पहाड़ों से गिरे बोल्डर, नेशनल हाईवे में 10 घंटे जाम, देखें वीडियो

जाम में फंसे वाहन

By: Mangal Singh Thakur

Published: 11 Jun 2021, 11:57 AM IST

चिरईडोंगरी. नेशनल हाइवे 30 में बारिश के बाद कीचड़ में वाहन फंसने की घटना के साथ एक और मुसीबत सामने आ गई है। अब पहाड़ काट कर तैयार किए गए मार्ग में पहाड़ के बड़े-बड़े पत्थर आर मलवा गिर रहे हैं। इसी कारण से बुधवार की रात से गुरुवार की दोपहर तक लगभग 10 घंटे नेशनल हाइवे 30 में जाम लग रहा। जैसे पत्थर से से राहत मिली तो बबैहा पुल के पास आधी अधूरी सड़क में एक ट्रक फंस गया। पूरे दिन ही वाहन चालक इस मार्ग में परेशान दिखाई दिए। जानकारी के अनुसार बुधवार की रात्रि से गुरुवार की दोपहर तक रूक रूक कर बारिश होती रही। रात में हुई तेज बारिश के दौरान मंडला-जबलपुर मार्ग के बीच में बबैहा घाट व चिरई डोंगरी के बीच पर पहाड़ों से पत्थर गिर कर रोड में आ गए। रोड पूरी तरह से जाम हो गई। रात में जाम में फंसे लोगों को सुबह 11-12 बजे राहत मिली। रोड निर्माण कंपनी के कर्मचारियों के साथ, बीजाडांडी पुलिस, टिकारिया पुलिस के साथ मंडला से यातायात पुलिस टीम को मौके पर स्थिति संभालनी पड़ी। दोनो और 4 से 5 किलोमीटर वाहनो की कतार लग गई।

जेसीबी व अन्य मशीनों की मदद से पत्थर व मुरूम हटवाया गया। स्थानीय लोगों ने बताया कि मंडला से जबलपुर राष्ट्रीय राजमार्ग 30 का रोड का निर्माण कार्य किया जा रहा है। लेकिन अभी भी बीच बीच में पेंच छोड़ दिया गया है। जिसके चलते थोड़ी सी बारिश में बड़े वाहन घंटों फंसे रहते हैं जहां एक तरफ चिराईडोंगरी और बबैहा घाट के बीच पहाड़ों से बड़े-बड़े पत्थर मुरूम नीचे आ गए तो वहीं बबैहा पुल के पास भी ट्रक फंसने से जाम लगा रहा। लोगों का कहना है कि मार्ग निर्माण के बाद पहाड़ों को काटा नहीं गया। पूर्व कुछ स्थानों में पत्थर ना गिरें इसके लिए जाली लगाई गई थी वह भी अब क्षतिग्रस्त हो गई है। रोड निर्माण कंपनी के अधिकारियों का कहना है कि वन विभाग से जितनी अनमुति मिली थी उतनी पहाड़ी काटी गई है। वन विभाग व रोड निर्माण कंपनी की लापरवाही का खमियाजा राहगीरों को भुगतना पड़ रहा है।

Mangal Singh Thakur
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned