MLA ने एेसा क्यों कहा - मैं भाजपा का ही आदमी हूं, लेकिन...

MLA ने एेसा क्यों कहा - मैं भाजपा का ही आदमी हूं, लेकिन...

Chandu Nirmalkar | Publish: Dec, 07 2017 03:55:25 PM (IST) Mahasamund, Chhattisgarh, India

लेकिन मैं यही कहता हूं कि नगर व क्षेत्र के विकास के लिए हम सबको साथ बैठने में कोई हर्ज नहीं होना चाहिए।

महासमुंद. मैं भाजपा का ही हूं, भाजपा की विचारधारा मेरी विचारधारा है, पर यहां के कुछ भाजपा नेता मुझे सहन नहीं कर पाते, नपाध्यक्ष रहा तब भी और अब विधायक हूं तब भी। अपनी लकीर लंबी करने के बजाय सोचते हैं कि ये आगे बढ़ रहा है तो इसे दबाया जाए। लेकिन मैं यही कहता हूं कि नगर व क्षेत्र के विकास के लिए हम सबको साथ बैठने में कोई हर्ज नहीं होना चाहिए।

उक्त बातें विधायक डॉ. विमल चोपड़ा ने बुधवार को पत्रकारवार्ता में तब कही जब उनसे यह पूछा गया कि भाजपा के लोग आपका इतना विरोध क्यों कर रहे हैं, कहीं पार्टी में आने से रोकने के लिए तो नहीं। विकास कार्यों का श्रेय लेते हुए भूमिपूजन-लोकार्पण और अभिनंदन को लेकर डॉ. चोपड़ा भाजपा नेताओं के निशाने पर हैं। डॉ. चोपड़ा ने उनके आरोपों पर अपनी बात कही।

उन्होंने शहर में बनने जा रहे ओवरब्रिज को लेकर कहा कि १५ साल पहले यह बजट में आया था, लेकिन जो लोग यह कहते हैं कि इसका भूमिपूजन हमने सिरपुर में ही कर दिया है उन्हें शर्म आनी चाहिए। उस समय चुनाव को देखते आचार संहिता लगने के एक दिन पहले शहर से दूर सिरपुर में भूमिपूजन कर दिया, लेकिन इसके बाद कोई सुध नहीं ली। प्रशासकीय स्वीकृति अभी डेढ़ साल पहले मिली, इसके लिए हमने संघर्ष किया। इसके बाद भी अड़चनें आईं। कलक्टर मुआवजा प्रकरण नहीं बना रहे थे।

हमने कलक्टर के चेम्बर में घुसकर धरना दिया तब मुआवजा प्रकरण बनना शुरू हुआ। अभी नगर के बीच से गुजरे एनएच के लिए 57 करोड़ स्वीकृत हुआ है, यह हमारा ही लंबे प्रयास का नतीजा है, इसका हमने प्रमाण भी दिया है, लेकिन उनके पास क्या प्रमाण है जो यह कहते हैं कि हमने यह किया है। सीएम की घोषणा के ५ में से एक करोड़ मिले भी, तो एनओसी तक नहीं ला सके।

हम संघर्ष करते हैं, इसलिए होता है अभिनंदन
डॉ. चोपड़ा ने कहा कि मैं नहीं कहता कि किसी विकास कार्य के लिए मैंने कोई पैसा दिया है, पैसा जनता का है, योजना सरकार बनाती है, लेकिन उसके लिए संघर्ष हम करते हैं। और इसके लिए जनता अभिनंदन करती हैं तो क्या उन्हें मना कर दें। मेरा विरोध करने वाले भी जाएं अपना अभिनंदन कराएं, उन्हें मैंने थोड़ा रोका है। वही काम अन्य विधायक करते हैं तो कोई आपत्ति नहीं, मैं करता हूं तो आपत्ति करते हैं। डॉ. चोपड़ा ने यह भी कहा कि एकलव्य विद्यालय को बसना ले जाने का प्रयास हो रहा था, लेकिन किसी ने कुछ नहीं किया, लेकिन मैंने कहा था, महासमुंद से नहीं जाने दूंगा।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned