scriptBird experts will reach every corner of Kanha | कान्हा के चप्पे-चप्पे में पहुंचेंगे पक्षी विशेषज्ञ | Patrika News

कान्हा के चप्पे-चप्पे में पहुंचेंगे पक्षी विशेषज्ञ

10 राज्यों से पहुंची 55 सदस्य की टीम

मंडला

Published: June 11, 2022 01:05:38 pm

मंडला. कान्हा टायगर रिजर्व अंतर्गत 10 से 12 जून तक प्रथम ग्रीष्म ऋतु पक्षी सर्वेक्षण का आयोजन हो रहा है। यह पक्षी सर्वेक्षण कार्य सुनील कुमार सिंह, क्षेत्र संचालक, कान्हा टायगर रिजर्व के निर्देशन एवं वाईल्डलाईफ एंड नेचर, इंदौर की संस्था के सहयोग से किया जा रहा है। यह इस साल का दूसरा पक्षी सर्वेक्षण है, अलग-अलग ऋतु में सर्वेक्षण करने से पक्षियों की विभिन्न प्रकार की जातियों के बारे में जानकारी मिलती है। संयुक्त संचालक नरेश सिंह यादव द्वारा प्रतिभागियों को कान्हा के बारे में जानकारी दी गई। संस्था के अध्यक्ष सुरेंद्र बागड़ा ने बताया कि इस सर्वेक्षण कार्य में स्वयंसेवकों का रुझान बहुत अधिक था और अनुभव को आधार बनाते हुए देश के 10 राज्यों से 55 पक्षी विशेषज्ञ को चुना गया हैं। पक्षी सर्वेक्षण का मुख्य उद्देश्य प्रवासी और स्थानीय पक्षियों की गणना करना है, इस तरह के सर्वेक्षण से पक्षियों के बारे में अधिक जानकारी इक_ा करना है, उनके प्राकृतिक आवास, व्यवहार में कोई बदलाव आदि का अध्ययन करना है। कान्हा के पार्क अधीक्षक सुनील सिन्हा ने बताया कि सर्वेक्षण में 2 से 3 समूह को कान्हा टायगर रिजर्व के अलग-अलग स्थानों पर भेजा जाएगा और सर्वेक्षण किया जाएगा। इस तरह के सर्वेक्षण से विभाग को पक्षियों के आकड़ों को एकत्रित करने में सहायता मिलती है, तथा निष्कर्ष के अनुसार पक्षियों के संरक्षण हेतु योजना तैयार की जा सकेगी।

कान्हा के चप्पे-चप्पे में पहुंचेंगे पक्षी विशेषज्ञ
कान्हा के चप्पे-चप्पे में पहुंचेंगे पक्षी विशेषज्ञ

कान्हा टायगर रिजर्व अंतर्गत 10 से 12 जून तक प्रथम ग्रीष्म ऋतु पक्षी सर्वेक्षण का आयोजन हो रहा है। यह पक्षी सर्वेक्षण कार्य सुनील कुमार सिंह, क्षेत्र संचालक, कान्हा टायगर रिजर्व के निर्देशन एवं वाईल्डलाईफ एंड नेचर, इंदौर की संस्था के सहयोग से किया जा रहा है। यह इस साल का दूसरा पक्षी सर्वेक्षण है, अलग-अलग ऋतु में सर्वेक्षण करने से पक्षियों की विभिन्न प्रकार की जातियों के बारे में जानकारी मिलती है। संयुक्त संचालक नरेश सिंह यादव द्वारा प्रतिभागियों को कान्हा के बारे में जानकारी दी गई। संस्था के अध्यक्ष सुरेंद्र बागड़ा ने बताया कि इस सर्वेक्षण कार्य में स्वयंसेवकों का रुझान बहुत अधिक था और अनुभव को आधार बनाते हुए देश के 10 राज्यों से 55 पक्षी विशेषज्ञ को चुना गया हैं। पक्षी सर्वेक्षण का मुख्य उद्देश्य प्रवासी और स्थानीय पक्षियों की गणना करना है, इस तरह के सर्वेक्षण से पक्षियों के बारे में अधिक जानकारी इक_ा करना है, उनके प्राकृतिक आवास, व्यवहार में कोई बदलाव आदि का अध्ययन करना है। कान्हा के पार्क अधीक्षक सुनील सिन्हा ने बताया कि सर्वेक्षण में 2 से 3 समूह को कान्हा टायगर रिजर्व के अलग-अलग स्थानों पर भेजा जाएगा और सर्वेक्षण किया जाएगा। इस तरह के सर्वेक्षण से विभाग को पक्षियों के आकड़ों को एकत्रित करने में सहायता मिलती है, तथा निष्कर्ष के अनुसार पक्षियों के संरक्षण हेतु योजना तैयार की जा सकेगी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

मौसम अलर्ट: जल्द दस्तक देगा मानसून, राजस्थान के 7 जिलों में होगी बारिशइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलस्कूलों में तीन दिन की छुट्टी, जानिये क्यों बंद रहेंगे स्कूल, जारी हो गया आदेश1 जुलाई से बदल जाएगा इंदौरी खान-पान का तरीका, जानिये क्यों हो रहा है ये बड़ा बदलावNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयमोदी सरकार ने एलपीजी गैस सिलेण्डर पर दिया चुपके से तगड़ा झटकाजयपुर में रात 8 बजते ही घर में आ जाते है 40-50 सांप, कमरे में दुबक जाता है परिवार

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: खतरे में MVA सरकार! समर्थन वापस लेने की तैयारी में शिंदे खेमा, राज्यपाल से जल्द करेंगे संपर्क?West Bengal : मुकुल का इस्तीफा- ममता का निर्देश या सीबीआइ का डर?Karnataka Text Book Row : स्कूली पाठ्य पुस्तकों में होंगे आठ बदलावराष्ट्रपति उम्मीदवार Draupadi Murmu पर अभद्र टिप्पणी करने पर डायरेक्टर राम गोपाल वर्मा पर लखनऊ में केस दर्ज, पुलिस ने शुरू की जांचPM Modi in Germany for G7 Summit LIVE Updates: 'गरीब देश पर्यावरण को अधिक नुकसान पहुंचाते हैं, ये गलत धारणा है' : G-7 शिखर सम्मेलन में बोले पीएम मोदीयूक्रेन में भीड़भाड़ वाले शॉपिंग सेंटर पर रूस ने दागी मिसाइल, 2 की मौत, 20 घायलMaharashtra News: सांगली में परिवार के 9 सदस्यों की मौत आत्महत्या नहीं बल्कि हत्या थी, पुलिस ने किया चौका देने वाला खुलासाकेन्द्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान की Yogi से मुलाक़ात, राष्ट्रपति चुनाव और प्रदेश अध्यक्ष की तैयारी में जुटी भाजपा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.