सरकार ने किया पेंशन योजना में बड़ा बदलाव, बुजुर्गो को होगा अब ये फायदा

सरकार ने किया पेंशन योजना में बड़ा बदलाव, बुजुर्गो को होगा अब ये फायदा

Deepak Sahu | Publish: Apr, 27 2018 03:12:08 PM (IST) Mahasamund, Chhattisgarh, India

पेंशन योजना की गाइड लाइन में केंद्र शासन द्वारा बदलाव किया गया है अब नई सूचि से होगा जरुरतमंदो को लाभ


महासमुंद. छत्तीसगढ़ के महासमुंद जिले में पेंशन योजना की गाइड लाइन में केंद्र शासन द्वारा बदलाव किया गया है। पेंशन योजना में सन् 2002-03 की गरीबी रेखा सर्वे सूची की बाध्यता खत्म कर दी है। इससे पेंशन से वंचित हजारों लोगों में नई उम्मीद जागी है। अब नई सूची तैयार होगी और जरूरतमंदों को पेंशन का लाभ मिलेगा।

समाज कल्याण विभाग द्वारा वृद्धावस्था, सामाजिक सुरक्षा, सुखद सहारा, विधवा और दिव्यांग पेंशन योजना संचालित है। वृद्धावस्था, विधवा एवं दिव्यांग पेंशन योजना केंद्र सरकार की योजना है। केंद्र सरकार ने पेंशन योजना में गरीबी रेखा सूची में नाम होना अनिवार्य कर दिया था।

इसके चलते जरूरतमंद इससे लाभान्वित नहीं हो पा रहे थे। बुजुर्गों को भी पेंशन के लिए जीवन के अंतिम पड़ाव में शासकीय कार्यालयों का चक्कर काटना पड़ रहा था। इस योजना का लाभ 60 या उससे अधिक उम्र वाले एवं अन्य योजना में जिनका नाम गरीबी रेखा की सर्वे सूची में अंकित हो उसे मिलता है।

पेंशन के लिए इस साल लोक सुराज में करीब 5 हजार आवेदन मिले हैं। इसमें 3 हजार से अधिक लोगों का नाम गरीबी रेखा की सर्वे सूची में नहीं होने के कारण अपात्र घोषित कर दिया गया है। इसके कारण उन्हें योजना का लाभ नहीं मिल पा रहा है। कई जनप्रतिनिधियों ने केंद्र सरकार को पेंशन योजना में गरीबी रेखा सर्वे सूची की बाध्यता समाप्त करने के लिए पत्र लिखा था।

सर्वे होगा और भौतिक सत्यापन भी
नवीन पेंशन योजना की गाइड लाइन आते ही समाज कल्याण विभाग द्वारा सर्वे कराया जाएगा। कर्मचारी घर-घर सर्वे के बाद एक सूची तैयार करेंगे। भौतिक सत्यापन के बाद सूची शासन को भेजी जाएगी। इस योजना में मकान, झुग्गी-झोपड़ी, भूमिहीन परिवार, विधवा, परित्यकता एवं ऐसे दिव्यांग जिसके परिवार में सक्षम शरीर वाले वयस्क न हो, उसको इस योजना का लाभ दिया जाएगा, जो इस कैटीगरी में आ रहे हैं।

पेंशनरों के खातों में जमा हो रही राशि
पेंशन वितरण में गड़बड़ी को देखते हुए इस वर्ष बड़ा बदलाव किया गया है। पेंशनधारियों की पेंशन राशि को सीधे उनके खाते में जमा किया जा रहा है। इसके लिए समाज कल्याण विभाग ने पेंशनधारियों का खाता भी खुलवाया है। लेकिन बुजुर्गों को बैंक से पेंशन लेने में काफी तकलीफ भी हो रही है। वृद्ध पुरानी पद्धति से पेंशन बांटने की मांग कर रहे हैं। इसके लिए कई वृद्धजनों ने जनदर्शन में भी आवेदन दिया है।

88 हजार को मिल रही पेंशन
समाज कल्याण विभाग की मानें तो वर्तमान में पांच पेंशन योजनाओं में जिले के 88345 लोगों को लाभ मिल रहा है। नवीन पेंशन योजना के तहत अब इसमें छूटे हुए लोग भी जुड़ जाएंगे। समाज कल्याण विभाग नवीन पेंशन योजना की तैयारियों में जुट गया है।

हालांकि अधिकारियों का कहना है कि अभी कोई गाइड लाइन नहीं आई है।
महासमुंद के समाज कल्याण विभाग के उप संचालक, एमएम नाग ने बताया नवीन पेंशन योजना के तहत सरकार ने गरीबी रेखा सर्वे सूची की बाध्यता समाप्त कर दी है। हालांकि अभी गाइड लाइन नहीं
आई है।

Ad Block is Banned