scriptThe picturesque places of the district will be buzzing in the new year | नववर्ष में गुलजार रहेंगे जिले के मनोरम स्थल | Patrika News

नववर्ष में गुलजार रहेंगे जिले के मनोरम स्थल

आप भी परिवार के साथ उठा सकते हैं पिकनिक का आनंद

मंडला

Updated: December 31, 2021 08:43:29 pm

मंडला. नव वर्ष के मौके पर जिले के सभी पिकनिक स्थल गुलजार होंगे। कोरोना संक्रमण से राहत के बाद नववर्ष के मौके पर थोड़ी स्वछंदता के साथ अपने दोस्त अथवा परिवार के सदस्यों के संग प्रकृति की गोद में बैठ पिकनिक का लुत्फ उठाएंगे। पिकनिक को लेकर लोगों ने अपने स्तर से सारी तैयारी कर ली है। वाहन, साउंड व लजीज व्यंजन की सामग्री जुटाई गई हैं। लोग नव वर्ष के मौके पर सुबह ही पिकनिक स्थल के लिए निकलेंगे। सबसे अधिक सैलानियों की भीड़ शहर से नजदीक नर्मदा तटों में रहेगी। रपटा घाट, कुंभ स्थल के साथ ही शहर से 5 किमी दूर सहस्त्रधारा में भीड़ उमड़ेगी। जिले में ऐसे अन्य स्थल भी हैं जहां लोग परिवार के साथ पिकनिक का आनंद उठा सकते हैं। जैसे घुघुआ फॉसिल राष्ट्रीय उद्यान, राष्ट्रीय उद्यान कान्हा, खैराकी, सहस्त्रधारा, गरम कुंड आदि जो प्राकृतिक दृष्टि से सुंदर है। इसके साथ ही यहां के जंगल और वन्य जीव जो पूरी दुनिया में मशहूर है।
नर्मदा किनारे गौड़कालीन इतिहास
नए साल का जश्न कोई दोस्तों के साथ तो कोई परिवार के साथ मनाएगा। इसके लिए जिले के कुछ पिकनिक स्पॉट हैं जहां पूरे दिन चहल पहल रहती है। सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस कर्मी भी तैनात रहेंगे। प्रकृति से मिले अनमोल तोहफे है जिले के दर्शनीय स्थल यहां आने से लोगो को सुकून मिलता है। तेज भागती जिंदगी के कुछ पलो को सहेजने के लिए लोग दर्शनीय स्थल का रूख करेंगे। 15 किलोमीटर दूर रामनगर का गौड़कालीन ऐतिहासिक किले के आसपास का क्षेत्र भी पिकनिक के लिए बेहतर स्पॉट है। रानी महल, मोतीमहल, रायभगत की कोठी जिले भर में प्रसिद्ध है। नर्मदा के किनारे बने महल के आसपास का सौंदर्य देखते ही बनता है। काला पहाड़, बम्हनी के समीप घुघरा गिदली जलप्रपात, मटियारी डेम, अजगर ददार, नैनपुर के समीप स्थित सिद्धघाट, देवनाला आदि स्थानों प्रकृति के खूबसूरत नजारे के बीच लोग अपने-अपने अंदाज में नए साल का स्वागत करेंगे। नारायणगंज चिरईडोंगरी के पास भी पिकनिक स्पॉट है जो नर्मदा नदी से लगा हुआ है। पर्यटन विभाग भी यहां विकास कार्य करा रहा है। जबलपुर बरगी डेम के कारण यहां नर्मदा में दूर-दूर तक पानी नजर आता है। जिससे लोग काफी आकर्षित होते हैं।
यहां भी हो सकती है मौज मस्ती
जिले के आसपास मौज मस्ती के लिए अनेको स्थान है लगभग दर्जन भर स्थल पिकनिक स्पॉट के रूप में अपनी पहचान बना चुके है। हनुमान घाट, सूरजकुंड, कुंभ स्थल आदि क्षेत्र युवाओं के लिए पिकनिक स्पॉट के रूप में पहली पसंद बनते जा रहे हैं। सुहाने मौसम और अवकाश के दिनों में यहां पिकनिक मनाने के लिए युवाओं की भीड़ देखी जा सकती है जिले के आसपास पिकनिक स्पोर्ट, युवा पीढ़ी के लिए इत्मीनान से वक्त गुजारने के केंद्र बन गए हैं सभी स्पॉट शहर से कुछ ही दूरी पर स्थित है।
गर्म पानी का कुंड, स्नान-पिकनिक दोनो
जिला मुख्यालय से 22 किलोमीटर दूर फूलसागर बबैहा के समीप स्थित गर्म पानी कुंड स्थल भी मौच मस्ती के लिए बेहतर जगह है। यहां के कुंड का पानी हमेशा गर्म रहता है। ठंड के मौसम में स्नान के साथ पिकनिक का मजा लेने के लिए लोग गर्म पानी कुंड पहुंचते हैं। नेशनल हाइवे से लगे होने के कारण अवागमन भी लोगों को किसी प्रकार की समस्या नहीं होती। इस कुंड में साल भर गर्म पानी रहता है। कुंड में नहाने से त्वचा संबंधी रोग दूर हो जाते हैंै। कुंड का पानी गंधकयुक्त है। जिसकी वजह से यह कुंड वर्ष भर गर्म रहता है। कुंड एक प्राकृतिक स्रोत है, इस कारण ठंड में यहां आने वालों की भीड़ लगातार बनी रहती है। इसके साथ ही नर्मदा तट व घने जंगल के कारण कुंड के आसपास का दृश्य अद्भुत नजर आता है।

भक्ति के साथ नववर्ष की शुरुआत
जिले से तीन किलोमीटर की दूरी पर स्थित सूर्यकुंड पिकनिक के लिए अच्छा स्थान है। धार्मिक स्थल होने के कारण श्रृद्धालुओं को आना-जाना बना रहता है। नर्मदा तट होने से लोगों को शांति भी मिलती है। सकवाह गांव के अंतर्गत सूर्यकुंड स्थल से लोगों की आस्था जुड़ी हुई है। यहां के निवासियों का कहना है कि सैकड़ों साल पहले यहां एक प्राचीन कुंड था, जिससे निरंतर साफ पानी निकलता रहता था। सूर्य देव ने यहां यज्ञ किया गया इसलिए इस कुंड को सूरज कुंड के नाम से जाना जाता है। जिले में 1926 में आई बाढ से इतना कापू जम गया कि यहां स्थित कुंड उसमें समा गया। जिसे खोजने का प्रयास कई बार ग्रामीणों ने किया लेकिन कापू के कारण कुंड विलुप्त हो गया। सुर्यकुंड का सौंदर्य देखने ही बनता है। यहां स्थित मंदिरों में स्थानीय निवासियों द्वारा धार्मिक आयोजन किए जाते है।
निवास से 7 किमी दूरी पर स्थित घूघरा जल प्रपात पर भी पर्यटक पिकनिक ओर यहां का प्राकृतिक नजारा देखेंगे। बताया गया कि यहां का प्रकृतिक नजारा देखने के लिए दूर-दूर से पर्यटक बड़ी संख्या में पहुंचते हैं। साथ ही निवास क्षेत्र के बस गड़ी, फड़की रैयत, बालपुर शिवनी, चकदेही नर्मदा तटों पर भीड़ देखी जाएगी।

नववर्ष में गुलजार रहेंगे जिले के मनोरम स्थल
नववर्ष में गुलजार रहेंगे जिले के मनोरम स्थल

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Subhash Chandra Bose Jayanti 2022: इंडिया गेट पर लगेगी नेताजी की भव्य प्रतिमा, पीएम करेंगे होलोग्राम का अनावरणAssembly Election 2022: चुनाव आयोग का फैसला, रैली-रोड शो पर जारी रहेगी पाबंदीगोवा में बीजेपी को एक और झटका, पूर्व सीएम लक्ष्मीकांत पारसेकर ने भी दिया इस्तीफाUP चुनाव में PM Modi से क्यों नाराज़ हो रहे हैं बिहार मुख्यमंत्री नितीश कुमारPunjab Election 2022: भगवंत मान का सीएम चन्नी को चैलेंज, दम है तो धुरी सीट से लड़ें चुनाव20 आईपीएस का तबादला, नवज्योति गोगोई बने जोधपुर पुलिस कमिश्नरइस ऑटो चालक के हुनर के फैन हुए आनंद महिंद्रा, Tweet कर कहा 'ये तो मैनेजमेंट का प्रोफेसर है'खुशखबरी: अलवर में नया सफारी रूट शुरु हुआ, पर्यटन को मिलेगा बढ़ावा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.