झोलाछाप डॉक्टरों के फिर खुल गए क्लीनिक, स्वास्थ्य विभाग के अफसरों ने कहा - नहीं आई है कोई शिकायत

कुछ डॉक्टरों ने कार्रवाई से बचने बकायदा मेडिकल स्टोर भी खोल लिया है, ताकि जांच हो तो आसानी से बच निकलें।

Deepak Sahu

September, 1305:11 PM

Mahasamund, Chhattisgarh, India

महासमुंद. छत्तीसगढ़ में छह महीने पहले स्वास्थ्य विभाग ने सख्ती बरतते हुए जिन झोलाछाप डॉक्टरों के क्लीनिकों को सील किया था, उनमें अधिकतर फिर खुल गए हैं। यही नहीं, कुछ डॉक्टरों ने कार्रवाई से बचने बकायदा मेडिकल स्टोर भी खोल लिया है, ताकि जांच हो तो आसानी से बच निकलें।

झोलाछाप डॉक्टर अब प्रैक्टिस के साथ मरीजों को दवाएं भी बेच कर रहे हैं, पर स्वास्थ्य के अफसरों को कुर्सी पर बैठकर शिकायतों का इंतजार है। शिकायत आती भी है, तो कार्रवाई नहीं होती।

सीएमएचओ का कहना है कि शिकायत नहीं आती है, इसलिए कार्रवाई नहीं की जाती है। जानकारी के मुताबिक सरायपाली से 10 किमी दूर फोरलेन पर स्थित एक गांव में एक झोलाछाप डॉक्टर वर्तमान में मेडिकल स्टोर का संचालन कर रहा है। पता यह भी चला है कि यहां पहले क्लीनिक का संचालन हो रहा था, उसे सरायपाली बीएमओ ने शिकायत पर सील कर दिया था, अब उसी जगह पर मेडिकल स्टोर संचालन के लिए ड्रग विभाग ने लाइसेंस भी जारी कर दिया गया है।

विभाग की मेहरबानी से जान से खिलवाड़
सूत्रों के मुताबिक झोलाछाप डॉक्टर व अवैध क्लीनिक की सूची चिकित्सा अधिकारियों के पास है। इसी सूची के आधार पर पहले कार्रवाई की गई थी। यहां सबसे बड़ा सवाल यह है कि क्या छह महीने पहले झोलाछाप डॉक्टर गलत थे, इसलिए उनके क्लीनिक सील किए गए या फिर छह महीने बाद स्वास्थ्य विभाग ने उन्हें सही करार दे दिया, इसलिए क्लीनिक खुल गए। यही बात हजम नहीं हो रही है। सरायपाली इलाके में कुछ झोलाछाप डॉक्टर ऐसे भी हैं, जो बड़े ऑपरेशन के लिए मरीजों को ओडिशा तक ले जाते हैं। छोटे-मोटे ऑपरेशन तो खुद ही कर लेते हैं।

नहीं मिलती शिकायत
सीएमएचओ डॉ. एसबी मंगरूलकर ने बताया कि कोई शिकायत नहीं करता है। हाल ही में सरायपाली में एक मामले में कार्रवाई की गई है। सभी विकासखंड में बीएमओ को निर्देश दिए हैं कि ऐसे मामले आने पर कड़ी कार्रवाई की जाए।

Show More
Deepak Sahu
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned