scriptChanging picture of Anganwadis of the district by adoption | गोद लेकर जिले की आंगनबाडिय़ो की बदल रहे तस्वीर | Patrika News

गोद लेकर जिले की आंगनबाडिय़ो की बदल रहे तस्वीर

किराए के भवन में संचालन हो रहे आंगनबाड़ी

मंडला

Published: March 31, 2022 11:59:28 am

मंडला. आंगनबाड़ी केन्द्रों को गोद लेने के लिए जनप्रतिनिधि, समाजेवी, एनजीओ लगातार सामने आ रहे हैं। जिले की कुल 2304 आंगनबाड़ी केन्द्रों में से 2143 आंगनबाड़ी केन्द्रों को गोद लिया गया है जिसके बाद गोद लेने वाली संस्था या व्यक्ति द्वारा उस आंगनबाड़ी केन्द्र का आवश्यकतानुसार जीर्णोद्धार कराया रहे हैं, बच्चों के लिए जरूरी खिलौने, सहित आंगनबाड़ी का रंगरोगन कराया जा रहा है। बच्चों के लिए पोषण आहार की व्यवस्थाएं भी की जा रही हैं।
किराये के भवनों में चल रहे अधिकांश केन्द्र
एक तरफ आंगनबाड़ी केन्द्रों को गोद लेने के लिए लोग आगे आ रह है। वहीं दूसरी ओर जिले में अधिकांश आंगनबाड़ी केन्द्रों का संचालन किराये के भवनों या फिर किसी अन्य सरकारी कार्यालय के किसी कमरे में आंगनबाड़ी लग रही है। मिली जानकारी अनुसार जिले में कुल 2304 केन्द्रों में मात्र 1666 आंगनबाड़ी केन्द्र विभाग द्वारा बनवाए गए भवनों में ही संचालित हो रहे हैं। जहां स्थाई सुविधा देने में परेशानी आ रही है। कहीं और स्थांतरित ना हो जाए इसके कारण स्थाई से बच्चों के फीसल पटï्टी, दीवारों में ज्ञानवर्धक पेंटिंग आदि नहीं करा पा रहे हैं। वहीं कलेक्टर से गर्मी को देखते हुए सभी अधिकारियों व समाजसेवियों से अपील की है कि गोद ली गई आंगनबाड़ी में बिजली व पंखे की सुविधा उपलब्ध कराएं।
कुपोषण मिटाने बड़ी कोशिश
जानकारी अनुसार जिले से लेकर संपूर्ण प्रदेश में ही छोटे बच्चों में कुपोषण एक बड़ी समस्या के रूप में सामने आया है। जिसके लिए अशिक्षा, जानकारी का अभाव बड़ा कारण है दरअसल सरकार द्वारा कुपोषण को मिटाने, सुपोषण को लेकर बड़ी राशि खर्च की जाती है, लेकिन विभागीय लापरवाही के चलते जहां इसका लाभ गरीब, असहाय, जरूरतमंद परिवार के बच्चों को नहीं मिल पाता है तो वहीं ऐसे परिवार में होने वाले बच्चों में कुपोषण की समस्या देखी जाती है। जिसे देखते हुए शासन-प्रशासन द्वारा आमजनों से लेकर जनप्रतिनिधियों, शासकीय अधिकारी-कर्मचारियों से आगे आकर आंगनबाड़ी केन्द्रों को गोद लेने की अपील की गई। ताकि गोद लेकर वाले लोग आंगनबाड़ी केन्द्र में दर्ज बच्चों के लिए सुपोषित भोजन उपलब्ध कराएं इसके अलावा केन्द्रों में बच्चों के लिए जो जरूरतें हैं उन्हें पूरा किया जाए। सरकार की यह अपील जिले में काफी असर दिखा रही है।
हड़ताल से लडख़ड़ा रही व्यवस्था
जिले में लगभग २० दिनो से आंगनबाड़ी केन्द्रों की कार्यकर्ता, सहायिकाएं अपनी वेतन वृद्धि की मांगों को लेकर हड़ताल पर हैं। कलेक्ट्रेट मार्ग में सैकड़ों की संख्या में कार्यकर्ता-सहायिकाएं प्रदर्शन कर रही हैं। बुधवार को भी प्रदर्शन जारी रहा। जिससे अधिकतर आंगनबाड़ी केन्द्रों में ताला लटका हुआ है। वहीं पोषण आहार वितरण कार्य भी प्रभावित हो रहा है। गोद लेने वाले नगारिक आंगनबाड़ी ना खुलने के कारण बच्चों के लिए सुविधा भी नहीं पहुंचा पा रहे हैं।

गोद लेकर जिले की आंगनबाडिय़ो की बदल रहे तस्वीर
गोद लेकर जिले की आंगनबाडिय़ो की बदल रहे तस्वीर

