scriptFire brigade or ambulance accidents are taking a big form | दमकल न एम्बुलेंस हादसे ले रहे बड़ा रूप | Patrika News

दमकल न एम्बुलेंस हादसे ले रहे बड़ा रूप

18 घंटे से अधिक धधकती रही आग

मंडला

Updated: May 22, 2022 12:12:54 pm

मंडला/निवास. देश के बड़े औद्योगिक क्षेत्र में आग से सुरक्षा के इंतजाम नहीं है। यही कारण है छोटे सा हादसा भी बढ़ा रूप ले रही है। प्रशासन की लापरवाही कहें या अव्यवस्था मजदूरों को जान जोखिम में डालकर काम करना पड़ रहा है। शुक्रवार शनिवार की दरमियानी रात लगी आग 18 घंटे से अधिक समय तक धधकती रही। रात पर आग बुझाने के प्रयास किए गए। आग के साथ धुआं के गुब्बारे से लोगों का आस पास रहना मुश्किल हो गया। जानकारी के अनुसार शुक्रवार की शाम को मनेरी औद्योगिक क्षेत्र ग्राम पंचायत मनेरी के पोषक ग्राम ताकबेली पर स्थित सन्मुख फैक्ट्री जो कृषि से संबंधित कीटनाशक दवाइयां बनाती है। उसमें अज्ञात कारणों के चलते आग लग गई। आग की लपटें और धुआं इतना था कि आसपास 20-25 किलोमीटर दूर से भी घटना का अंदाजा लगाया जा सकता था। घटना के बाद आनन-फानन में निवास 30 किमी, बरेला 22 किमी, जबलपुर 35 किमी, मंडला 85 किमी दूरी से दमकल वाहन बुलाया गया। वहीं निवास एसडीएम शिवाली सिंह, निवास एसडीओपी आकांक्षा परस्ते, निवास तहसीलदार आर के खम्परिया बीजाडांडी थाना प्रभारी राजेंद्र बर्मन, मनेरी चौकी प्रभारी पंकज विश्वकर्मा सहित प्रशासनिक स्थानीय अमला भी मौके पर पहुंचा। लेकिन केमिकल की आग पर काबू पाना बस के बाहर रहा। जबकि आग से पूरी फैक्ट्री धू-धू कर जल कर राख हो गई। आग और केमिकल से निकलने वाले धुएं क्षेत्र को अपने कब्जे में ले लिया व काला अंधकार छा गया था।
शनिवार को भी आग पर काबू नहीं पाया जा सका तो वही जबलपुर नगर निगम की दमकल वाहन की गाडिय़ां दिनभर आग पर काबू पाने में लगी रही। आग लगने से करोड़ों का नुकसान हुआ है। बताया गया की शुक्रवार की शाम जब फैक्ट्री पर आग लगी थी तो उस समय काम करने वाले मजदूरों की छुट्टी हो चुकी थी जबकि उक्त फैक्ट्री पर लगभग 200 मजदूर कार्य करते हैं। गनीमत यह रही की आगजनी की घटना छुट्टी के बाद हुई। नहीं तो एक बड़ी घटना घट सकती थी।
मनेरी मजदूर संघ के अध्यक्ष का कहना है कि की लगातार हमारे जिले के मनेरी औद्योगिक क्षेत्र में घटनाएं हो रही हैं। जबाबदार अधिकारी सिर्फ जांच के नाम पर खानापूर्ति करते हैं। मजदूरों का शोषण हो रहा है। प्रशासन को सबसे पहले पूरी फैक्ट्रियों का निरीक्षण कर इंतजाम देखना चाहिए। चाहे चिकित्सा क्षेत्र हो या आगजनी से निपटने के इंतजाम। ये सारी सुविधाएं नहीं मिलती है तो जल्द ही मजदूर संघ द्वारा आंदोलन किया जाएगा।
समाजसेवी संतोष सोनी का कहना है की मंजरी वासियों के साथ सौतेला व्यवहार प्रशासन कर रहा हैं इतना बड़ा उद्योग तो मनेरी क्षेत्र में लगवा तो दिया हैं परंतु सुरक्षा के कोई इंतजाम नहीं है। आग लगने से जो धुआं हो रहा है यह लोगों के सेहत पर भी असर करेगा। क्षेत्र से 36 गांव लगे हुए हैं अगर समय रहते सुरक्षा के इंतजाम नहीं हुए तो कभी भी बड़ी घटना हो सकती है।
पहले भी हो चुके हैं हादसे
मनेरी औद्योगिक क्षेत्र में मनेरी में पहले भी हादसे हो चुके हैं। जिसमें फैक्ट्री मालिकों को नुकसान उठाना पड़ा तो वहीं मजदूरों को भी जान गंवाना पड़ा है। यहां समय पर एम्बुलेंस मिलती है ना ही दमकल वाहन पहुंचता है। इससे पहले 26 मई 2019 को सनपिट पैक फैक्ट्री प्रा लिमिटेड की यूनिट जलकर खाक हो गई थी, जिसमें करीब 7 करोड़ का नुकसान हुआ था। इसके बाद भूमिजा स्टील प्लांट मनेरी में 11 फरवरी 2021 की रात को स्कैब पिघलाते समय भट्टी में ब्लास्ट होने से चपेट में आये 1 श्रमिक की मौत और 6 श्रमिक गंभीर रूप से घायल हो गए थे। भूमिजा स्टील प्लांट में फिर 14 सितंबर 2021 की शाम के समय भट्टी में काम के दौरान गर्म लोहा छिटक गया। इसकी चपेट में आने से तीन मजदूर घायल हो गए थे। 20 नवम्बर 2021 को बढ़ी ग्रीन फैक्ट्री में आग लग गई। वजह फैक्ट्री में टायर पिघलाकर तार निकाला जाता था, अब यह सनमुख फैक्ट्री में आगजनी की घटना हुई है।
सैंकड़ो फैक्ट्री दमकल न एम्बुलेंस
वही उक्त मामले में अब राजनीति भी शुरू हो गई निवास विधायक डॉ अशोक ने वीडियो जारी करते हुए कहा की इतना बड़ा मंडला जिला का औद्योगिक क्षेत्र मनेरी हैं एक भी दमकल नहीं और आग लगने के बाद इतनी लेट दमकल वाहन का पहुंचा चिंता का विषय है। वहीं स्थानीय लोगों ने बताया कि क्षेत्रवासियों को औद्योगिक क्षेत्र होने का कोई फायदा नहीं मिलता। मजदूर दूसरे जिले के कार्य करते हैं। हर साल कोई बड़ी घटना हो रही है लेकिन कोई दमकल वाहन है ना ही एम्बुलेंस की व्यवस्था है। कोरोना काल के बाद एम्बुलेंस देने क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों ने आश्वासन दिया था। लेकिन अब तब मनेरी अस्पताल में चिकित्सक उपलब्ध हो पाए है ना ही एम्बुलेंस। घायल मजदूरों को भी निजी वाहन से उपचार के लिए जबलपुर जाना पड़ता है।

दमकल न एम्बुलेंस हादसे ले रहे बड़ा रूप
दमकल न एम्बुलेंस हादसे ले रहे बड़ा रूप

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather. राजस्थान में आज 18 जिलों में होगी बरसात, येलो अलर्ट जारीसंस्कारी बहू साबित होती हैं इन राशियों की लड़कियां, ससुराल वालों का तुरंत जीत लेती हैं दिलशुक्र ग्रह जल्द मिथुन राशि में करेगा प्रवेश, इन राशि वालों का चमकेगा करियरउदयपुर से निकले कन्हैया के हत्या आरोपी तो प्रशासन ने शहर को दी ये खुश खबरी... झूम उठी झीलों की नगरीजयपुर संभाग के तीन जिलों मे बंद रहेगा इंटरनेट, यहां हुआ शुरूज्योतिष: धन और करियर की हर समस्या को दूर कर सकते हैं रोटी के ये 4 आसान उपायछात्र बनकर कक्षा में बैठ गए कलक्टर, शिक्षक से कहा- अब आप मुझे कोई भी एक विषय पढ़ाइएUdaipur Murder: जयपुर में एक लाख से ज्यादा हिन्दू करेंगे प्रदर्शन, यह रहेगा जुलूस का रूट

बड़ी खबरें

SpiceJet की एक और फ्लाइट में खराबी, मुंबई में प्लेन की इमरजेंसी लैंडिंग, 17 दिन में तकनीकी खराबी की 7वीं घटनायूपी में प्रशासनिक फेरबदल, 4 IAS और 3 PCS किए गए इधर से उधरउत्तर प्रदेश संयुक्त प्रवेश परीक्षा बीएड परीक्षा-2022: जाने परीक्षा केंद्र के लिए बनाए गए नियमGujarat: एमई, एमफार्म में प्रवेश के लिए आज से शुरू होगा रजिस्ट्रेशनएंकर रोहित रंजन को रायपुर पुलिस नहीं कर पाई गिरफ्तार, अपने ही दो कर्मचारी के खिलाफ जी न्यूज़ ने दर्ज कराई FIRMausam Vibhag alert : मौसम विभाग का यूपी के कई जिलों में 9-12 जुलाई तक भारी बारिश का अलर्टबाप बोला, मेरे बेटे ने दोस्त के साथ मिलकर कर दी अपनी मां की हत्याGanpati Special Train: सेंट्रल रेलवे ने किया बड़ा एलान, मुंबई से चलेगी 74 गणपति महोत्सव स्पेशल ट्रेन, देखें पूरा शेड्यूल
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.