शौर्य एवं वीरता को किया सलाम

शौर्य एवं वीरता को किया सलाम

Shiv Mangal Singh | Updated: 25 Jun 2018, 11:20:23 AM (IST) Mandla, Madhya Pradesh, India

बलिदान दिवस के मौके पर किया रानी दुर्गावती को याद
समारोह के साथ संपन्न हुआ बलिदान दिवस का कार्यक्रम

मंडला. वीरांगना रानी दुर्गावती का बलिदान दिवस एवं श्रद्धांजलि समारोह मंडला में समारोहपूर्वक मनाया गया। प्रतिमा स्थल पर समारोह आयोजित कर वीरांगना को श्रद्धांजलि दी गई। कार्यक्रम का आयोजन रानी दुर्गावती प्रतिमा स्थल सर्किट हाउस के सामने रेवांचल पार्क में किया गया। कार्यक्रम में रानी दुर्गावती के साथ कुंवर वीर नारायण और मंत्री आधार सिंह की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया और श्रद्धांजलि अर्पित की गई। समारोह में नगर सेना एवं पुलिस दल के जवानों द्वारा सलामी दी गई। इस अवसर पर राज्यसभा सांसद सम्पतिया उइके, जिला पंचायत अध्यक्ष सरस्वती मरावी, उपाध्यक्ष जिला पंचायत शैलेष मिश्रा, नगर पालिका अध्यक्ष पूर्णिमा शुक्ला, जिला पंचायत सीईओ सुजान सिंह रावत, रोचीराम गुरवानी, जयदत्त झा, गौंड़ी पब्लिक ट्रस्ट के मेनेजिंग ट्रस्टी गिरिजाशंकर अग्रवाल सहित अन्य जनप्रतिनिधि, अधिकारी कर्मचारी उपस्थित रहे। इस अवसर पर राज्यसभा सांसद संपतिया उइके ने कहा कि वीरांगना रानी दुर्गावती की शहादत से प्रेरणा से लेकर सबको राष्ट्र और समाज के हित में कार्य करना चाहिए। वे समाज के सभी वर्गों के लिए आदर्श और प्रेरणा का स्रोत हैं। उन्होंने कहा कि वास्तविक इतिहास को संरक्षित और प्रचारित करने की आवश्यकता है। जिला पंचायत सरस्वती मरावी ने कहा कि वीरांगना रानी दुर्गावती के व्यक्तित्व से हमें देश प्रेम के साथ साथ जग कल्याण, सामाजिक समरसता, पर्यावरण एवं जल संरक्षण जैसे सामयिक विषयों की शिक्षा मिलती है। रानी जैसा पराक्रम इतिहास में कहीं अन्यत्र नहीं मिलता है। उस समय के सबसे शक्तिशाली राजा से टक्कर ली और वीर गति को प्राप्त हुई। शहीदों की गाथाओं को पढ़ उन्हें आत्मसात करना ही उनके प्रति सच्ची श्रद्धांजलि होगी।
जिला पंचायत अध्यक्ष ने कहा कि रानी दुर्गावती ने अपनी मातृभूमि की रक्षा और स्वाभिमान के लिए अपने प्राण न्यौछावर कर अमर हो गई। उन्होंने जाति और धर्म से परे देश प्रेम को सर्वोपरि माना। वीरांगना ने अपनी प्रजा की भलाई एवं कला संस्कृति के विकास के लिए अनेक कार्य किए। उपाध्यक्ष जिला पंचायत शैलेष मिश्रा ने कहा कि रानी दुर्गावती द्वारा जल संरक्षण, पर्यावरण संरक्षण एवं पौधरोपण की दिशा में किए गए कार्य अनुकरणीय हैं। अपने उद्बोधन में गोंडवाना साम्राज्य की रानी दुर्गावती की वीरता, पराक्रम, शौर्य के बारे में जानकारी दी तथा उनके द्वारा किए गए प्रजा के लिए जनहित कार्य जिसमें मठ, मंदिर, कुएं, बावलियों एवं धर्मशाला का निर्माण कराया गया। उपस्थित लोगों से वर्तमान पर्यावरण की स्थिति को देखते हुए एवं वर्षा की स्थिति को देखते हुए वृक्षारोपण करने के का संकल्प दिलाया गया। कार्यक्रम में नगर पालिका अध्यक्ष पूर्णिमा शुक्ला ने आव्हान किया कि शहीदों के इतिहास को पढ़कर उनसे प्रेरणा लेना चाहिए। इस अवसर पर गौंडी पब्लिक ट्रस्ट के मैनेजिंग ट्रस्टी गिरिजाशंकर अग्रवाल एवं प्रोफेसर शरद नारायण खरे ने वीरांगना रानी दुर्गावती के व्यक्तित्व पर प्रकाश डाला। इस अवसर पर विभिन्न कवियों द्वारा वीरांगना की शौर्य गाथा पर कविता पाठ किया गया एवं आदिवासी नर्तक दलों द्वारा मनमोहक प्रस्तुतियां दी गईं।
महाविद्यालय में महारानी दुर्गावती का बलिदान दिवस आयोजित
रानी दुर्गावती शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय में महारानी दुर्गावती का बलिदान दिवस मनाया गया। प्राचार्य डॉ.लीला भलावी के निर्देशन में एवं डॉ व्हीके चौरसिया के द्वारा सर्वप्रथम महाविद्यालय के मुख्य द्वार पर स्थित महारानी दुर्गावती के चित्र पर माल्यार्पण एवं पूजन किया तत्पश्चात प्राचार्य कक्ष में महारानी के चित्र पर माल्यार्पण व पूजन किया गया। कार्यक्रम में महाविद्यालय के प्राध्यापक डॉ इन्दु मिश्रा, डॉ रमा गुप्ता, डॉ मंजु दुबे, डॉ बीएल झारिया, डॉ जुडिका कुजूर, डॉ अर्जुन सिंह बघेल, जितेन्द्र जायसवाल, राजकिशोर नाविक, विजय नंदा, संजय नंदा एवं समस्त अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित रहे।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned