यूपी में थाने के पास मिला दरोगा शव, पुलिस विभाग में मचा हड़कंप

यूपी में थाने के पास मिला दरोगा शव, पुलिस विभाग में मचा हड़कंप

Ashish Shukla | Publish: Sep, 11 2018 08:38:35 PM (IST) Mahrajganj, Uttar Pradesh, India

सवालों के घेरे में मौत की कहानी

महराजगंज. यूपी के महराजगंज जिले मे एक दरोगा थाने के पास शव मिलने से महकमे मे सनसनी फैल गई। नौतनवां कोतवाली थाने मेंं तैनात दारोगा की सदिंग्ध परिस्थितियों में मौत को लेकर चर्चाओं का बाजार भी गर्म है। मंगलवार की सुबह उनका शव उनके आवास के पीछे औंधे मुंह गिरा हुआ पाया गया।पुलिस इसे छत से गिरकर मौत मान रही है।लेकिन सवाल उठता है कि दरोगा जी छत पर क्यों गए थे और कैसे गिरे कि उनकी मौत हौ गई। अपराध की अनंत संभावनाओं वाले नेपाल सीमा के थाने पर तैनात एक दरोगा की छत से गिरकर मौत का मामला सवालों के घेरे मे है।

घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंचे एएसपी ने अपनी देखरख मे शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। उन्होंने बताया कि सोनौली कोतवाली थाने में तैनात दरोगा 58 वर्षीय जगदीश प्रसाद की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गयी। सोमवार को देर रात कोतवाली परिसर में स्थित आवास के छत से गिरकर मौत होना बताया जा रहा है। वह अपने आवास मे अकेले ही रह रहे थे । कोतवाल आन्नद कुमार गुप्ता का कहना है कि वे दरोगा का मंगलवार को सुबह ड्यूटी जाने के लिये इंतजार कर रहे थे। काफी समय के बाद तक उनके नही आने पर एक सिपाही को दारोगा के कमरे पर भेजा तो पता चला कि वे मकान के पिछले हिस्से की तरफ जमीन पर उल्टे मुंह गिरे पड़े हुए हैं ।

दरोगा जगदीश प्रसाद देवरिया जनपद के लार थाना क्षेत्र के निवासी थे । एएसपी आशुतोष शुक्ला का कहना है कि मृतक दारोगा कोतवाली सोनौली थाने मे तैनात थेए देर रात अपने कमरे के छत से निचे गिर गये जिससे उनकी मौत हो गयी है। फिलहाल दरोगा की छत से गिरकर मौत का मामला पूरी तरह रहस्यमयी है और इसके निष्पक्ष जांच की जरुरत है। इस घटना के बाबत मृतक दरोगा के परिजनों की ओर से भी शाम तक कोई लिखा पढ़ी नहीं की गई थी।

Ad Block is Banned