बेटी के प्यार ने खत्म की माता-पिता की दूरी

पुलिस की पहल से एक हुआ टूटा परिवार


By: shivmangal singh

Published: 24 Jul 2018, 11:06 AM IST

अंजनियां. पुलिस की पहल से टूटा परिवार फिर एक हो गया। चार माह से अलग-अलग रहे रहे पति-पत्नी अपनी बेटी के साथ खुशी-खुशी अपने घर पहुंच गए। जानकारी के अनुसार पुलिस अधीक्षक राकेश सिंह के निर्देशन में ऑपरेशन मुस्कान के अंतर्गत चौकी अंजनिया में चौकी प्रभारी उपनिरीक्षक राजपाल सिंह बघेल के द्वारा परिवार का ेजोडऩे क पहल की गई। बताया गया कि बिछिया निवासी रीता मरावी का विवाह ६ वर्ष पूर्व योगेश कुमार मरावी निवासी बंजी से हुई थी। जिनकी एक बेटी देवयानी मरावी उम्र 3 वर्ष है। रीता मरावी ने चौकी अंजनिया में बताया कि उसके पति के द्वारा परेशान करने के कारण वह नाराज होकर पिछले 4 महीने से अपने मायके बिछिया में रह रही है। पति योगेश मरावी ने 3 साल की बच्ची देवयानी को अपने पास रख लिया है। रीता मरावी को इस बात की जानकारी लगी कि इसकी बच्ची देवयानी अपनी मां के लिए बहुत परेशान हो रही है ओर रो रही है। मां रीता मरावी भी अपनी बच्ची से मिलना चाहती है। चौकी अंजनिया पुलिस द्वारा तत्काल उक्त सूचना पर कार्यवाही करते हुए ग्राम बंजी पहुंचकर बच्चे देवयानी मरावी से मुलाकात कर चर्चा की। बच्ची भी अपनी मां से मिलना चाहती थी। लेकिन इसके पिता मां से मिलने नहीं दे रहा था। तत्काल बच्ची के पिता योगेश मरावी एवं उनके परिजनों को अंजनियां चौकी लाया गया। जहां दोनों पक्षों की बात सुनकर उनसे सामाजिक रीति रिवाज एवं परंपरा के अनुसार चर्चा की गई एवं समझाइश दी गई। जिन्हें धार्मिक मान्यताओं का उदाहरण देकर समझाया गया। तब योगेश मरावी एवं उसकी पत्नी रीता मरावी दोनों इस बात पर राजी हुए कि कभी एक दूसरे से नाराज नहीं होकर हमेशा साथ में रहेंगे और बच्ची की आंख में कभी आंसू नहीं आने देंगे। बच्ची देवयानी को खुश रखने के लिए दोनों पक्ष साथ में रजामंद होकर एवं खुश होकर योगेश मरावी ने अपनी पत्नी रीता एवं बच्ची देवयानी को अपने घर ग्राम बंजी ले गया। ऑपरेशन मुस्कान की कार्यवाही में चौकी अंजनिया का समस्त स्टाफ का योगदान रहा।

Daughter's love ends the parents' distance
shivmangal singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned