महिला सिपाही ने दिखाई दरियादिली, रक्तदान से बची प्रसूता की जान

100 किमी यात्रा करके जिला अस्पताल पहुँच दुर्लभ ब्लड बी निगेटिव रके का किया रक्तदान

By: Ruchi Sharma

Published: 29 Mar 2019, 10:16 AM IST

महोबा. जिले में महिला सिपाही ने एक प्रसूता को रक्तदान करके इंसानियत का परिचय दिया है। दरअसल गरीब परिवार की प्रसूता के शरीर कम होने के कारण उसे रक्त की अत्यंत आवश्यकता थी। दुर्लभ ब्लड ग्रुप होने के कारण उपलब्ध भी नहीं हो पा रहा था। जिसके लिए प्रसूता ले परिजन काफी परेशान थे। रक्त की उपलब्धता हो जाने के बाद महिला को जीवन दान मिल गया और उनके परिवार में एक बार फिर ख़ुशी दौड़ आई है।


होबा के जैतपुर विकासखंड के धौर्रा गांव में रहने वाली प्रसूता क्रांति की रक्त की कमी के कारण हालत गंभीर हो गयी थी। प्रसूता को बी निगेटिव रक्त की जरूरत थी लेकिन रक्त की उपलब्धता न हो पाने के कारण डाक्टरों ने भी हाथ खड़े कर लिए थे और महिला को मेडिकल झांसी के लिए रेफर कर दिया था। ये खबर जब पनवाड़ी थाने में तैनात महिला सिपाही नीलम सिंह को पड़ी तो वह प्रसूता क्रांति की जान बचाने के लिए अपने थाने से छुट्टी लेकर महोबा जिला अस्पताल पहुंची और महिला बी निगेटिव ग्रुप ब्लड का रक्तदान करके महिला लो जीवन दान दिया। परिवारीजनों ने इस काम ले लिए महिला सिपाही को धन्यवाद दिया।

Ruchi Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned