पशुपालकों से कांजी हाउस में की जा रही अवैध वसूली

तत्काल कराई गई साफ पानी व चारा की व्यवस्था

By: Mangal Singh Thakur

Published: 20 May 2019, 12:33 PM IST

बम्हनीबंजर. बम्हनी बंजर स्थित कांजीहाऊस मनमर्जी से संचालित किया जा रहा है। कांजीहाऊस में बंद मवेशियों को छोडऩे के एवज में अवैध वसूली की जा रही है। शनिवार की दोपहर करीब 2 बजें कांजीहाऊस में दो गायों को बंद किया गया था। जिनकों छोडऩे के लिए कांजीहाऊस के ठेकेदार द्वारा 1500 रूपए की राशि मांगी जा रही थी। उक्त घटना की जानकारी जब गौसेवा एवं रक्तदान संगठन के जिलाअध्यक्ष दिलीप चंद्रौल को लगी तो मौके पर बड़ी संख्या में गौसेवकों की भीड़़ लग गई। संगठन के जिला अध्यक्ष ने बताया कि कांजीहाऊस में बंद मवेशियों के लिए किसी भी प्रकार चारे पानी की व्यवस्था नहीं है बावजूद इसके कांजीहाऊस के ठेकेदार द्वारा पैसे की मांग की जा रही है। जिसकी शिकायत नगर परिषद् के अध्यक्ष और सीएमओ को की गई है। भीषण गर्मी के इस दौर में कांजीहाऊस में बंद किए जाने वाले मवेशियों के लिए पीने के पानी तक की व्यवस्था नहीं है। जिलाअध्यक्ष के साथ ही संगठन के विवेक परिहार, सचिन गुप्ता, यश चोधरी ने बताया कि ठेकेदार के द्वारा दलालों को लगाकर गाय बैलों को कांजी हाउस में बंद कराया जाता है और छोडऩे के नाम पर अवैध रूप से पैसे की मांग की जाती है। मौके पर पहुंची नगर पालिका अध्यक्ष ने कहा 25 मई को एक बैठक कर कांजीहाऊस का ठेका निरस्त किया जाएगा। इसके साथ ही सीएमओ ने तत्काल पानी की टंकी को सफाई कर नया पानी एवं चारा भूसा के लिए नगर परिषद के कर्मचारियों को निर्देश दिए। इस दौरान गौ सेवा एवं रक्तदान संगठन बम्हनी ईकाई के विरेन्द्र चन्द्रौल, संजय गोयल, गाय मालिक समेत बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे।

Mangal Singh Thakur
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned