scriptIlluminated the name of the district with hard work and dedication | 10वी 12वीं के छात्रों ने मेहनत और लगन से किया जिले का नाम रोशन | Patrika News

10वी 12वीं के छात्रों ने मेहनत और लगन से किया जिले का नाम रोशन

बोर्ड परीक्षा में जिले का प्रदेश में पांचवा स्थान

मंडला

Published: April 30, 2022 01:48:09 pm

मंडला. शुक्रवार को 10 वीं एवं 12 वीं बोर्ड परीक्षाओं का रिजल्ट घोषित किया गया। संभवत: यह पहला मौका है जब 10 वीं एवं 12 वीं बोर्ड परीक्षाओं का रिजल्ट एक ही दिन और एक ही समय में घोषित किया गया। हर बार की तरह इस बार भी दोनों ही कक्षाओं के परीक्षा परिणाम में छात्रों की अपेक्षा छात्राओं ने बाजी मारी है। माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा मोबाईल में भी परीक्षा परिणाम देखने की लिंक सुविधा दी गई थी जिसके चलते छात्र-छात्राएं अपने घर में ही परिजनों के साथ रिजल्ट देखते रहे। जिन बच्चों ने प्रदेश और जिले स्तर पर स्थान प्राप्त किया उन्हें बधाई देने वालों का तांता लगा रहा, परिजनों, मित्रों ने मिठाई खिलाकर बधाई दी। हाईस्कूल प्रदेश स्तरीय प्रवीण्य सूची में मेहर कुरैशी निर्मला शाला चौंथे स्थान पर, सुहानी दुबे सरस्वती निवास आठवां, तन्मय चौरसिया सरस्ती बम्हनीबंजर एवं प्रेक्षा राजपूत ज्ञानज्योति नैनपुर संयुक्त रूप से दसवां स्थान प्राप्त किया। इसी प्रकार हायर सेकंडरी बोर्ड परीक्षा में मानसी जैन निर्मला कन्या शाला मंडला ने वाणिज्य संकाय में सातवां एवं जीवविज्ञान संकाय में सर्वोत्म द्विवेदी ज्ञानज्योति नैनपुर ने पांचवा स्थान प्राप्त किया है।
बैंकिंग में काम करना चाहती हैं मानसी
शहर के सरदार भगत सिंह वार्ड निवासी निर्मला स्कूल की कक्षा 12 वीं छात्रा मानसी जैन ने वाणिज्य समूह से मध्यप्रदेश की प्रवीण्य सूची में सांतवा स्थान प्राप्त किया है उन्होंने 500 में से 474 अंक प्राप्त कर 94.8 प्रतिशत के साथ जिले का नाम गौरवान्वित किया है। मानसी ने बताया कि उन्होंने कक्षा 10 वीं में 93 प्रतिशत के साथ परीक्षा उत्तीर्ण की थी, सुबह 5.30 बजे उठ जाती हैं और वे रोजाना 6 से 7 घंटे पढ़ाई करती थी। वे आगे बैंकिंग क्षेत्र में काम करना चाहती है और उसी दिशा में वे अभी से प्रयास भी कर रही हैं। मानसी का कहना है कि इस शिक्षा सत्र में प्रारंभ के दो-तीन महिने ऑन लाईन कक्षाएं लगी, इसके बाद स्कूल में नियमित पढ़ाई शुरू हो गई। वे पढ़ाई में आने वाली किसी कठिनाई के बारे में अपने शिक्षकों से मार्गदर्शन लेती थी वहीं घर पर वे मोबाईल के माध्यम से भी अपने विषयों से संबंधित कठिनाईयों का समाधान प्राप्त करती थी। वहीं मानसी की मां रजनी और पिता राज कुमार जैन ने बताया कि मानसी शुरू से पढ़ाई में अव्वल रही हैं। जिसके चलते उन्हें कभी ट्यूशन की भी जरूरत महसूस नहीं हुई। मानसी अपनी इस सफलता के लिए श्रेय अपने माता-पिता, भाई और शिक्षकों को देती हैं।
बेटी बनना चाहती है इंजीनियर
शासकीय कन्या उच्च माध्यमिक विद्यालय बम्हनी बंजर स्कूल की छात्रा दीपा चंद्रौल ने 478 अंक लेकर जिले में प्रथम स्थान प्राप्त किया है। दीपा ने बताया कि इंजीनियर बनना चाहती है। परीक्षा के दौरान उसने गणित संकाय की किताबों से 8 से 10 घंटे तक पढ़ाई की है। परीक्षा के दौरान स्कूल से आकर रात 11 बजे तक पढ़ाई करने के बाद सुबह पांच बजे उठकर पढ़ाई करती। छात्रा ने अपनी सफलता का श्रेय अध्यापकों, अपने माता-पिता और फ्रेंड्स को दिया जिन्होंने पढ़ाई के दौरान पूरा सहयोग दिया।
मौली को मां के मार्गदर्शन से मिली सफलता
आजाद वार्ड निवासी निर्मला गल्र्स हायर सेकंडरी स्कूल की छात्रा मौली उपाध्याय ने कॉमर्स ग्रुप में जिला स्तर पर दूसरा स्थान प्राप्त किया है। मौली ने 92 प्रतिशत प्राप्त किए हैं। मानसी ने बताया कि पढ़ाई में हमेशा उनकी मां मार्गदर्शन करती हैं। वे रोजाना 4-5 घंटे पढ़ाई करती हैं, लेकिन परीक्षा करीब आने पर प्रतिदिन 6 से 7 घंटे पढ़ाई कर रही थी। 10 वीं में भी उन्होंने 85 प्रतिशत के साथ परीक्षा उत्तीर्ण की थी। मानसी का कहना है कि वे आगे किसी बड़ी कंपनी में काम करना चाहती हैं।
रिमझिम ने 10 वीं में हासिल किया 93 प्रतिशत
भारत ज्योति उच्चतर माध्यमिक विद्यालय लालीपुर में अध्ययनरत छात्रा रिमझिम भाण्डे ने दसवीं बोर्ड परीक्षा में अंग्रेजी माध्यम से 93 प्रतिशत अंक हासिल कर स्कूल एवं अपने परिवार व समाज का नाम गौरवान्वित किया है। रिमझिम निवासी आरडी कॉलेज के पीछे बड़ी खैरी गन्नू लाल भांडे शिक्षक व माता लक्ष्मी भाण्डे की सुपुत्री हैं। खुशी ठाकुर पिता बाल सिंह ठाकुर एमपी बोर्ड कक्षा बारहवीं में कृषि संकाय से 80.4 प्रतिशत अंक हासिल करते हुए जिला मंडला लोधी समाज का गौरव बढ़ाया है। बाल सिंह ठाकुर आलोक शिक्षा का कार्य देखते हुए वन विभाग में कार्यरत हैं।
कक्षा-दसवीं के परिणाम में सरस्वती शिशु विद्या मंदिर बम्हनी के तन्मय चौरसिया ने 97.4 प्रतिशत अंक लाकर मध्यप्रदेश की प्रवीण्य सूची में 10वां स्थान प्राप्त किया है।
Illuminated the name of the district with hard work and dedication
हाई स्कूल ग्वारा का परीक्षा परिणाम घोषित किया गया। कक्षा 10 में अध्यनरत रहे कुल 59 में से 48 छात्र-छात्राएं उत्तीर्ण हुए। 10 अनुत्तीर्ण और 1 को पूरक मिली है। सभी उत्तीर्ण विधार्थियों को स्कूल स्टॉफ की ओर से बधाई दी गई। शिवांशु जंघेला ने 90.4 प्रतिशत, प्रियांशु जंघेला ने 85.2 प्रतिशत और पार्वती नंदा 83.4 प्रतिशत अंकों के साथ प्रथम स्थान प्राप्त किया है।
प्रेक्षा राजपूत ने 97.4 प्रतिशत अंक
पिंडरई. प्रमोद सिंह राजपूत की पुत्री प्रेक्षा राजपूत ने भारत ज्योति इंग्लिश मीडियम स्कूल नैनपुर में कक्षा दसवीं में 97.4 प्रतिशत अंक प्राप्त कर प्रदेश स्तर की सूची में दसवां स्थान प्राप्त किया और यह विजय सिंह राजपूत शिक्षक और विनोद सिंह राजपूत शिक्षक की भतीजी है। इनके सुयश पर पिंडरई के ग्रामवासियों ने भी सुधीर सेन, सेवाराम राजपूत शिक्षक, समाजसेवी प्रजय जैन, अतुल पटेल और समस्त शिक्षक जगत, शुभचिंतकों ने प्रेक्षा को और उन के पूरे परिवार को बधाईयां प्रेषित की।
आईएएस बनना चाहती है प्रावीण्य सूची में आठवां स्थान पाने वाली सुहानी
निवास. आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र निवास के सरस्वती हाईस्कूल में पढऩे वाली छात्रा सुहानी दुबे ने 489 अंक प्राप्त कर प्रदेश की प्रवीण सूची में आठवां स्थान हासिल किया। सुहानी शुरुआत से ही पढ़ाई में अव्वल रही हैं। पढ़ाई के अलावा खेलकूद में भी उनकी विशेष रूचि है। सुहानी ने बताया उसका अपने दादा दादी के प्रति विशेष लगाव था। दादा और दादी की इच्छा थी कि वह पढ़ लिख कर कलेक्टर बने। छात्रा ने कहा, दादा दादी की इच्छाओं को पूरा करना ही उसका मुख्य उद्देश्य है। इसकी तैयारी में अभी से शुरू कर देगी। सुहानी ने बताया मैं रोजाना 8 से 10 घंटे पढ़ाई करती थी। कभी कोई क्लास मिस हो जाए तो तनाव नहीं लेती थी। रोजाना स्टडी के लिए एक टाइम टेबल बना रखा था। उसी आधार पर प्रतिदिन पढ़ाई करती थी। इसके लिए वह प्रतिदिन सुबह 5 बजे उठती थी। गणित और अंग्रेजी विषय के अध्ययन के लिए कोचिंग क्लासेज भी ज्वाइन किया था। सुहानी की पढ़ाई के अलावा खेलकूद में भी विशेष रूचि है बैडमिंटन प्रिय खेल है। जब भी समय मिलता है बैडमिंटन खेलती हैं। जैसे ही परीक्षा का परिणाम घोषित हुआ सुहानी के घर लोगों का बधाई देने वालों का ताता लग गया और सुहानी का लोगों ने तिलक वंदन कर मुंह मीठा कराया और खुशी जाहिर की इसी दौरान सुहानी ने अपनी इस सफलता का श्रेय अपने पिता विनोद दुबे, मां कविता दुबे, चाचा सुनील दुबे और गुरुजनों प्राचार्य पं सुलक्षण धर, सुमित सोनी, बलराम यादव, नरेश ठाकुर, सुनीता सोनी को दिया है।

