पत्रिका हमदर्द: विधायक-व्यापारी बने हमदर्द के साथी

जरुरतमंदों को सभी मिलकर बांटेंगे कंबल

By: Rajkumar yadav

Published: 10 Nov 2017, 11:21 AM IST

मंडला। जैसे जैसे सर्द रातों की ठिठुरन बढ़ती जा रही है, खुले आसमान के नीचे, कहीं मंदिरों-घाटों की सीढिय़ों, दुकानों के शेड के नीचे, किसी दीवार की ओट का सहारा लेकर रात बिताने वालों की परेशानियां भी बढ़ती जा रही है। ठंड में सिर्फ आसमान से ही ठंड नहीं बरसती, बल्कि फर्श भी बर्फ के समान ठंडा हो जाता है। चारों ओर से आने वाली ठंडी हवा भी रात में तेज हो जाती है। इन सबके बावजूद निराश्रित इन सभी को झेलते हुए नींद के आगोश में देखे जा रहे हंैं। इन की तकलीफ को कुछ हद तक कम किया जा सके। इसके लिए पत्रिका द्वारा हमदर्द अभियान शुरु किया गया है। निराश्रितों की पीड़ा को कम करने ऐसे अनेक शहरवासी सामने आ रहे हैं जो पत्रिका-हमदर्द अभियान का हिस्सा बनना चाहते हैं। इनमें सिर्फ जनप्रतिनिधि ही नहीं, व्यापारी, चिकित्सक, प्राध्यापक जैसे समाज के प्रबुद्ध वर्ग सामने आ रहे हैं। सभी ने खुले में रात बिताने वालों को कंबल वितरण करने का निर्णय लिया हैं।
हमदर्द अभियान में शामिल होने वालों में मंडला विधायक संजीव उइके, पूर्व बिछिया विधायक नारायण सिंह पट्टा, कांग्रेस जिलाध्यक्ष संजय सिंह परिहार, डॉ एसपी मंडल, त्रिवेणी शोरूम के संचालक प्रशांत अग्रवाल, खदान संचालक विभोर अग्रवाल, शुभा मोटर्स के संचालक संजय तिवारी, नाइस इंस्टीट्यूट के डायरेक्टर अजय खोत, कलेक्ट्रेट के राकेश गुप्ता, आरडी कॉलेज की प्राध्यापक रमा गुप्ता आदि शामिल हैं।
पत्रिका द्वारा शुरु की गई यह पहल बेहद प्रशंसनीय है। मैं एक जागरुक जिलेवासी के नाते सभी जिलेवासियों से अपील करता हूं कि इस अभियान में शामिल हों।
संजीव उइके, विधायक, मंडला।
पत्रिका के हमदर्द अभियान से जुडऩा मेरे लिए खुशी की बात है। समाज के निचले तबकों के लिए हम सभी की जिम्मेदारी याद दिलाने में पत्रिका एक बार फिर आगे निकल गया।
नारायण सिंह पट्टा, पूर्व विधायक, बिछिया।
खुले आसमान के नीचे सर्द रातें बिताने की बात सोचकर भी मन सिहर उठता है। पत्रिका का हमदर्द अभियान वाकई अच्छी पहल है।
प्रशांत अग्रवाल, संचालक, त्रिवेणी शोरूम।
कम ही लोग होते हैं जो समाज से निष्कासित लोगों के बारे में सोचते हैं। पत्रिका उनमें से एक है। विभोर अग्रवाल, खदान संचालक।

Rajkumar yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned