scriptChildren in the age group of 12 to 14 years are not reaching to get th | वैक्सीन लगवाने नहीं पहुंच रहे 12 से 14 साल तक के बच्चे | Patrika News

वैक्सीन लगवाने नहीं पहुंच रहे 12 से 14 साल तक के बच्चे

खराब हो रही कोर्बीवैक्स की कीमती डोज

मंडला

Published: April 22, 2022 12:15:13 pm

मंडला. देश के कई हिस्सों में कोरोना की चौथी लहर ने दस्तक दी है, जिसे लेकर स्वास्थ्य विभाग द्वारा अभी से सतर्कता बरती जा रही है। कोरोना महामारी का असर बच्चों और बुजुर्गों में अपेक्षाकृत अधिक देखा जाता रहा है। बुजुर्गों को जहां बूस्टर डोज लगाई जा रही है वहीं 12 से 14 साल तक के बच्चों को अब दूसरी डोज भी लगना शुरू हो चुकी है। टीकाकरण अधिकारी वायके झारिया ने बताया कि 12 से 14 साल तक के 40775 बच्चों को पहली डोज लगाना था जिसमें अब तक 28566 बच्चों ने पहली डोज लगवाई है। जो करीब 70 प्रतिशत होता है। जिन बच्चों को पहली डोज लग चुकी है उन्हें दूसरी डोज भी लगना शुरू हो गया है, लेकिन अब तक मात्र 3 बच्चों ने ही र्कोर्बीवैक्स की दूसरी डोज ली है।
नहीं मिल रहे बच्चे, खराब हो रही डोज
जानकारी अनुसार जिस वायल में कोरोना की कोर्बेवैक्स वैक्सीन भेजी जा रही है उस वायल में 20 बच्चों के लिए डोज होती है। जब तक एक साथ कम से कम 15 से 17 बच्चे एकत्रित न हो जाएं तब तक इस वायल को नहीं खोला जा सकता है क्योंकि वायल खुलने के 4 घंटे के अंदर उसमें रखी डोज को लगाना जरूरी हो जाता है नहीं तो वायल की बाकि डोज खराब हो जाती है, लेकिन वर्तमान में जो स्कूलों को बच्चों को वैक्सीन लगाने के लिए केन्द्र बनाए गए हैं वहां वैक्सीन लगवाने पहुंच रहे बच्चों की संख्या काफी कम है, इक्का-दुक्का की संख्या में ही बच्चे वैक्सीन लगवाने के लिए पहुंच रहे हैं।
अब समस्या यह जा रही है कि या तो जितनी संख्या में बच्चे वैक्सीन लगवाने के लिए पहुंचे हैं उन्हें वैक्सीन लगा दी जाए या फिर वायल की डोज खराब न हो, इसे देखते हुए एक साथ कम से कम 15-17 बच्चे एकत्रित होने का रास्ता देखा जाए जो संभव नहीं है क्योंकि पहले तो बच्चे बड़ी मुश्किल से वैक्सीन लगवाने के लिए तैयार होते हैं और यदि वैक्सीनेशन केन्द्र में बच्चों को इंतजार कराया जाता है तो फिर वे घर जाने की जिद करने लगते हैं। इसी के साथ उन 12 से 14 साल तक के बच्चों के साथ आए परिजन भी ज्यादा इंतजार नहीं कर सकते हैं। टीकाकरण अधिकारी ने बताया कि 12 से 14 साल तक के बच्चों को 23 मार्च से कोर्बेवेक्स वैक्सीन की पहली डोज लगाई जा रही है, पहली डोज लगाते समय बड़ी संख्या में कोरोना की कीमती वायर खराब हो गई जिसका कारण यह था कि स्कूलों में जिन बच्चों को यह डोज लगाई जानी थी उन बच्चों की संख्या काफी कम थी ।
ज्ञानदीप स्कूल स्थायी केन्द्र
टीकाकरण अधिकारी ने बताया कि आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, आशा, स्कूलों के शिक्षकों को बच्चों को टीका लगवाने के लिए प्रेरित करने के लिए कहा गया है। जिले भर में स्कूलों को एक-के बाद एक करके टीकाकरण केन्द्र बनाया जा रहा है वहीं जिला मुख्यालय में ज्ञानदीप स्कूल में स्थायी रूप से एक केन्द्र 12 से 14 साल तक के बच्चों के लिए बना दिया गया है ताकि कहीं भी कोई परेशानी होने पर यहां बच्चों को कोरोना की वैक्सीन लगाई जा सके।
वैक्सीन लगवाने नहीं पहुंच रहे 12 से 14 साल तक के बच्चे
वैक्सीन लगवाने नहीं पहुंच रहे 12 से 14 साल तक के बच्चे


