यहां फूटी जलधारा फिर भी लोग प्यासे

जानिये क्या है वजह ?

By: shivmangal singh

Published: 24 May 2018, 11:03 AM IST

घुघरी- भूमिगत जल का जिस तरह से दोहन हो रहा हैं, उससे ये साबित होता जा रहा है की भूमिगत जल निरंतर घटता जा रहा हैं और ये एक चिंता का विषय हैं, लेकिन इस बात से थोड़ा हट कुछ गांव के हाल है जहां पानी तो पर्याप्त है लेकिन उने संरक्षण के लिए कोई पहल नहीं की जा रही है। गांव में पानी की समस्या दूर करने के लिए जब नलजल योजना के लिए बोर किया गया तो पानी की जल धार फूट पड़ी। जहां कई गांव के लोग पानी के लिए तरस रहे हैं वहीं बोर से पार्याप्त पानी निकलना लोगों के लिए बरदान से कम नहीं है।

 

मामला घुघरी विकासखंड के ग्राम पंचायत बम्हनी, देवहरा और ग्राम लोधा का है, ग्राम पंचायत बम्हनी देवहरा में पिछले 15 से 16 साल पुराना बोर है जो कि पीएचई द्वारा कराया गया था। लेकिन आज तक उस नल या बोर का संरक्षण नहीं किया गया।

 

वैसे तो ये बोर गांव में पाइप लगाकर नलजल सेवा देने के लिए कराया गया पर आज तक उसे ऐसा ही छोड़ दिया गया है। ग्रामीणों ने बताया कि इस बोर से निरतरं 24 घंटे पानी निकलता है। सभी गांव के लोग अपना संपूर्ण निस्तार इसी पानी से करते आ रहे हैं।

 

लेकिन स्थानीय प्रशासन व संबंधित विभाग ने इसे संरक्षित करने के लिए पहल नहीं की है। लोगों का कहना है कि पर्याप्त पानी निकलने के बाद भी विभाग उदासीन बना हुआ है। इसी तरह ग्राम लोधा में लगभग तीन माह पूर्व नलजल योजना के तहत गांव में पानी सप्लाई के लिए बोर किया गया था। बताया गया कि इसी तरह गांव में अब तक चार बोर किए गए हैं जिसमें से दो बोरों में से २४ घंटे निरंतर पानी निकल रहा है। बोर सफल होने के बाद भी अब तक गांव में नलजल योजना के तहत सप्लाई नहीं की गई है। जिससे जलसंकट से गुजरना पड़ रहा है।

People here still thirsty
shivmangal singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned