हाथियों के उत्पात से किसानों की बढ़ी मुसीबतें, धान की फसल को रौंद डाला

हाथियों (Elephant) के लगातार उत्पात से किसानों की नींद उड़ गई है। दो दंतैल परसाडीह से पीढ़ी के कैमरा डेरा से होते हुए जंगल किनारे लगे खेत में धान के फसल को नुकसान पहुंचाया।

By: Bhawna Chaudhary

Published: 02 Oct 2020, 10:00 PM IST

महासमुंद. हाथियों (Elephant) के लगातार उत्पात से किसानों की नींद उड़ गई है। दो दंतैल परसाडीह से पीढ़ी के कैमरा डेरा से होते हुए जंगल किनारे लगे खेत में धान के फसल को नुकसान पहुंचाया। लहंगर के मोहकम रास्ते में हेमकुमार निषाद, जितेंद्र कुमार निषाद और पूरण ध्रुव के खेत में धान की फसल को जमकर नुकसान पहुंचाया है।

हाथी भगाओ, फसल बचाओ समिति के संयोजक राधेलाल सिन्हा ने बताया कि इन दिनों तीनों हाथी अलग-अलग विचरण कर रहे हैं। सिरपुर क्षेत्र के किसान और ग्रामीण परेशान हैं। एक दंतैल हाथी इतना उत्तेजित हो गया है, जो कभी भी आक्रमक होकर अप्रिय घटना को अंजाम दे सकता है। उन्होंने बताया कि ज्ञात हो कि हाथी लगातार फसलों को नुकसान पहुंचा रहे हैं।

धान में बालियां आनी शुरू हो गई है। इस वजह से किसानों को भी चिंता सता रही है। ग्रामीणों ने वन विभाग से गश्त बढ़ाने की मांग की है, जिससे फसलों को हाथियों से बचाया जा सके। उल्लेखनीय है कि पिछले चार वर्षों से हाथियों के उत्पात से सिरपुर क्षेत्र के किसान परेशान हैं। रबी और खरीफ सीजन में हाथी क्षेत्र में लौट आते हैं और फसल को नुकसान पहुंचाते हैं।

Bhawna Chaudhary
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned