scriptPM Modi visits Mahoba said bundelkhand troubled by water migration | PM मोदी ने किसके कमीशन की बात बताई? पानी, पलायन से परेशान आल्हा-उदल जैसे वीरों का जिला | Patrika News

PM मोदी ने किसके कमीशन की बात बताई? पानी, पलायन से परेशान आल्हा-उदल जैसे वीरों का जिला

पीएम मोदी ने बुंदेलखंड की दुर्दशा पर बोलते हुए कहा कि मैं जब गुजरात का मुख्यमंत्री बना तो गुजरात के हालात भी बुंदेलखंड से अलग नही थे। आज कच्छ के रेगिस्तान तक पानी पहुंच रहा है। जैसी सफलता हमने वहां पाई यहां भी होने जा रहा है।

महोबा

Published: November 19, 2021 05:50:59 pm

पत्रिका न्यूज़ नेटवर्क
महोबा. उत्तर प्रदेश बुंदेलखंड क्षेत्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज एक बड़ी सभा को संबोधित करते हुए कई योजनाओं की शुरुआत की। पीएम मोदी अब तक कुल तीन बार बुंदेलखंड क्षेत्र में आ चुके हैं। इस दौरान उन्होने बुंदेलखंड क्षेत्र की तारीफ करते हुए कई प्रकार से यहाँ के लोगों की गाथाएँ सुनाएँ। पत्रिका आपको बता रहा है पीएम मोदी के महोबा विजिट की 10 बड़ी बातें।
narendra-modi-mahoba-22_202111220958.jpg
1 आल्हा, ऊदल और वीर चंदेलों की वीरता कण-कण में समाई है।
पीएम मोदी ने कहा कि महोबा में उतरते ही इस ऐतिहासिक धरती की एक अलग की अनुभूति होती है। यहाँ पर जन्म लेने वाले आल्हा उदल और वीर चंदेल के हिम्मत, साहस, और पराक्रम की तारीफ की। भारत की वीर बेटी,बुंदेलखंड की शान महारानी लक्ष्मीबाई का जन्मदिन भी है। जिसको लेकर देश की आज़ादी में जनजातीय समुदाय के योगदान के लिए जनजातीय सप्ताह मनाया जा रहा। बीते 7 सालों 7 सालों में हम कैसे सरकार को दिल्ली के बन्द कमरों से निकालकर देश के कोने कोने में लेकर गए हैं। ये महोबा इस बात का गवाह है।
2 उज्वला के दूसरे चरण की शुरुआत बुंदेलखंड से हुई
पीएम मोदी ने कहा कि यहीं से देश के उज्ज्वला योजना के दूसरे चरण की शुरुआत की थी। मुझे याद है मैंने मुस्लिम बहनों को तीन तलाक से मुक्ति दिलाने का वादा भी महोबा में ही किया था। वो वादा पूरा हो चुका है।
3 बुंदेलखंडी भाइयों को 3 हजार करोड़ से साफ पानी योजना
पीएम मोदी ने कहा कि आज मैं बुंदेलखंडी भाइयों के लिए 3 हज़ार करोड़ की परियोजनाओं से हमीरपुर, ललितपुर, बांदा के लाखों किसान परिवार को लाभ दिलाने आया हूँ। इससे यहाँ के 4 लाख परिवारों को पीने का साफ पानी मिलेगा। पीढ़ियों के इंतज़ार आज खत्म हो गया।
4 बुंदेलखंड जल संरक्षण सबसे बेहतर मॉडल
पीएम मोदी ने कहा कि बुंदेलखंड क्षेत्र में कभी जल संरक्षण का उत्तम मॉडल हुआ करता था। बुंदेलों, चंदेलों, परिहार, और यहाँ के राजाओं के समय के तालाब इसके उदाहरण हैं।
5 चित्रकूट यहीं है जिसने प्रभु राम का साथ दिया
पीएम मोदी ने कहा कि यहीं बुंदेलखंड क्षेता में ही चित्रकूट है। जिसने वनवास में प्रभु राम का साथ दिया था। जिसकी महिमा विश्व विख्यात है।
6 पानी और पलायन बन गया चुनौती
पीएम मोदी ने कहा कि समय के साथ साथ इतने पौराणिक और बड़े क्षेत्र में पानी और पलायन का केंद्र कैसे बन गया? क्यों यहां की बेटियों की शादी पानी वाले क्षेत्र मे करना चाहती हैं। ये बड़े सवाल है जो महोबा और बुन्देलखण्ड के लिए बड़ी समस्या भी है।
7 दिल्ली और उत्तर प्रदेश की सरकारों ने साथ मिलकर लूटा
पीएम मोदी ने कहा कि दिल्ली और उत्तर प्रदेश की सरकारों ने अब तक सिर्फ इस क्षेत्र का दोहन किया। यहाँ की प्रकृतिक सम्पत्तियों को लूटा है। माफियाओं ने यहां के संसाधनों का दुरुपयोग किया। लेकिन अब हमारी सरकार इनपर बुलडोज़र चला रही है।
8 विपक्ष कितना भी शोर मचा ले, काम नहीं रुकने वाला
पीएम मोदी ने कहा कि ये लोग कैसे भी शोर मचा लें। लेकिन काम रुकने वाला नहीं है। इन लोगो ने जैसा बर्ताव किया। उसे बुंदेलखंड के लोग नही भूल सकते हैं।
9 ताल तलैया के नाम पर सिर्फ फीता काटा
पीएम मोदी ने कहा कि नलकूप, ताल, तलैया के नाम पर विपक्ष ने सिर्फ फीते काटे, लेकिन क्या किया ये आप भी जानते हैं।