निवास में शत प्रतिशत आंगनबाड़ी को ली गोद, दे रहे उपयोगी सामग्री
जिला परियोजना कार्यालय से मिली जानकारी अनुसार मंडला जिले के निवास विकासखंड में शत-प्रतिशत आंगनबाडिय़ों को गोद लिया जा चुका है। यहां कुल 163 आंगनबाड़ी केन्द्र हैं, इनमें सभी को किसी न किसी संस्था, जनप्रतिनिधि, एनजीओ, सामाजिक संगठनों द्वारा गोद लिया गया है। इसके बाद मोहगांव दूसरे नंबर पर है। यहां कुल 209 आंगनबाड़ी केन्द्रों में 206 को गोद लिया जा चुका है। इस तरह बिछिया में 324 में 295, बीजाडांडी में 212 में से 198, घुघरी में 259 में से 238, मंडला में 316 में से 303, मवई में 332 में से 290, नैनपुर में 282 में 256, नारायणगंज में 207 में 194 आंगनबाड़ी केन्द्रों को गोद लिया जा चुका है। यहां यह भी बता दें कि आंगनबाड़ी केन्द्रों को गोद लेने के लिए लोग किस कदर आगे आ रहे हैं, इसका अनुमान इसी बात से लगाया जा सकता है कि कुल 2304 केन्द्रों को गोद लेने के लिए 2334 ऑनलाईन पंजीयन हुए हैं। गोद ली गई आंगनबाडिय़ों में कुछ केन्द्रों को तो दो से तीन संस्थाओं ने भी गोद लेकर इनका जीर्णोद्धार, बच्चों के लिए खिलौने, पोष्टिक आहार की व्यवस्था कर रही हैं। कलेक्टर हर्षिका सिंह ने कोंड्रा आंगनवाड़ी केन्द्र को गोद लिया है। उन्होंने आंगनवाड़ी केन्द्र पहुंचकर केन्द्र का जायजा लिया। उन्होंने आंगनवाड़ी केन्द्र के लिए जरूरी सामग्री एवं मूलभूत आवश्यकताओं का अवलोकन किया। कलेक्टर ने बताया कि उनके द्वारा केन्द्र में सभी जरूरी व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जाएगी। इस दौरान जिला कार्यक्रम अधिकारी, परियोजना अधिकारी, सीईओ जनपद मंडला आदि उपस्थित रहे।
नवास में शत-प्रतिशत आंगनब

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather. राजस्थान में आज 18 जिलों में होगी बरसात, येलो अलर्ट जारीसंस्कारी बहू साबित होती हैं इन राशियों की लड़कियां, ससुराल वालों का तुरंत जीत लेती हैं दिलशुक्र ग्रह जल्द मिथुन राशि में करेगा प्रवेश, इन राशि वालों का चमकेगा करियरउदयपुर से निकले कन्हैया के हत्या आरोपी तो प्रशासन ने शहर को दी ये खुश खबरी... झूम उठी झीलों की नगरीजयपुर संभाग के तीन जिलों मे बंद रहेगा इंटरनेट, यहां हुआ शुरूज्योतिष: धन और करियर की हर समस्या को दूर कर सकते हैं रोटी के ये 4 आसान उपायछात्र बनकर कक्षा में बैठ गए कलक्टर, शिक्षक से कहा- अब आप मुझे कोई भी एक विषय पढ़ाइएUdaipur Murder: जयपुर में एक लाख से ज्यादा हिन्दू करेंगे प्रदर्शन, यह रहेगा जुलूस का रूट

बड़ी खबरें

काली मां पर टिप्पणी के बाद BJP ने TMC सांसद महुआ मोइत्रा के खिलाफ दर्ज कराई शिकायत, की गिरफ्तारी की मांगयूपी को बड़ी सौगात, काशी को 1800 करोड़ की परियोजनाओं की सौगात देंगे पीएम Modi, बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे का करेंगे लोकार्पणDelhi Shopping Festival: सीएम अरविंद केजरीवाल का बड़ा ऐलान, रोजगार और व्यापार को लेकर अगले साल होगा महोत्सवसलमान के वकील को लॉरेंस गुर्गों की धमकी, मूसेवाला हाल करेंगेशिखर धवन बने टीम इंडिया के नए कप्तान, वेस्टइंडीज दौरे के लिए भारतीय टीम का हुआ ऐलानMaharashtr: नासिक में 'सूफी बाबा' ख्वाजा सैय्यद चिश्ती की हत्या, सिर में मारी गई गोली, अफगानिस्तान से था नाताKaali Poster Controversy: कनाडा के म्यूजियम ने हिंदू आस्था को ठेस पहुंचाने पर मांगी माफी, नहीं दिखाई जाएगी 'काली' फिल्मविराट कोहली जल्द लेंगे क्रिकेट से संन्यास, ये 2 खिलाड़ी ले सकते हैं उनकी जगह!
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.