scriptMoisture in the air increased the risk of disease in pulses | हवा में नमी ने दलहनी फसलों में बढ़ाया रोग का खतरा | Patrika News

हवा में नमी ने दलहनी फसलों में बढ़ाया रोग का खतरा

बादलों से दलहनी फसल में कीट का प्रकोप

मंडला

Updated: January 15, 2022 02:26:52 pm

मंडला. खराब मौसम के चलते किसानो के सामने दलहनी फसल को सुरक्षित रखने की समस्या उत्पन्न हो गई है। पिछले 10 दिनो से बारिश और बादल की असर बने हुए हैं। शुक्रवार को भी आसमान में बादल छाए रहे। न्यूनतम तापमान 11 डिसे रहा वहीं अद्रता 92 प्रतिशत दर्ज की गई। पिछले दिनो जिले के कई क्षेत्र में ओला वृष्टि एवं बारिश हुई है। इसके कारण किसानों की फसल को काफी नुकसान हुआ है। इसके अलावा मौसम में हो रहे परिवर्तन के चलते रबी की विभिन्न फसलों पर कीट एवं रोग लगने की सम्भावना है। हवा में अधिक नमी के कारण उद्यानिकी फसलों में भी रोग का खतरा बढ़ गया है। कृषि वैज्ञानिक विशाल मेश्राम के अनुसार रबी मौसम में अनाज, दलहन तथा तिलहन की फसलों पर विभिन्न प्रकार के रोग तथा कीट आने की संभावना व्यक्त की जा रही है। इस कारण किसान खेतों की फसल की लगातार निगरानी करते रहें। अगर किसी भी फसल पर कीट या रोग का प्रकोप होता है तो मौसम खुलने के बाद रासायनिक दवा के छिड़काव से समाधान करें। कृषि विज्ञान केन्द्र से भी रोग के अनुसार दवा की सलाह ली जा सकती है। पिछले एक सप्ताह से रुक-रुक कर बारिश हो रही है। इस बारिश से गेहूं की फसल को फायदा है जबकि खेतों में नमी होने के कारण चना में इल्ली का प्रकोप बढ़ा है और तुअर का तना गलने लगा है। जिले में करीब एक लाख 68 हजार हेक्टेयर में रबी सीजन की बोवनी की गई है। गेहूं की 48 हेक्टेयर बोवनी हुई है। सर्वाधिक रकबा गेहूं का होने के कारण इस बार सिंचाई के लिए पानी की उपलब्धता के कारण अच्छी पैदावार होने की उम्मीद है। कहीं-कहीं ओले गिरने से फसलों को नुकसान हो रहा है।

इनका कहना

हवा में नमी ने दलहनी फसलों में बढ़ाया रोग का खतरा
हवा में नमी ने दलहनी फसलों में बढ़ाया रोग का खतरा

बारिश व ठंड से सब्जियों की फसल को नुकसान की आशंका है। किसानों को सब्जियों की फसल को लेकर सतर्क रहने को कहा है। गलन और पाले से टमाटर, बैंगन, मिर्च, गोभी जैसी सब्जी की फसल को नुकसान हो सकता है। पौधे खराब होने के लक्षण दिखने पर बारिश बंद होने के बाद दवा का छिड़काव करें।
विशाल मेश्राम, कृषि वैज्ञानिक, कृषि विज्ञान केन्द्र तिंदनी

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

Azadi Ka Amrit Mahotsav में बोले पीएम मोदी- ये ज्ञान, शोध और इनोवेशन का वक्तपाकिस्तान के लाहौर में जोरदार बम धमाका, तीन की नौत, कई घायलNEET UG PG Counselling 2021: सुप्रीम कोर्ट ने कहा- नीट में OBC आरक्षण देने का फैसला सही, सामाजिक न्‍याय के लिए आरक्षण जरूरीटोंगा ज्वालामुखी विस्फोट का भारत पर भी पड़ सकता है प्रभाव! जानिए सबसे पहले कहां दिखा असरCorona cases in India: कोरोना ने तोड़ा 8 महीने का रिकॉर्ड; 24 घंटे में 3 लाख से ज्यादा कोरोना के नए केस, मौत का आंकड़ा 450 के पार23 को एमपीपीएससी की परीक्षा, पसोपेश में कोरोना संक्रमित अभ्यर्थीUP Election 2022 : SP-RLD गठबंधन को लगा तगड़ा झटका, अवतार सिंह भड़ाना नहीं लड़ेंगे चुनावजिला निष्पादक समीक्षा समिति की बैठक आयोजित
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.