26 से 30 प्रतिशत परीक्षा में इजाफा
जिले में इस बार कक्षा 10 वीं का बोर्ड परीक्षा परिणाम में प्रदेश स्तर पर मंडला जिले का स्थान पंाचवा रहा। हाईस्कूल बोर्ड परीक्षा में 77.84 प्रतिशत आने पर छठवीं रैंक तथा हायर सैकेण्डरी बोर्ड परीक्षा में 84.78 प्रतिशत आने पर पांचवी रैंक प्राप्त हुई है। पिछले साल 2021 में कोरोना महामारी के चलते 10 वीं एवं 12 वीं का परीक्षा परिणाम शत-प्रतिशत दिया गया था। वहीं वर्ष 2020 में कक्षा दसवीं का परिणाम 51.66 प्रतिशत तथा हायर सैकेण्डरी का परीक्षा परिणाम 54.97 प्रतिशत रहा था। परीक्षा प्रभारी महेन्द्र श्रीवास ने बताया कि इस बार जिले में हाईस्कूल की परीक्षा में 16382 छात्र-छात्राएं शामिल हुए थे जिसमें 5904 छात्र और छात्राएं उत्तीर्ण हुए हैं प्रथम श्रेणी में 6495, द्वितीय श्रेणी 793, तृतीय श्रेणी 164, पूरक 1163 और 1355 छात्र और 1111 छात्राएं अनुर्तीर्ण हुए हैं। इसी तरह हायर सेकंडरी परीक्षा में 8948 छात्र-छात्राएं शामिल हुए, जिसमें 3480 छात्र और 4104 छात्राएं उत्तीर्ण हुए हैं। प्रथम श्रेणी 5291, द्वितीय श्रेणी में 2289, तृतीय श्रेणी में 4, 951 को पूरक और 410 छात्र-छात्राएं अनुत्तीर्ण हुए हैं। कलेक्टर हर्षिका सिंह द्वारा हाईस्कूल एवं हायर सेकंडरी बोर्ड परीक्षा में उत्र्तीण हुए परीक्षार्थी एवं राज्य स्तरीय तथा जिला स्तरीय प्रावीण्य सूची में स्थान प्राप्त करने वाले समस्त विद्यार्थियों को भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी गई। बोर्ड परीक्षाओं में अपेक्षित परिणाम प्राप्त नहीं करने वाले एवं अनुर्तीर्ण हुये विद्यार्थी निराश न हों रूक जाना नहीं योजना के तहत परीक्षा देने का अवसर फिर से मिलेगा।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

17 जनवरी 2023 तक 4 राशियों पर रहेगी 'शनि' की कृपा दृष्टि, जानें क्या मिलेगा लाभज्योतिष अनुसार घर में इस यंत्र को लगाने से व्यापार-नौकरी में जबरदस्त तरक्की मिलने की है मान्यतासूर्य-मंगल बैक-टू-बैक बदलेंगे राशि, जानें किन राशि वालों की होगी चांदी ही चांदीससुराल को स्वर्ग बनाकर रखती हैं इन 3 नाम वाली लड़कियां, मां लक्ष्मी का मानी जाती हैं रूपबंद हो गए 1, 2, 5 और 10 रुपए के सिक्के, लोग परेशान, अब क्या करें'दिलजले' के लिए अजय देवगन नहीं ये थे पहली पसंद, एक्टर ने दाढ़ी कटवाने की शर्त पर छोड़ी थी फिल्ममेष से मीन तक ये 4 राशियां होती हैं सबसे भाग्यशाली, जानें इनके बारे में खास बातेंरत्न ज्योतिष: इस लग्न या राशि के लोगों के लिए वरदान साबित होता है मोती रत्न, चमक उठती है किस्मत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.