10 पानी, सूखा, खदान हर चीज में कमीशन सेट
पीएम मोदी ने कहा कि हमारी सरकार लगातार काम कर रही है। जबकि पहले खदान की खुदाई हो, पानी की सप्लाई हो, सूखा हो, या फसल की खराबी हो हर बात में कमीशन सेट था। आपका परिवार बून्द बून्द तरसे इनसे उनका कोई सरोकार नही था। सालो तक ये अर्जुन सहायक योजना अधूरी पड़ी रही। मैंने देखा तो उन योजनाओं का रिकॉर्ड मंगवाया। पीएम मोदी ने बुंदेलखंड की दुर्दशा पर बोलते हुए कहा कि मैं जब गुजरात का मुख्यमंत्री बना तो गुजरात के हालात भी बुंदेलखंड से अलग नही थे। आज कच्छ के रेगिस्तान तक पानी पहुंच रहा है। जैसी सफलता हमने वहां पाई यहां भी होने जा रहा है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Health Tips: रोजाना बादाम खाने के कई फायदे , जानिए इसे खाने का सही तरीकाCash Limit in Bank: बैंक में ज्यादा पैसा रखें या नहीं, जानिए क्या हो सकती है दिक्कतSchool Holidays in January 2022: साल के पहले महीने में इतने दिन बंद रहेंगे स्कूल, जानिए कितनी छुट्टियां हैं पूरे सालVideo: राजस्थान में 28 जनवरी तक शीतलहर का पहरा, तीखे होंगे सर्दी के तेवर, गिरेगा तापमानJhalawar News : ऐसा क्या हुआ कि गुस्से में प्रधानाचार्य ने चबाया व्याख्याता का पंजामां लक्ष्मी का रूप मानी जाती हैं इन नाम वाली लड़कियां, चमका देती हैं ससुराल वालों की किस्मतAaj Ka Rashifal - 24 January 2022: कुंभ राशि वालों की व्यापारिक उन्नति होगीMaruti की इस सस्ती 7-सीटर कार के दीवाने हुएं लोग, कंपनी ने बेच दी 1 लाख से ज्यादा यूनिट्स, कीमत 4.53 लाख रुपये

बड़ी खबरें

Punjab Election 2022: गठबंधन के तहत BJP 65 सीटों पर लड़ेगी चुनाव, जानिए कैप्टन की PLC और ढींढसा को क्या मिलाराष्ट्रीय वीरता पुरस्कार के विजेताओं से पीएम मोदी ने किया संवाद, 'वोकल फॉर लोकल' के लिए मांगी बच्चों की मददब्रेंडन टेलर का खुलासा, इंडियन बिजनेसमैन ने किया ब्लैकमेल; लेनी पड़ी ड्रग्ससंसद में फिर फूटा कोरोना बम, बजट सत्र से पहले सभापति नायडू समेत अब तक 875 कर्मचारी संक्रमितकर्नाटक में कोविड के 50 हजार नए मामले आने के बाद भी सरकार ने हटाया वीकेंड कर्फ्यू, जानिए क्या बोले सीएमकोरोना से ठीक होने के बाद ऐसे रखें अपने सेहत है ख्यालUP election 2022 - सपा ने जारी की विधानसभा प्रत्याशियों की सूचीएनएफएसयू का साइबर डिफेंस सेंटर अब आईएसओ-आईसी प्रमाणित, बनी देश की पहली लैब
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.