पैर पसारते डेंगू से बचने चिकित्सक ने बताए उपाय

जिले में बढ़ा डेंगू का खतरा, सफाई व्यवस्था बढ़ाने की जरूरत

By: Mangal Singh Thakur

Updated: 25 Sep 2021, 05:24 PM IST

मंडला. बारिश का मौसम गुजरने को है। कई जगहों पर बारिश का पानी इक_ा दिखाई पड़ रहा है। चाहे निचले क्षेत्र हों या नदी, तालाब, पोखर किनारे कई गड्ढों में बारिश का पानी भरा हुआ देखा जा सकता है। जिसे लोग बेहद सामान्य रूप से लेते हैं और कोई भी इन गड्ढों को भरने में विशेष रुचि नहीं लेते। इसी तरह लोगों के घरों के गलियारों, बरामदों, बालकनियों में भी कई जगह पर बारिश का पानी जमा रह जाता है। घरों में रहने वाले इसे भी बेहद सामान्य रूप से लेते हैं लेकिन यही सामान्य सी उपेक्षा तब जानलेवा साबित हो जाती है जब इन स्थानों पर मलेरिया या डेंगू के मच्छर पनपने लगते हैं। इस समय देशभर में डेंगू बीमारी महामारी बनकर फैलती जा रही है। इससे बचने के लिए तत्काल उपचार किया जाना जरूरी है लेकिन जानकारी के अभाव में लोग इस बीमारी का तत्काल उपचार नहीं कराते और खतरे में पड़ जाते हैं।
जिले के मलेरिया अधिकारी रामशंकर साहू का कहना है कि डेंगू एक गंभीर बीमारी है जिससे बचना हम सभी के लिए जरुरी है। एक रिपोर्ट के अनुसार दुनियाभर में कई करोड़ से ज्यादा लोग इस बीमारी के कारण अपनी जान गंवा देते हैं। यही कारण है कि चर्चा के दौरान मलेरिया अधिकारी रामशंकर ने डेंगू से बचाव और उसके उपचार को लेकर लोगों को जागरूक होने की अपील की है और इस बारे में महत्वपूर्ण जानकारी भी दी है।
प्रश्न- डेंगू क्यों फैलता है?
उत्तर- डेंगू बीमारी मच्छर के काटने से होती है। देश में इसे हड्डी तोड़ बुखार के रूप में जाना जाता है।
प्रश्न- यह बुखार कैसे होता है?
उत्तर- डेंगू एक वायरसजनित बीमारी है, जो एडीज मच्छर के काटने से होती है।
प्रश्न- इस बीमारी के लक्षण क्या हैं?
उत्तर- इसके लक्षण मच्छर के दंश के एक हफ्ते बाद देखने को मिलते हैं। दरअसल इसके मरीज को 2 से 7 दिवस तक तेज बुखार चढ़ता है। अचानक तेज बुखार, सिर में आगे तेज दर्द, आंखों के पीछे दर्द और आंखों के हिलने से दर्द, मांसपेशियों-बदन व जोड़ों में दर्द तीव्र दर्द होता है।
प्रश्न- इनके अलावा भी क्या और भी लक्षण हैं?
उत्तर- छाती और ऊपरी अंगों पर खसरे जैसे दाने उभर आना, चक्कर आना, जी घबराना, उल्टी आना, शरीर पर खून के चकते एवं खून की सफेद कोशिकाओं की कमी शामिल है।
प्रश्न- बच्चों में भी क्या यही लक्षण होते हैं?
उत्तर- बच्चों में डेंगू बुखार के लक्षण बडों की तुलना में हल्के होते हैं।
प्रश्न- डेंगू से बचने के तरीके क्या हैं?
उत्तर- अगर डेंगू से बचना चाहते हैं तो घर में साफ-सफाई रखें। डेंगू के मच्छर सुबह या शाम को अत्यधिक सक्रिय होते हैं इसलिए ऐसे समय में बाहर निकलने से बचें। अपनी त्वचा को खुला न छोड़ें।
प्रश्न- एडीज मच्छर कैसे पनपता है?
उत्तर- एडीज मच्छर साफ और स्थिर पानी में पनपता है इस वजह से पानी के बर्तन या टंकी को हर समय ढंककर रखें।
प्रश्न- क्या जिले में डेंगू के मरीज हैं?
उत्तर- नहीं, जिले में फिलहाल एक भी डेंगू पॉजिटिव केस नहीं है।

Mangal Singh Thakur
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned