scriptRisk of infection, instructions to take masks and precautions, yet car | संक्रमण का खतरा, मास्क व सावधानी बरतने के निर्देश, फिर भी बेपरवाह लोग | Patrika News

संक्रमण का खतरा, मास्क व सावधानी बरतने के निर्देश, फिर भी बेपरवाह लोग

भूल गए मास्क लगाना, सोशल डिस्टेंस भी गायब

मंडला

Published: December 18, 2021 12:54:33 pm

संक्रमण का खतरा, मास्क व सावधानी बरतने के निर्देश, फिर भी बेपरवाह लोग
मंडला। कोरोना संक्रमण की पहली और दूसरी लहर का विकराल रूप देख चुके लोगों में खौफ का माहौल था। लोग न सिर्फ मास्क लगाते हुए नजर आए बल्कि सोशल डिस्टेंसिंग को लेकर भी गंभीर दिखे। जिले में अब धीरे-धीरे कोरोना का कहर खत्म होने लगा तो लोग संक्रमण का डर फिर से भूल गए। अब नए वैरियेंट ओमिक्रॉन का खतरा मंडरा रहा है। इसके साथ पुराने वैरियेंट के भी केस मिल रहे है। लेकिन कोविड से निपटने के लिए जिले में सख्ती नहीं बरती जा रही है। यहां बाजार, बैंक, यात्री वाहनों में संक्रमण के प्रति बेपरवाह दिख रहे है। कलेक्टर के निर्देशों का कहीं भी सख्ती से पालन नहीं किया जा रहा है। जिससे संक्रमण का खतरा बना हुआ है। जनवरी माह में तीसरी लहरी की आशंका जताई जा रही है। जिसे देखते हुए प्रशासन सख्ती बरतने के निर्देश दिए है, लेकिन कोविड प्रोटोकाल का पालन कहीं नजर नहीं आ रहा है।
जानकारी अनुसार संक्रमण के प्रति आमजनों के नजर अंदाज का नाराजा हम बाजार, यात्री वाहनों में बखूबी देख सकते है, जो संक्रमण के प्रति लोगों की लापरवाही की सच्चाई खुद बयां कर रही है। भले ही कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर आने की संभावना व्यक्त की जा रही है लेकिन जिले में लोग मास्क के नियम का कतई पालन नहीं कर रहे हैं। अधिकत्तर लोग बिना मास्क के ही शहर, गांव में घूमते नजर आ रहे हैं। यात्री वाहनों से लेकर बाजारों और प्रमुख चौराहों पर मास्क की अनदेखी हो रही है। शासन की गाईड लाईन के प्रति लोगों में लापरवाही साफ नजर आ रही है।
जानकारी अनुसार वैश्विक महामारी कोरोना की तीसरी लहर को लेकर सरकार तत्पर दिख रही है लेकिन आमजन लापरवाह हो गए हैं। यात्री वाहनों, बैंकों समेत अन्य संस्थानों व सार्वजनिक स्थलों पर बगैर मास्क लगाए शारीरिक दूरी की धज्जियां उड़ा रहे हैं। एक के ऊपर एक लदे लोग बसों में देखे जा रहे हैं। सैनिटाइजर का उपयोग तो जैसे लोग अब फिर से भूल ही गए हैं। ऐसे में तीसरी लहर आने पर परिणाम भयावह होने की संभावना दिख रही है।
संक्रमण का खतरा, मास्क व सावधानी बरतने के निर्देश, फिर भी बेपरवाह लोग
संक्रमण का खतरा, मास्क व सावधानी बरतने के निर्देश, फिर भी बेपरवाह लोग

अनदेखी - नेशनल हाइवे 30 में साप्ताहिक बाजार :
हादशे का बना रहता है अंदेशा
मंडला। जिले के नेशनल हाइवे 30 के किनारे स्थित गांवों में साप्ताहिक बाजार भरे जा रहे हैं। जहां जाम, दुर्घटना की हमेशा आशंका रहती है। सड़क के किनारे ही बाजार की दुकानें सजती हैं और ग्राहकों की भीड़ सड़क पर होती है। इधर सड़क पर लगातार भारी वाहनों का आवागमन लगा रहता है। ऐसी स्थिति में सड़क पर लग रहे बाजार में हर वक्त हादसे का खतरा बना रहता है।
बता दे कि हाइवे पर बाजार लगने के कारण बाजार वाले गांव में जाम की स्थिति भी निर्मित होती है। जिन जगहों पर बाजार लगता है, वहां वाहनों की कतार लग जाती है। कई बसें निर्धारित वक्त पर गंतव्य तक नहीं पहुंच सकती है। हाईवे में वाहनों की रफ्तार करीब 70 किमी प्रतिघंटा होती है। चारपहिया वाहनों की रफ्तार इससे भी ज्यादा है। रफ्तार वाली इन सड़कों पर भी मंडला से नारायणगंज के बीच ग्राम बबैहा में हाईवे की सड़क किनारे ही साप्ताहिक बाजार लग रहा है। जिले के अन्य और क्षेत्रों में भी मार्ग किनारे बाजार संचालित की जा रही है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Uttarakhand Election 2022: हरक सिंह रावत को लेकर कांग्रेस में विवाद, हरीश रावत ने आलाकमान के सामने जताया विरोधUP Election 2022 : अखिलेश के अन्न संकल्प के बाद भाकियू अध्‍यक्ष का यू टर्न, फिर किया सपा-रालोद गठबंधन के समर्थन का ऐलानभारत के कोरोना मामलों में आई गिरावट, पर डरा रहा पॉजिटिविटी रेटअरुणाचल प्रदेश में भूकंप के झटके, रिक्टर पैमाने पर 4.9 मापी गई तीव्रताभगवंत मान हो सकते हैं पंजाब में AAP के सीएम उम्मीदवार! केजरीवाल आज करेंगे घोषणाटैक्स बचाने के लिए यहां करें निवेश, खूब मिलेगा रिटर्नप्री-बोर्ड एग्जाम का शेड्यूल जारी, स्टूडेंट्स को इस काम के लिए जाना होगा स्कूलUP Police Recruitment 2022: 10 वीं पास युवाओं को सरकारी नौकरी का मौका, यूपी पुलिस ने निकाली भर्ती, 69,100 रुपये मिलेगी सैलरी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.