नर्मदा नदी के 20 फुट पुल के ऊपर से गिरा बैल
फोटो- ०२
निवास. निवास से 35 किमी दूर ग्राम चकदेही के नर्मदा नदी में ग्राम के मवेशी बड़ी संख्या में अपनी प्यास बुझाने के लिए रोजाना की तरह गए हुए थे। वही ग्राम के मुकेश कुलस्ते पिता पुरन सिंह का बेल पुल से गुजर रहा था तभी दोनो बेल 20 फुट नीचे गिर गए। जिससे एक बेल की मौके पर मौत हो गई। वही दूसरा बेल घायल है। वहीं बताया गया की नर्मदा नदी के ऊपर चकदेही व मेंहदवानी मार्ग को जोडऩे वाला पुल बना हुआ है। बताया गया कि यह पुल को बने लगभग 10 वर्ष से अधिक हो रहे हैं। निर्माण एजेंसी ने आज तक रैलिंग नहीं लगाई। कई बार ग्रामीणों ने उच्च आधिकारियों से रेलिंग लगाने की मांग की लेकिन कोई ध्यान नहीं दिया। वही ग्रामीणों ने बताया की यहां आए दिन हादसे होते रहते हैं। अगर समय में रेलिंग नहीं लगाई गई तो कोई भी बड़ा हादसा हो सकता है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ज्योतिष: ऊंची किस्मत लेकर जन्मी होती हैं इन नाम की लड़कियां, लाइफ में खूब कमाती हैं पैसाशनि देव जल्द कर्क, वृश्चिक और मीन वालों को देने वाले हैं बड़ी राहत, ये है वजहताजमहल बनाने वाले कारीगर के वंशज ने खोले कई राजपापी ग्रह राहु 2023 तक 3 राशियों पर रहेगा मेहरबान, हर काम में मिलेगी सफलताजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथJaya Kishori: शादी को लेकर जया किशोरी को इस बात का है डर, रखी है ये शर्तखुशखबरी: LPG घरेलू गैस सिलेंडर का रेट कम करने का फैसला, जानें कितनी मिलेगी राहतनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

पेट्रोल-डीज़ल होगा सस्ता, गैस सिलेंडर पर भी मिलेगी सब्सिडी, केंद्र सरकार ने किया बड़ा ऐलानArchery World Cup: भारतीय कंपाउंड टीम ने जीता गोल्ड मेडल, फ्रांस को हरा लगातार दूसरी बार बने चैम्पियनआय से अधिक संपत्ति मामले में ओम प्रकाश चौटाला दोषी करार, 26 मई को सजा पर होगी बहसगुजरात में BJP को बड़ा झटका, कांग्रेस व आदिवासियों के लगातार विरोध के बाद पार-तापी नर्मदा रिवर लिंक प्रोजेक्ट रद्दलंदन में राहुल गांधी के दिए बयान पर BJP हमलावर, बोली- 1984 से केरोसिन लेकर घूम रही कांग्रेसThailand Open 2022: सेमीफाइनल मुक़ाबले में ओलंपिक गोल्ड मेडलिस्ट से हारीं सिंधु, टूर्नामेंट से हुई बाहरपैंगोंग झील पर जारी गतिरोध के बीच रेलवे ने सुपरफास्ट ट्रेनों के लिए चीनी कंपनी को कॉन्ट्रैक्ट क्यों दिया?Rajiv Gandhi 31st Death Anniversary: अधीर रंजन ने ये क्या कह दिया, Tweet डिलीट कर देनी पड़ रही सफाई, FIR तक पहुंची बात
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.