छेड़छाड़ के आरोपी को एक वर्ष का सश्रम कारावास

न्यायिक दंडाधिकारी ने सुनाया फैसला

By: amaresh singh

Published: 29 Mar 2019, 01:17 PM IST

मंडला। छेडख़ानी का आरोप सिद्ध होने पर प्रथम श्रेणी न्यायिक दंडाधिकारी द्वारा आरोपी को एक वर्ष के सश्रम कारावास की सजा दी गई है। उक्त प्रकरण़ के संबंध में ऋतु राज कुमरे, सहायक जिला अभियोजन अधिकारी ने बताया कि 24 अगस्त 2014 को प्रार्थीया ने थाना टिकरिया आकर के आरोपी बीरन सिंह के विरुद्ध प्रथम सूचना रिपोर्ट लिखाई थी। शिकायत में बताया गया कि जब वह टिकरिया में गाय चराने जंगल गई थी, तब दोपहर 12 बजे ग्राम तरवानी के बीरन सिंह ने आकर पीडि़ता को पीछे से पकड़ लिया और बुरी नीयत से उसके कपड़े अलग करने लगा और छेड़छाड़ की। पीडि़ता ने बहादुरी का परिचय देते हुए और खुद को बचाने के लिए शोर मचाया। इससे घबराकर आरोपी मौके से फरार हो गया।


आरोप सिद्ध, मिली सजा
थाना टिकरिया में प्रार्थिया की रिपोर्ट पर से आरोपी के विरुद्ध धारा 354 भारतीय दंड संहिता के तहत प्रथम सूचना रिपोर्ट लेकर विवेचना पूर्ण कर न्यायालय के समक्ष चालन प्रस्तुत किया गया। अभियोजन की ओर से प्रस्तुत साक्षी कथन व तथ्यों को संदेह से परे प्रमाणित पाकर प्रथम श्रेणी न्यायिक दंडाधिकारी अबदुल्लाह अहमद ने आरोपी को धारा 354 भारतीय दंड संहिता के तहत दोषी पाया और 1 वर्ष का सश्रम कारावास से दंडित किया। साथ ही 100 रुपए का अर्थदंड भी दिया।

amaresh singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned