विकलांग को जूतों से मारने के मामले में मजिस्ट्रेट जांच, आरोपी दरोगा लाइन हाजिर


युवक की मौत के बाद एसपी ने किया आरोपी दरोगा को लाइन हाजिर

विकलांग युवक को थाने बुलाकर जूतों से पिटाई करने के मामले में मजिस्ट्रेटी जांच शुरु हो गर्इ है। जूता मारे जाने की इस घटना से क्षुब्ध विकलांग ने पेट्रोल छिड़ककर आत्महत्या कर लिया था। युवक की मौत के बाद एसपी महराजगंज ने आरोपी दरोगा को लाइन हाजिर करते हुए सीओ को जांच सौंपी थी। पुलिस ने विकलांग के भाई की तहरीर पर चार लोगों के खिलाफ केस भी दर्ज किया है।

Read this also: प्ले वे स्कूल के वैन ड्राइवर ने साढ़े तीन साल की बच्ची सेे हैवानियत

महराजगंज के निचलौल क्षेत्र के शीतलापुर गांव के किसुनपुर टोला के रहने वाले विकलांग युवक जगन्नाथ उपाध्याय का गांव की ही एक महिला से विवाद हो गया। सोमवार को दोनों पक्ष थाने पहुंचे। विकलांग के भाई अमरनाथ का आरोप है कि दोनों पक्षों को शीतलापुर चैकी के प्रभारी भगवान बक्श सिंह ने बुलाया था। दरोगा भगवान बक्श सिंह ने जगन्नाथ की परिसर में जूते से पिटाई कर दी। पीड़ित पक्ष का कहना है कि इस घटना से क्षुब्ध होकर जगन्नाथ घर पहुंचा और अपने ऊपर पेट्रोल डालकर आग लगा लिया। हालत गंभीर होने के कारण उसे मेडिकल कालेज गोरखपुर रेफर कर दिया गया। मंगलवार की भोर में उसकी मौत हो गई।

Read this also: गोरखपुर में बवाल के दौरान नुकसान की भरपाई के लिए आंकलन

मौत के बाद मामला गरमाया तो एसपी रोहित सिंह सजवान ने आरोपी दारोगा भगवान बक्श सिंह को लाइन हाजिर कर दिया है। पीड़ित पक्ष की तहरीर मिलने के बाद महिला शीला देवी समेत चार लोगों रामदरस, गिलासी व अविनाश के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है। पुलिस अधीक्षक ने पूरे प्रकरण की जांच सीओ निचलौल रणविजय सिंह को सौंपते हुए तीन दिनों के अंदर रिपोर्ट तलब की है।

Read this also: हेलमेट पहन बाइक चलाते मिले पति तो पत्नी को मिलेगा श्रेष्ठ पत्नी का प्रशस्ति पत्र

धीरेन्द्र विक्रमादित्य
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned