शासकीय स्कूल के बच्चोंं को दी गई पर्यावरण संरक्षण की जानकारी

दो दिवसीय अनुभूति कैम्प का समापन

By: shivmangal singh

Updated: 07 Jan 2019, 08:51 PM IST

मंडला. मध्यप्रदेश ईको पर्यटन विकास बोर्ड भोपाल के तत्वाधान में कान्हा टाईगर रिजर्व के बफरजोन वनमंडल मंडला की खटिया परिक्षेत्र अंतर्गत शासकीय स्कूलों में अध्ययनरत छात्र-छात्राओं को प्रकृति को नजदीक से महसूस करने एवं उनमें पर्यावरण संरक्षण के प्रति जागरुकता उत्पन्न करने के उद्देश्य से 5 एवं 6 जनवरी को दो दिवसीय अनुभूति केम्प का आयोजन किया गया। शासन के निर्देशानुसार परिक्षेत्र अंतर्गत आने वाले 7 शासकीय स्कूलों के 120 बच्चों का चयन अनुभूति केम्प के लिए किया गया एवं कार्यक्रम को प्रभावी एवं सुविधाजनक बनाने की दृष्टि से बच्चों को छोटे-छोटे समूह में विभक्त कर दो अनुभूति शिविरों का आयोजन किया गया। जिसमें प्रथम शिविर ५ जनवरी एवं दूसरा शिविर ६ जनवरी को आयोजित किया गया। जिसमें सर्वप्रथम माध्यमिक विद्यालय खटिया, धमनगांव एवं बटवार के 56 बच्चों एवं 05 शिक्षकों एवं दूसरे शिविर में हायर सेकेण्डरी, हाईस्कूल एवं माध्यमिक शाला के 64 बच्चों एवं 06 शिक्षकों की सहायता से स्कूलों से दिग्विन्यास केन्द्र खटिया गेट पर सुबह 6.30 बजे एकत्रित किया गया। जहां पर एसके सिन्हा सहायक संचालक सिझौरा द्वारा कार्यक्रम की संक्षिप्त रुपरेखा एवं उद्देश्य की जानकारी दी गई। इसके साथ ही मध्यप्रदेश ईको पर्यटन विकास बोर्ड भोपाल द्वारा प्रदत्त पाठ्य सामग्री, अनुभूति बेग, केप एवं कान्हा से संबंधित पाठ्न सामग्री वितरित की गई। तत्पश्चात् सहायक संचालक सिझौरा द्वारा हरी झंडी दिखाकर बच्चों को जंगल सफारी के लिए रवाना किया गया। सुबह 9 बजे तक पार्क भ्रमण करने के उपरांत बच्चों को कान्हा में जलपान कराया गया। तत्पश्चात् बच्चों द्वारा कान्हा स्थित म्यूजियम का भ्रमण कर वन एवं वन्यप्राणियों के संरक्षण, संवर्धन एवं विकास के लिए कान्हा टाईगर रिजर्व, प्रबंधन द्वारा किये गये प्रयासों का अवलोकन किया तथा विभिन्न गतिविधियों, वन्यप्राणियों के छायाचि़त्रों एवं प्रर्दशों का अवलोकन किया गया। कार्यक्रम में अशासकीय संस्था द लास्ट वाईल्डरनेश फाऊण्डेशन के स्वयं सेवकों द्वारा मानव, वन एवं वन्यप्राणियों के अंर्तसंबंधों को समझाने के उद्देश्य से बच्चों को सहभागी बनाते हुए विभिन्न प्रकार के नेचर गेम जैसे वेब ऑफ लाईफ, सॉप सिढ़ी एवं बिंगों नामक खेल का आयोजन किया गया। शनिवार को मुख्य अतिथि एसएस राजपूत, अपर प्रधान मुख्य वनसंरक्षक, मुख्य कार्यपालन अधिकारी मप्र ईको पर्यटन बोर्ड भोपाल द्वारा बच्चों के साथ बैठकर परिचर्चा की गई। जिसमें उनके द्वारा बच्चों को प्रकृति के संरक्षण एवं संवर्धन में बच्चों के द्वारा महत्वपूर्ण योगदान निभाने के लिए सरल भाषा में प्रेरित किया। इसी प्रकार कार्यक्रम में उपस्थित एल कृष्णमूर्ति क्षेत्रसंचालक कान्हा टाईगर रिजर्व एवं अंजना सुचिता तिर्की कान्हा टाईगर रिजर्व द्वारा भी कार्यक्रम के मूल उद्देश्य को प्राप्त करने एवं प्रकृति के प्रति बच्चों को संवेदनशील बनने के लिए प्रेरित किया। तत्पश्चात् बच्चों को मध्यान्ह भोजन कराया गया। कार्यक्रम के अंत में शाम 4.30 बजे छात्र-छात्राओं को सहभागिता प्रमाण पत्र प्रदान किए गए।

shivmangal singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned