चलेंगी।

मिली जानकारी के अनुसार प्रश्न-पत्रों का वितरण परीक्षा प्रारंभ होने 30 मिनट पहले विवि केंद्राध्यक्षों के ई-मेल आईडी पर मेल करेगा वही प्रश्नों की छायाप्रति परीक्षा केंद्र के बोर्ड में भी चस्पा रहेगी। केंद्र के माध्यम से छात्रों को ई-मेल वाट्सएप पर प्रश्न-पत्र दिया जाएगा। उत्तर अपने घर पर या सुविधाजनक स्थान पर लिख सकेंगे परीक्षार्थियों को उत्तर पुस्तिका के सभी पृष्ठ पर लघु हस्ताक्षर और अंतिम पेज पर पूर्ण हस्ताक्षर भी करना होगा और निर्धारित पृष्ठ में ही उत्तर लिखना होगा। अलग से उत्तर पुस्तिका नहीं मिलेगी। परीक्षा समय समाप्त होने के दो घंटे के भीतर उत्तर पुस्तिका परीक्षा केंद्रों में जमा करना होगा। परीक्षार्थी यदि किसी कारण से उत्तरपुस्तिका नहीं भेज सकते, तो ईमेल से प्रेषित करेंगे।

कई छात्रों के पास ई-मेल व वाट्सऐप नहीं
विवि ने छात्रों के लिए घर पर बैठकर लिखने की सुविधा तो दी है, लेकिन कई छात्रों के पास न ही ई-मेल आईडी है और न ही वाट्स ऐप है। मिली जानकारी के अनुसार जब विवि ने छात्रों के ई-मेल आईडी और वाट्सऐप नंबर मंगाए थे. उसमें कई छात्रों ई-मेल आईडी नहीं दिया था। ऐसे में शेष बची हुई परीक्षा के लिए छात्रों को मशक्कत करनी पड़ सकती है। एग्जाम फ्रॉम फोम के तहत होने वाली परीक्षा में पूरक परीक्षा की पात्रता नहीं होगी। एग्जाम फ्रॉम होम पद्धति वाली परीक्षा में छात्रों के पास पुनर्मूल्यांकन व पुनर्गणना की पात्रता नहीं होगी।

Show More
Bhawna Chaudhary
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned