पलायन रोकने उठाए जाए कड़े कदम- आदिवासी महापंचायत

पलायन रोकने उठाए जाए कड़े कदम- आदिवासी महापंचायत

shivmangal singh | Publish: Jul, 13 2018 07:37:22 PM (IST) Mandla, Madhya Pradesh, India

जिला प्रशासन को सौंपा ज्ञापन

मंडला. (sawan singh)
जिले के ग्रामीण क्षेत्रों से हो रहे लगातार पलायन को देखते हुए आदिवासी महापंचायत, महाकौशल और गढ़ा मंडला के पदाधिकारियों ने जिला प्रशासन को ज्ञापन सौंपा है। जिला प्रशासन को सौंपे अपने ज्ञापन में आदिवासी महापंचायत, महाकौशल और गढ़ा मंडला के संरक्षक अशोक मर्सकाले ने बताया कि ग्राम स्तर से पढ़ाई, मजदूरी, नौकरी के बहाने पलायन के साथ प्रताडऩा के कई मामले में सामने आ रहे है। जिससे ग्रामीणों में भय का वातावरण है। जिला प्रशासन से मांग की कई है कि पलायन एक व्यापक समस्या है आदिवासी जिले के ग्रामीणों को लोग नौकरी, पेशा का लालच दिखाकर बड़े शहर ले जाते है जहां उन्हें प्रताडऩा दी जाती है और काम का सही दाम भी नहीं मिल पाता है। जिससे उसका जीवन नर्क के समान हो जाता है। उक्त समस्या पर विराम लगाने के लिए पंचायत स्तर पर व्यवस्था की जाए। जिससे ग्राम पंचायत को अपने गांव में आने जाने वाले लोगों की समस्त जानकारी हो। गांव से बाहर जाने वाले और गांव में आने वालों की समस्त जानकारी पंचायत के पास होना अत्यंत आवश्यक है जिससे इस प्रकार के पलायन और प्रताडऩा की घटना पर नियंत्रण किया जा सकता है। ज्ञापन में भोपाल की घटना का भी उल्लेख किया गया। इस दौरान प्रशासन से जिले में चिटफंड कंपनियों पर भी लगाम लगाने की मांग की गई। ज्ञापन सौंपने के दौरान डॉ अशोक मर्सकोले, पीएल वरकड़े, कमलेश तिलगम, इंद्रजीत भंडारी उइके, मनोज परते, तेज लाल धुर्वे, विष्णु प्रसाद उइके, हिरेन्द्र मसराम, जय परतेती, पवन नेती के साथ ही अन्य लोग उपस्थित रहे।

Ad Block is Banned