साहूदारों के कर्ज से परेशान किसान ने की आत्महत्या

Hariom Dwivedi

Publish: May, 16 2019 07:52:44 PM (IST)

Mahoba, Mahoba, Uttar Pradesh, India

महोबा. शहर कोतवाली क्षेत्र के किडारी गांव में 38 बर्षीय किसान ने झांसी मानिकपुर रेलवे ट्रेक पर ट्रेन के आगे कूदकर आत्महत्या कर ली। रेलवे ट्रैक के किनारे किसान का शव मिलने से परिजनों में कोहराम मच गया। घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेज मामले की जांच में शुरू कर दी है ।

महोबा सदर तहसील के किडारी गांव में रहने वाले चंद्रपाल राजपूत के पास महज 4 बीघा जमीन थी, जिससे वह परिवार का भरण पोषण करता था। कई वर्षों से लगातार सूखे के चलते खेती में कुछ पैदावार नहीं हो रहा था खेती की बुआई और परिवार के भरण पोषण को लेकर चंद्रपाल ने गांव के साहूकारों से लाखों रुपये कर्ज ले रखा था। मगर हर वर्ष की भांति इस बार भी खेती में कोई पैदावार न होने के चलते साहूकार पैसा लौटाने का दबाव बना रहे थे।

मृतक के भाई ने बताया कि दो बेटियों की परवरिश ओर साहूकारों के कर्ज को लेकर खासा परेशान रहता था। इसी बात से आहत होकर उसने आज गांव के समीप से निकली रेलवे लाइन पर ट्रेन के सामने आकर आत्महत्या कर ली है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned