अब मंडला-छत्तीसगढ़ सीमा पर रहेगी नजर

कोरोना के बढ़ते संक्रमण के कारण बढ़ाई सख्ती

By: Mangal Singh Thakur

Published: 17 Apr 2021, 02:46 PM IST

मंडला. जिले में कोरोना संक्रमण का कहर बढ़ता जा रहा है। इसकी एक वजह यह भी है कि जिले में चारों दिशाओं से प्रवासी मजदूर प्रवेश कर रहे हैं। चाहे मंडला-जबलपुर रूट हो या मंडला-सिवनी रूट, मंडला-रायपुर रूट हो या मंडला-डिंडोरी रूट। प्रदेश के पड़ोसी राज्य छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण अपने भयावह रूप लेने और छग सीमा से जिले में अधिक मात्रा में प्रवासियों के प्रवेश के कारण अब जिला प्रशासन नींद से जागा है। गौरतलब है कि जिले का दूरस्थ अंचल मवई विकासखंड छग सीमा से मिलता है। इसके साथ ही बिछिया विकासखंड का एक छोर भी मवई की सीमा से मिलता है। पिछले एक पखवाड़े में इन दोनों ही विकासखंडों में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में जबर्दस्त बढ़ोत्तरी हुई है।
यही कारण है कि अनुविभागीय दंडाधिकारी-बिछिया द्वारा मजिस्ट्रेट जिला मंडला के निर्देश अनुसार जनपद पंचायत मवई व तहसील बिछिया छत्तीसगढ़ राज्य से आने वाले यात्रियों, व्यक्तियों , वाहनों की जांच के लिए छत्तीसगढ़ की सीमा पर चेकपोस्ट स्थापित किया गया है। यह चेकपोस्ट तहसील बिछिया के मोती नाला थाना एवं क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम - मंगली, मोती नाला में स्थापित किया गया है। ताकि क्षेत्र में प्रवेश करने वाले प्रत्येक व्यक्ति की जानकारी संधारित की जा सके।

Mangal Singh Thakur
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned